इस तारीख से पहले कर्मचारियों के हाथ में आएगी मोटी रकम! समझे वेतन ग्रोथ और अपडेट

    7th Pay Commission

    भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। केंद्रीय कर्मचारी (central employees) और पेंशनभोगी (pensioners) काफी महीनों से महंगाई भत्ते (dearness allowance) और महंगाई राहत (dearness relief) में बढ़ोतरी का इंतजार कर रहे हैं। ताजा अपडेट के मुताबिक केंद्रीय कर्मचारियों को उनका बढ़ा हुआ महंगाई भत्ता (DA) और महंगाई राहत (DR) सितंबर 2021 से मिलेगी। खबरें ये भी हैं कि सितंबर से उनका महंगाई भत्ता (DA) 17 फीसदी से बढ़कर 31 फीसदी हो जाएगा।

    श्रम मंत्रालय (labor Ministry) ने मई 2021 के अखिल भारतीय उपभोक्ता मूल्य सूचकांक (Indian Consumer Price Index) के आंकड़े दिए हैं। इसमें मई 2021 के सूचकांक में 0.5 अंक की वृद्धि हुई है, जिससे यह 120.6 पर पहुंच गया है। श्रम मंत्रालय ने अभी तक जून के आंकड़े जारी नहीं किए हैं। 4% की DA बढ़ोतरी के लिए जून में यह आंकड़ा 130 को छूना चाहिए, लेकिन AICPI के लिए एक महीने में 10 पॉइंट की छलांग लगाना असंभव है और यही वजह है कि जुलाई में DA में 3% से अधिक बढ़ोतरी की संभावना नहीं है।

    एक रिपोर्ट के मुताबिक जनवरी 2021 और जुलाई 2021 के DA की घोषणा सितंबर में की जाएगी। इसलिए केंद्र सरकार के कर्मचारियों और पेंशनभोगियों को अभी दो महीने इंतजार करना होगा। रिपोर्ट में कहा गया है कि Section 1 के कर्मचारियों का DA बकाया 11,880 रुपये से 37,554 रुपये के बीच होगा।

    शिव गोपाल मिश्रा के अनुसार, Section 1 के कर्मचारियों का DA बकाया 11,880 रुपये से 37,554 रुपये तक होगा। उन्होंने कहा कि यदि मूल वेतनमान CPC लेवल-13 यानी 7वीं की गणना 1,23,100 रुपये से 2,15,900 रुपये या लेवल-14 के वेतनमान के लिए की जाती है, तो केंद्र सरकार के कर्मचारी का DA एरियर 1,44,200 और 2,18,200 रुपये के बीच होगा।

    Read Moreबढ़ती महंगाई पर जनता की परेशानी, मंत्री जी बोले- “परेशानी ही सुख का आनंद देती है”

    मासिक वेतन में कितनी वृद्धि होगी?

    महंगाई भत्ता बढ़ने के बाद केंद्रीय कर्मचारियों का मासिक वेतन कितना बढ़ेगा, इसका भी आंकलन किया जा रहा है। एक मीडिया रिपोर्ट में दावा किया गया है कि कर्मचारियों का मासिक वेतन 3000 रुपये से बढ़कर 30,000 रुपये हो जाएगा। जाहिर है कि डीए की बहाली के बाद मासिक वेतन बढ़ेगा और यह कर्मचारियों के वेतनमान पर निर्भर करेगा।

    रिपोर्ट्स के मुताबिक वित्त वर्ष 222 में केंद्र सरकार DA, DR ग्रोथ पर 30,000 करोड़ रुपये खर्च कर सकती है। राज्यों को भी इसी तरह से लगभग 60,000 करोड़ रुपये खर्च करने की उम्मीद है। केंद्रीय कर्मचारियों और पेंशनभोगियों का मूल वेतन 23,000 रुपये से लेकर अधिकतम 2.25 लाख रुपये तक है। सरकार त्योहारी सीजन से पहले DA, DR में बढ़ोतरी की उम्मीद कर रही है ताकि खपत भी बढ़े।

    रिपोर्ट के अनुसार DA, DR में वृद्धि को 1 जुलाई से प्रभावी माना जाएगा और 15 अक्टूबर से पहले DA-DR भुगतान किया जाएगा। इसमें दो माह का बकाया भी शामिल होगा। अगर ऐसा होता है तो त्योहार से पहले केंद्रीय कर्मचारियों के हाथ में मोटी रकम आ जाएगी।

    केंद्रीय कर्मचारी को सातवें वेतन आयोग के तहत 17 फीसदी महंगाई भत्ता मिलता है। जब DA बहाल हो जाएगा और आखिरी तीन किस्तें दी जाएंगी तो यह 28 फीसदी होगी। जनवरी 2020 में डीए में 4 फीसदी, दूसरी छमाही यानी जुलाई 2020 में 3 फीसदी और जनवरी 2021 में 4 फीसदी की बढ़ोतरी होगी। जिससे सितंबर से DA 31 प्रतिशत (17+4+3+4+3) मिलने की उम्मीद है।