इस मूलांक के जातकों पर होती है मायावी ग्रह राहु की कृपा, बनते हैं बड़े राजनेता और अभिनेता

Numerology

Numerology: ज्योतिष में जिस तरह कुंडली के ग्रहों के आधार पर व्यक्ति के जीवन के बारे में पता लगाया जाता है। इस तरह से अंक शास्त्र में व्यक्ति की जन्म तिथि के अंकों के आधार पर फल प्राप्त किया जाता है। जन्मतिथि के जरिए कुछ अंकों की प्राप्ति होती है जो कुछ ग्रहों से जुड़े होते हैं और उसी के आधार पर व्यक्ति के जीवन को प्रभावित करते हैं।

अंक शास्त्र में 1 से 9 तक के अंकों का उल्लेख दिया गया है। यह सभी नौ ग्रहों का प्रतिनिधित्व करते हैं और जब भी किसी तिथि का जोड़ निकल जाएगा तो इनमें से ही एक अंक की प्राप्ति होती है। आज हम आपको उस मूलांक के जातकों की जानकारी देते हैं जिस पर राहु ग्रह की विशेष कृपा होती है। ये लोग अपने जीवन में आगे चलकर राजनेता या फिर अभिनेता बनते हैं।

मूलांक 4

जिन लोगों का जन्म महीने की 4, 13, 22 और 31 तारीख को हुआ है उनका मूलांक 4 कहलाता है। इस मूलांक का स्वामी ग्रह राहु होता है जो इन लोगों को कूटनीतिज्ञ बनाता है। अपने इसी स्वभाव के चलते यह लोग राजनीति या फिर अभिनय के क्षेत्र में जाते हैं। चलिए इनसे जुड़े कुछ खास बातें जानते हैं।

होते हैं राजनीतिज्ञ

जिन लोगों का मूलांक 4 होता है वह अपने जीवन में काफी सफलता हासिल करते हैं और कूटनीति गुणों के चलते राजनीति और अभिनय के क्षेत्र में अच्छी पहचान हासिल करते हैं। यह लोग क्रांतिकारी स्वभाव के होते हैं और हर विषय को गहराई से जानना पसंद करते हैं। इन्हें अपनी जिंदगी अपने हिसाब से जीना पसंद होती है और कई बार यह अपने कामों से लोगों को चौंका देते हैं। यह साहसी और व्यवहार कुशल होते हैं और लोगों के साथ रिश्ते भलीभांति निभाना जानते हैं।

अपने हिसाब जीते हैं जिंदगी

मूलांक 4 के जातकों का स्वभाव थोड़ा रहस्यमय होता है और यह रिसर्च के क्षेत्र में बेहतरीन नाम कमाते हैं। इन्हें खुलकर जिंदगी जीना पसंद होता है और यह दूसरों के हिसाब से जीने की जगह खुद के हिसाब से जिंदगी जीना पसंद करते हैं। खुद के साथ-साथ दूसरों को खुश रखना भी इन्हें अच्छा लगता है। ये स्वतंत्र विचारों के होते हैं और खुशमिजाज व्यक्तित्व इनकी पहचान होता है। इन्हें अच्छी तरह से पता होता है की किस व्यक्ति से कौन सा काम है किस तरह से निकालना है। इस बात को इनकी चतुरता भी कहा जा सकता है। इन लोगों में कभी-कभी आत्मविश्वास की कमी देखी जाती है। हालांकि, अगर यह किसी लक्ष्य के पीछे एक बार पड़ जाते हैं तो उसे पाकर ही दम लेते हैं।

Disclaimer- यहां दी गई सूचना सामान्य जानकारी के आधार पर बताई गई है। इनके सत्य और सटीक होने का दावा MP Breaking News नहीं करता।


About Author
Diksha Bhanupriy

Diksha Bhanupriy

"पत्रकारिता का मुख्य काम है, लोकहित की महत्वपूर्ण जानकारी जुटाना और उस जानकारी को संदर्भ के साथ इस तरह रखना कि हम उसका इस्तेमाल मनुष्य की स्थिति सुधारने में कर सकें।” इसी उद्देश्य के साथ मैं पिछले 10 वर्षों से पत्रकारिता के क्षेत्र में काम कर रही हूं। मुझे डिजिटल से लेकर इलेक्ट्रॉनिक मीडिया का अनुभव है। मैं कॉपी राइटिंग, वेब कॉन्टेंट राइटिंग करना जानती हूं। मेरे पसंदीदा विषय दैनिक अपडेट, मनोरंजन और जीवनशैली समेत अन्य विषयों से संबंधित है।

Other Latest News