MP Weather: मप्र के 41 जिलों से मानसून विदा, 14 के बाद फिर बारिश के आसार

यह मानसून के बाद की बारिश मानी जाएगी।वही दक्षिण राज्यों में बारिश का सिलसिला पूरे हफ्ते जारी रहने वाला है।

mp weather

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट।मध्यप्रदेश (MP Weather Today) के मौसम में तेजी से बदलाव हो रहा है, पिछले 48 घंटो में  ग्वालियर-चंबल समेत 3 दर्जन से ज्यादा जिलों से मानसून की विदाई हो चुकी है। पिछले पांच साल में यह दूसरा मौका है जब अक्टूबर में मानसून विदा हो रहा है। यही कारण है कि एमपी मौसम विभाग (MP Weather Department) ने आज रविवार 10 अक्टूबर 2021 को कहीं भी बारिश की संभावना नहीं जताई है।, सभी जिले शुष्क रहेंगे। हालांकि 14 से 17 अक्टूबर के बीच बारिश के आसार बन रहे है।

यह भी पढ़े.. 15 लाख कर्मचारियों को मिलेगा दिवाली का बोनस, अक्टूबर में बढ़कर मिलेगी सैलरी!

मौसम विभाग (MP Weather Forecast) की मानें तो बंगाल की खाड़ी में रविवार को एक कम दबाव का क्षेत्र बनने जा रहा है, जिसके चलते 14 से 17 अक्टूबर के बीच गरज चमक आंधी के साथ इंदौर, भोपाल संभागों के जिलों में कहीं-कहीं हल्की बारिश होने की संभावना है। इसके बाद भी वेदर सिस्टम बनते है तो बौछारें होती रहेंगी। यह मानसून के बाद की बारिश मानी जाएगी।वही दक्षिण राज्यों में बारिश का सिलसिला पूरे हफ्ते जारी रहने वाला है।

यह भी पढ़े.. Road accident : ट्रक-ट्रेलर में जोरदार भिंड़त से भड़की आग, ड्राइवर समेत 3 जिंदा जले, मौत

मौसम विभाग  के अनुसार (MP Weather Report) के अनुसार, शुक्रवार को गुजरात, मध्य प्रदेश, राजस्थान, पंजाब, हरियाणा, चंडीगढ़, दिल्ली, जम्मू-कश्मीर, लद्दाख, हिमाचल प्रदेश, उत्तराखंड के कई हिस्सों से मानसून की विदाई हो गई।वही कई राज्यों मे बारिश का दौर अब भी जारी है। अगले 4-5 दिनों के लिए गोवा, महाराष्ट्र, कर्नाटक और केरल में अलग-अलग स्थानों पर भारी बारिश की आशंका है। तटीय कर्नाटक, तटीय आंध्र प्रदेश, तमिलनाडु और पुडुचेरी में 10 अक्टूबर से 12 अक्टूबर के बीच बारिश हो सकती है।

इन जिलों से हुई मानसून वापसी

  1. 8 अक्टूबर को ग्वालियर, मुरैना, श्योपुर और नीमच से मानसून की विदाई हुई। विदा होने की सामान्य तारीख 30 सितंबर है। इस हिसाब से अबकी बार 8 दिन की देरी से मानसून ने वापसी की है।
  2. 9 अक्टूबर को भोपाल, सागर, रीवा और शहडोल संभाग के सभी जिलों से विदाई हो गई। वहीं भिंड, दतिया, शिवपुरी, अशोकनगर, गुना, मंदसौर, उज्जैन, रतलाम, झाबुआ, धार, इंदौर, आगर, देवास, शाजापुर, होशंगाबाद, नरसिंहपुर, जबलपुर, मंडला और डिंडोरी जिलों से भी वापसी हुई। यहां 4 दिन की देरी से मानसून ने विदाई ली है। अमूमन 5 अक्टूबर को मानसून की वापसी हो जाती है।

इन जिलों से जल्द होगी वापसी

  1. इंदौर संभाग के खरगोन, खंडवा, बड़वानी, बुरहानपुर और अलीराजपुर
  2. होशंगाबाद (नर्मदापुरम) संभाग के हरदा और बैतूल
  3. जबलपुर संभाग के छिंदवाड़ा, सिवनी, बालाघाट और कटनी

MP Weather: मप्र के 41 जिलों से मानसून विदा, 14 के बाद फिर बारिश के आसार