MP Weather: 24 घंटे में एक्टिव होगा नया सिस्टम, 1 दर्जन जिलों में बारिश के आसार, जानें विभाग का पूर्वानुमान-शहरों की स्थिति

अगले 2 दिन में मानसून की गतिविधियां फिर सक्रिय होंगी और 4 अक्टूबर से बादल छाने के साथ अच्छी बारिश के संकेत है।

mp Weather,

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। बंगाल की खाड़ी में चक्रवातीय घेरा विकसित हो गया है जो 48 घंटों में मजबूत होकर आगे बढ़ेगा और 4 से 8 अक्टूबर के बीच मध्यम से तेज बारिश हो सकती है। 3 अक्टूबर को प्रदेश के पूर्वी हिस्से व 4 अक्टूबर को प्रदेश के सभी हिस्सों में गरज-चमक के साथ बौछारें पड़ने व बिजली गिरने होगी। एमपी मौसम विभाग (MP Meteorological Department) ने आज रविवार 2 अक्टूबर 2022 को 9 जिलों में बारिश की संभावना है।इधर, इंदौर से अक्टूबर माह में पहले सप्ताह में मानसून के विदा होने की संभावना जताई जा रही है।

यह भी पढ़े..खुशखबरी: लाखों कर्मचारियों को दशहरे से पहले मिलेगी सौगात, प्रस्ताव को मंजूरी, खाते में आएंगे 18000 रुपए

एमपी मौसम विभाग (MP Weather Report) ने आज रविवार 2 अक्टूबर को में गरज चमक के साथ बारिश की चेतावनी जारी की गई है। बंगाल की खाड़ी में बनने वाला नया सिस्टम ओडिशा और छत्तीसगढ़ के रास्ते प्रदेश में एंट्री लेगा और अगले 24 घंटों में रीवा-सतना से सक्रिय होकर 4 अक्टूबर राम नवमी से बारिश करवाएगा। 5, 6 और 7 अक्टूबर को प्रदेशभर में जमकर बारिश होगी।विभाग ने भोपाल-इंदौर समेत करीब 21 जिलों में हल्की से तेज बारिश का अलर्ट जारी किया है।मानसून की विदाई 15 अक्टूबर तक या उसके बाद होने की संभावना है।

एमपी मौसम विभाग (MP Weather Update) के अनुसार, वर्तमान में बंगाल की खाड़ी में च्रकवाती घेरा बन रहा हैं, जिसके प्रभाव से पूर्वी मप्र में 5 अक्टूबर को बारिश की गतिविधियों में एक बार फिर तेजी आएगी। इस दौरान पश्चिमी मप्र में बादल छाए रहने के साथ हल्की बूंदाबांदी की संभावना है। वर्तमान में बंगाल की खाड़ी में हवा के ऊपरी भाग में चक्रवात बनने के कारण नमी बढ़ने लगी है,आने वाले दिनों में जबलपुर सहित मध्य प्रदेश में कहीं कहीं हल्की बूंदाबांदी हो सकती है। 3 अक्टूबर को रीवा, सतना, सीधी और सिंगरौली में ही बारिश होगी।

यह भी पढ़े..UP Weather: सुपर चक्रवात ‘नोरु‘ का दिखेगा असर, 2 दिन बाद बदलेगा मौसम, इन जिलों में बारिश के आसार, जानें विभाग का पूर्वानुमान

एमपी मौसम विभाग (MP Weather Today) के अनुसार, उतरी इलाकों ग्वालियर-चंबल और बुंदेलखंड-बघेलखंड में कहीं-कहीं और पूर्वी मध्यप्रदेश यानी महाकौशल, बुंदेलखंड-बघेलखंड में 2 दिन कहीं-कहीं बारिश हो सकती है। अगले 24 घंटों के दौरान अलीराजपुर, बड़वानी और बालाघाट में कहीं-कहीं हल्की बूंदाबांदी हो सकती है।  अगले 2 दिन में मानसून की गतिविधियां फिर सक्रिय होंगी और 4 अक्टूबर से बादल छाने के साथ अच्छी बारिश के संकेत है। अभी बारिश की गतिविधियां 15 अक्टूबर तक चलने की संभावना है।

48 घंटे बाद शुरू होगा बारिश का दौर

एमपी मौसम विभाग (MP Weather Forecast ) के अनुसार, थाईलैंड के ऊपर बना चक्रवाती तूफान आज 2 अक्टूबर को बंगाल की खाड़ी में प्रवेश करेगा, जो 4 से 5 अक्टूबर तक मध्य भारत में पहुंचेगा। इसके असर से 3 अक्टूबर को प्रदेश के पूर्वी हिस्से व 4 अक्टूबर को प्रदेश के सभी हिस्सों में गरज-चमक के साथ बौछारे पड़ने व बिजली गिरने की संभावना है। 3 अक्टूबर को बुंदेलखंड, बघेलखंड और महाकौशल, उमरिया, अनूपपुर, शहडोल, डिंडोरी, कटनी, छिंदवाड़ा, जबलपुर, बालाघाट, नरसिंहपुर, सिवनी, मंडला, रीवा, सतना, सीधी, सिंगरोली, छतरपुर, सागर, पन्ना, निवाड़ी और दमोह बारिश हो सकती है। 3-4 अक्टूबर काे शहडाेल, रीवा, जबलपुर संभागाें के जिलाें में कहीं-कहीं अच्छी वर्षा हाे सकती है।

पिछले 24 घंटे का बारिश का रिकॉर्ड

मध्यप्रदेश के मालवा-निमाड़, धार, इंदौर, खरगोन, देवास, खंडवा, मंदसौर, उज्जैन, रतलाम, बड़वानी, विदिशा, नीमच और खंडवा में कहीं-कहीं हल्की बारिश हुई।मध्यप्रदेश में 1 जून से लेकर अब तक 48 इंच बारिश हो चुकी है। सामान्य 38 इंच से 23% ज्यादा बारिश हो चुकी है। प्रदेश के 32 जिलों में 40 इंच से ज्यादा बारिश रिकॉर्ड की गई है।

MP Weather: 24 घंटे में एक्टिव होगा नया सिस्टम, 1 दर्जन जिलों में बारिश के आसार, जानें विभाग का पूर्वानुमान-शहरों की स्थिति