Raju Shrivastav की सेहत में हुआ सुधार, पत्नी ने बताया कैसी है हालत

कॉमेडियन राजू श्रीवास्तव (Raju Shrivastava) की हेल्थ को लेकर हाल ही में उनकी पत्नी शिखा श्रीवास्तव ने अपडेट दिया है।

नई दिल्ली, डेस्क रिपोर्ट। कॉमेडियन राजू श्रीवास्तव (Raju Shrivastav) को तबीयत खराब होने की वजह से पिछले 9 दिनों से एम्स में भर्ती किया हुआ है। राजू की सेहत को लेकर लगातार अपडेट आ रही है और फैंस अपने चहेते के ठीक होने की दुआ कर रहे हैं। कुछ समय पहले ही खबर आई थी कि राजू श्रीवास्तव का ब्रेन डेड हो गया है और रिस्पॉन्ड नहीं कर रहा है। अब राजू श्रीवास्तव की पत्नी शिखा ने उनकी हेल्थ के बारे में अपडेट दिया है।

शिखा श्रीवास्तव (Shikha Shrivastav) ने राजू के मुख्य सलाहकार अजीत सिन्हा के जरिए यह जानकारी दी है कि राजू की सेहत में कल की तुलना में आज सुधार हो रहा है। उन्होंने सभी से कहा है कि वह भगवान से प्रार्थना करें कि जल्द ही राजू ठीक हो जाएं। राजू श्रीवास्तव के परिवार की तरफ से आई यह खबर फैंस के लिए राहत भरी है।

खबरों के मुताबिक यह कहा जा रहा है कि कल राजू श्रीवास्तव (Raju Shrivastav) की हालत बिगड़ गई थी, लेकिन आज उनकी हालत में सुधार हुआ है। इस बात की जानकारी शिखा श्रीवास्तव ने खुद फोन करके अजीत सिन्हा को दी है। अजीत सिन्हा ने बताया कि भाभी ने मुझे यह कहा है कि कल की तुलना में आज राजू की सेहत में सुधार हुआ है और हम सब लोगों को यही प्रार्थना करनी है कि वह जल्द से जल्द ठीक हो जाए।

Must Read- छिंदवाड़ा में कार्यकर्ताओं पर भड़के केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह, कांग्रेस ने जमकर साधा निशाना

राजू श्रीवास्तव (Raju Shrivastav) की तबीयत को लेकर उनके दोस्त अशोक मिश्रा और मैनेजर राजेश शर्मा का कहना है कि राजू की तबीयत को लेकर जो भी अफवाहें मीडिया में फैलाई जा रही है, उससे परिवार काफी दुखी है। डॉक्टर्स लगातार राजू को रिकवर करने की कोशिश कर रहे हैं। फिलहाल कोई भी बुरी खबर नहीं है लेकिन कई चैनलों ने राजू के निधन की खबर चला दी है, जिसके चलते परिवार बहुत आहत है।

राजू श्रीवास्तव जल्द से जल्द रिकवर कर लें इसके लिए उनसे जुड़े लोग और फैंस लगातार दुआ मांग रहे हैं। कॉमेडियन के मैनेजर राजेश शर्मा ने इस बात की जानकारी दी है कि राजू के सारे अंग ठीक तरीके से काम कर रहे हैं और हालत पॉजिटिव दिखाई दे रही है। ब्रेन में सूजन थी, जो अब नहीं है, ब्रेन डेड नहीं हुआ है। मेडिकल ट्रीटमेंट चलते रहने से वह आगे और बेहतर हो जाएंगे।