1 जुलाई

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट।1 जुलाई से बैंक से लेकर लाइसेंस के नियमों में कई बड़े बदलाव होने जा रहे है। जहां एक जुलाई से स्टेट बैंक ऑफ इंडिया (SBI) 1 जुलाई 2021 से ATM से पैसे निकालने और चेक के जरिए लेनदेन करने पर नए सर्विस चार्ज का भुगतान करने जा रहा है, वही Driving License बनवाने के लिए आरटीओ के चक्कर नहीं काटने पड़ेंगे। वही यूपी और तेलंगाना में स्कूल (School) खुलने जा रहे है और LPG गैस सिलेंडरों के दामों में बदलाव होने जा रहा है। इसके अलावा चार धाम यात्रा शुरु और सरकारी कर्मचारियों की 7th Pay Commission के तहत महंगाई भत्ते में बढ़ोतरी होने की संभावना है।

यह भी पढ़े.. MP Weather Alert: मप्र के सभी संभागों में बारिश के आसार, जानें अपने जिले का हाल

यहां देखें 1 JULY से क्या क्या होने वाला है बदलाव

1 जुलाई से बदलेंगे एसबीआई के नियम

भारतीय स्टेट बैंक (SBI BANK) के ग्राहकों के लिए 1 जुलाई 2021 से कई नियम बदलने वाला है। नए नियम के लागू होने के बाद एटीएम से कैश विद्ड्रॉल (ATM Cash Withdrawal) और चेकबुक (Cheque Book) का इस्तेमाल आपकी जेब पर भारी पड़ेगा। नए चार्जेस बेसिक सेविंग अकाउंट डिपोजिट (BSBD) अकाउंड होल्डर्स के लिए लागू होंगे।BSBD खाताधारक को एक साल में 10 पेज की चेकबुक फ्री मिलती है। अब मुफ्त 10 पेज वाली के बाद चेकबुक के लिए 40 रुपए और GST देनी होगी। वहीं 25 पन्नों पर 75 रुपए प्लस GST लगेगी। जबकि इमरजेंसी चेक बुक के लिए 50 रुपए और GST वसूला जाएगा। सीनियर सिटीजन को इसमें छूट दी गई है।

बाइक-स्कूटर की कीमतों में होगा इजाफा

1 जुलाई से दुनिया की सबसे बड़ी ऑटोमोबाइल कंपनी Hero MotoCorp भी मोटरसाइकिल की कीमतों में बढ़ोतरी करने जा रही है। कंपनी ने 1 जुलाई से अपने सभी उत्पादों की कीमतों बढ़ाने जा रही है। हालांकि अभी यह नहीं बताया गया है कि कीमतों में कितनी बढ़ोतरी होगी लेकिन यह संभावना जताई जा रही है कि कीमतों में 3000 रुपए तक की बढ़ोत्तरी की जा सकती है। कीमतों में ये बढ़ोत्तरी कमोडिटी कीमतों में आई तेजी के कारण की जा रही है।

लागू होगा नया श्रम कानून

1 जुलाई से नया श्रम कानून (new labor law) लागू होने की संभावना है। इसके तहत इस सरकारी पोर्टल पर प्राइवेट नौकरी (Private jobs की पूरी जानकारी दी जाएगी।आप सरकारी प्लेटफॉर्म नेशनल करियर सर्विस पोर्टल (Government Platform National Career Service Portal)  पर जाकर प्राइवेट नौकरी से जुड़ी जानकारी ले सकते हैं। प्राइवेट सेक्टर की किस कंपनी में कितनी वैकेंसी है और उसके लिए क्या क्वालिफिकेशन की जरूरत है। ये सारी जानकारियां आपको NCS पोर्टल मिल जाएंगी। NCS के आने के बाद प्राइवेट नौकरी की तलाश में लोगों को अलग-अलग प्लेटफॉर्म पर नहीं भटकना पड़ेगा।

1 जुलाई से दोगुना देना होगा TDS

1 जुलाई से टीडीएस दुगुना वसूला जाएगा। अगर आपने अभी तक इनकम टैक्स रिटर्न(income tax return) दाखिल नहीं किया है तो जल्दी कर लें, नहीं तो एक जुलाई से दोगुना टीडीएस कटेगा। इसी वजह से आयकर विभाग ने इनकम टैक्स रिटर्न फाइल करने की तारीख 31 जुलाई से बढ़ाकर 30 सितंबर कर दिया है। इसके तहत इनकम टैक्स रिटर्न ना फाइल करने वालों पर आयकर विभाग ने सख्ती की तैयारी कर ली है।

एक जुलाई से बदला जाएगा इस बैंक का IFSC

सिंडिकेट बैंक का IFSC एक 1 July 2021 से डिसेबल कर दिया जाएगा। Syndicate Bank ने ग्राहकों से कहा है कि उनके ब्रांच का IFSC 30 जून के बाद बदल जाएगा। बता दें सिंडिकेट बैंक का मर्जर कैनरा बैंक में हुआ है। कैनरा बैंक ने कहा है कि SYNB से स्टार्ट होने वाले सभी IFSC कोड एक जुलाई से काम नहीं करेंगे।

1 जुलाई से लाइसेंस बनवाना होगा आसान

अब आपको ड्राइविंग लाइसेंस (Driving Licence) बनवाने के लिए आरटीओ के चक्कर नहीं लगाने पड़ेंगे।अब आप मान्यता प्राप्त ड्राइविंग स्कूल से वाहन चलाना सीखकर और टेस्ट देकर ही लाइंसेस प्राप्त कर सकते हैं। नए नियम एक जुलाई 2021 से लागू होंगे।इसके तहत ड्राइविंग ट्रेनिंग स्कूल(Driving Training School) में रजिस्ट्रेशन करवाना पड़ेगा और यहां पर ड्राइविंग टेस्ट (Driving Licence Test) पास करने के बाद आपको ड्राइविंग लाइसेंस जारी कर दिया जाएगा।

LPG  दामों में बदलाव

हर एक महीने की पहली तारीख को तेल कंपनियां गैस सिलेंडर का भाव तय करती हैं।तेल कंपनियां LPG rates की समीक्षा करती हैं और जरूरत के हिसाब से उसमें बदलाव करती हैं। तेल विपणन कंपनियां प्रत्येक माह की पहली तारीख को एलपीजी गैस का दाम तय करती हैं, तो पहली तारीख को यह देखना होगा कि तेल कंपनियां एलपीजी के दाम बढ़ाती हैं या घटाती हैं.

4 फीसदी तक बढ़ाया जा सकता है डीए

1 जुलाई से केंद्रिय कर्मचारियों को रुका हुआ डीए और डीआर मिलने की संभावना है।इसके तहत महंगाई भत्ता वर्तमान में 17 प्रतिशत है। जिससे 11 प्रतिशत तक बढ़ाया जा सकता है, जिससे कुल 28 प्रतिशत की वृद्धि हो जाएगी।ऑल इंडिया कंज्यूमर प्राइस इंडेक्स (AICPI) के अनुसार, जनवरी से जून 2021 के बीच कम से कम डीए 4 फीसदी तक बढ़ाया जा सकता है। इसमें जनवरी से जून 2020 तक डीए में 3 प्रतिशत की वृद्धि, जुलाई से दिसंबर 2020 तक 4 प्रतिशत की बढ़ोतरी और जनवरी से जून 2021 तक 4 प्रतिशत की वृद्धि शामिल है। यानी कुल महंगाई भत्ता गणना (17 + 4 + 3 +4) 28 प्रतिशत होगी।

यह भी पढ़े..यात्री कृपया ध्यान दें : मध्य प्रदेश में रविवार से फिर चलेंगी ये ट्रेनें, यहां देखें लिस्ट