MP पंचायत-नगरीय निकाय चुनाव पर बड़ी अपडेट, राज्य निर्वाचन आयोग ने अधिकारियों को जारी किए महत्वपूर्ण निर्देश

नगरीय निकाय एवं पंचायत निर्वाचन के लिए बनाए गए स्थाई स्ट्रांग रूम में CCTV कैमरे लगाने के निर्देश पहले ही दिए जा चुके हैं।

भोपल, डेस्क रिपोर्ट मध्यप्रदेश नगरीय निकाय चुनाव (MP urban body elections) पर एक बार फिर से बड़ी अपडेट सामने है। दरअसल विकासखंड स्तर पर बनने वाले अस्थाई स्ट्रांग रूम (strong room) में सीसीटीवी कैमरे (CCTV Camera) लगाने के निर्देश दिए गए हैं। इसके अलावा राज्य निर्वाचन आयोग(state election commission)  द्वारा जनता को जागरूक करने उम्मीदवारों को जागरूक करने के उद्देश्य से जिंगल्स का प्रसारण किया जाएगा। इसके लिए निर्देश कलेक्टर जिला निर्वाचन अधिकारी को दिए गए हैं।

पंचायत निर्वाचन में जिन विकास खंडों में मतगणना की अनुमति दी गई है, वहाँ पर मतपेटी को रखने के लिए बनाए गए अस्थाई स्ट्रांग रूम में भी CCTV कैमरे लगाने के निर्देश राज्य निर्वाचन आयोग द्वारा दिए गए हैं। नगरीय निकाय एवं पंचायत निर्वाचन के लिए बनाए गए स्थाई स्ट्रांग रूम में CCTV कैमरे लगाने के निर्देश पहले ही दिए जा चुके हैं।

सचिव राज्य निर्वाचन आयोग राकेश सिंह ने सभी कलेक्टर एवं जिला निर्वाचन आधिकारियों को निर्देशित किया है कि नगरीय निकाय निर्वाचन में प्रतीकों के आवंटन में अन्य राज्यों में मान्यता प्राप्त दलों के अभ्यर्थियों को भी वर्गीकृत किया जाये। राज्यीय दल जो अन्य राज्य में मान्यता प्राप्त है, उनकी मान्यता के आधार पर उनके निर्वाचन प्रतीक सुरक्षित रखे गए हैं।

Read More : कर्मचारियों के पद और वेतन में वृद्धि को लेकर मंत्रालय ने जारी किया आदेश, मिलेगा लाभ

राकेश सिंह ने कहा है कि सभी जिलों को निर्वाचन सामग्री के साथ राष्ट्रीय दलों एवं अन्य राज्यों में मान्यता प्राप्त दलों के चुनाव चिन्हों का चार्ट उपलब्ध कराया गया है। प्रतीक आवंटन के लिए आईईएमएस में भी तदनुसार प्रावधान किया गया है।

मतदाताओं एवं अभ्यर्थियों को जागरूक करने के उद्देश्य से राज्य निर्वाचन आयोग द्वारा तैयार कराये गए जिंगल्स का प्रसारण नगरीय निकायों के वाहनों में लगे ध्वनि यंत्रों के माध्यम से कराने के निर्देश कलेक्टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारियों को दिये गए हैं। सचिव राज्य निर्वाचन आयोग राकेश सिंह ने कहा है कि सिनेमा घरों, नगरीय निकाय के फेसबुक पेज और व्हाट्सऐप ग्रुप में भी जिंगल्स प्रसारित किये जा सकते हैं।