दिवाली से पहले पेंशनरों को मिला बड़ा तोहफा, DR में 356 फीसद का इजाफा

DoPPW ने अपने आदेश में कहा है कि उनकी मूल अनुग्रह राशि को 01.07.2021 से 3l2% से बढ़ाकर मूल अनुग्रह राशि का 356% करने का हकदार होगा।

नई दिल्ली, डेस्क रिपोर्ट। केंद्र (center) की मोदी सरकार (Modi government) ने 7th pay commission पेंशनरों (pensioners) को बड़ी राहत दी है। दरअसल मोदी सरकार द्वारा रिटायर (retire) हुए अधिकारी के डीआर में बढ़ोतरी की गई है वहीं डीआर को 312% से बढ़ाकर 356 फीसद कर दिया गया है। इस मामले में डिपार्टमेंट ऑफ पेंशन और पेंशनर्स वेलफेयर ने बड़ी जानकारी दी है। केंद्र ने निर्णय लिया है कि 5वीं CPC के अनुसार अनुग्रह राशि प्राप्त करने वाले CPF लाभार्थियों को डीआर (DR) अनुदान में 01.07.2021 से वृद्धि की जाएगी।

20 सितंबर, 2021 को एक कार्यालय ज्ञापन में, पेंशन और पेंशनभोगी धन विभाग ने सरकारी कर्मचारियों की कुछ श्रेणी के लिए महंगाई राहत में बढ़ोतरी की सूचना दी। 18 नवंबर 1960 और 31 दिसंबर 1985 के बीच सेवा अवधि से सेवानिवृत्त होने वाले जीवित लाभार्थियों के लिए, महंगाई राहत या डीआर को मूल अनुग्रह राशि के 312% से बढ़ाकर 356% कर दिया गया है। बढ़ी हुई डीआर राहत 1 जुलाई, 2021 से प्रभावी होगी।

DoPPW ने अपने आदेश में कहा है कि जीवित सीपीएफ लाभार्थी (CPF Beneficiaries) जो 18.11.1960 से 31.12.1985 की अवधि के बीच सेवा से सेवानिवृत्त हुए हैं और 4 जून, 2013 के नियम के तहत समूह A, B के लिए 3000 रुपये, 1000 रुपये की दर से मूल अनुग्रह राशि के हकदार हैं। वहीँ C एंड Dके लिए 750 रुपये और 650 रुपये एक्स ग्रेसिया अमाउंट प्राप्त करते थे। अब उनकी मूल अनुग्रह राशि को 01.07.2021 से 3l2% से बढ़ाकर मूल अनुग्रह राशि का 356% करने का हकदार होगा।

Read More: MP News: आज दिल्ली रवाना होंगे CM Shivraj, केंद्रीय नेतृत्व सहित मंत्रियों से होगी मुलाकात

इसके अतिरिक्त, ज्ञापन के कार्यालय ने कहा कि सीपीएफ लाभार्थियों की विभिन्न श्रेणियां, जिनके डीआर को 01.07.2021 से मूल अनुग्रह राशि के 304% से बढ़ाकर 385% तक किया गया है, इनके हकदार में इन्हें शामिल किया गया हैं:

• मृतक सीपीएफ लाभार्थी की विधवाएं और पात्र बच्चे जो 1.1.1986 से पहले सेवा से सेवानिवृत्त हुए थे या जिनकी 1.1.1986 से पहले सेवा के दौरान मृत्यु हो गई थी और 04 जून 2013 से 645 रुपये प्रति माह पर संशोधित अनुग्रह राशि के हकदार हैं।

• केंद्र सरकार के कर्मचारी जो 18.11.1960 से पहले सीपीएफ लाभ पर सेवानिवृत्त हुए थे और 654, 659 रुपये, 703 रुपये और 965 रुपये की अनुग्रह राशि प्राप्त कर रहे हैं।

DoPPW ने आगे स्पष्ट किया है कि वृद्धि में अतिरिक्त किश्तों को 01.01.2020, O1.O7.2020 और 01.01.2021 तक घटा दिया है। बता दे जिंदा सीपीएफ बेनिफिशियरी को यह फायदा 1 जुलाई 2021 से दिया जाएगा। वहीं सीपीएफ लाभार्थी की 3 किस्ते अभी बकाया है जिसमें 1 जनवरी 2020 1 जुलाई 2020 और 1 जनवरी 2021 शामिल है।

बता दें कि इससे पहले मोदी सरकार ने कर्मचारियों के महंगाई भत्ते और महंगाई राहत मैं बड़ी राहत दी है जहां 1 जुलाई 2021 से इनके बेसिक पेंशन में इजाफा किया गया है वहीं कर्मचारियों के डीए को 17 फीसद से बढ़ाकर 28 फीसद कर दिया गया है। कर्मचारियों के डीए में बढ़ोतरी के साथ डीआर और एचआरए में भी बढ़ोत्तरी देखी गई है। वही माना जा रहा है कि जल्द ही इसमें 3 फ़ीसदी डीए और डीआर की बढ़ोतरी और की जा सकती है।