Vaccine को लेकर PM Modi ने जनता से की खास अपील, MP के इन ग्रामीणों से कही बड़ी बात

21 जून को भारत ने अपनी नई टीकाकरण नीति की शुरुआत की गई है। जिसके तहत टीके केंद्रीय रूप से खरीदे जाएंगे और सरकारी केंद्रों पर मुफ्त में प्रशासित किए जाएंगे।

coronavirus

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (primeminister Narendra Modi) आज अपने रेडियो कार्यक्रम (radio program) मन की बात (Mann Ki Baat) के जरिए राष्ट्र को संबोधित कर रहे हैं। इस दौरान पीएम मोदी ने मध्य प्रदेश के बैतूल जिले के दुलारिया गांव के लोगों से बात की और उनकी शंकाओं के बीच उन्हें Corona वैक्सीन लेने की सलाह दी। मोदी ने ग्रामीणों को टीके के डर से छुटकारा पाने की बात कही।

पीएम मोदी ने देशवासियों को आगाह किया है कृपया Vaccine डर से छुटकारा पाएं। कभी-कभी लोगों को बुखार हो सकता है लेकिन यह बहुत हल्का होता है और केवल कुछ घंटों तक ही रहता है। Corona वैक्सीन ना लगाना बहुत खतरनाक हो सकता है। Vaccine नहीं लेकर आप न केवल खुद को बल्कि अपने परिवार और पूरे गांव को भी जोखिम में डाल रहे हैं। अफवाह फैलाने वाले इसे फैलाते रहेंगे लेकिन हमें जान बचानी है।

पीएम मोदी ने कहा कि इस भ्रम में न रहें कि Corona खत्म हो गया है, यह एक तरह की बीमारी है।  जिसमें वायरस अपना रूप बदलता रहता है। जिन्होंने टीके विकसित किए हैं, हमें अपने वैज्ञानिकों पर विश्वास होना चाहिए। क्या आप जानते हैं कि वैक्सीन विकसित करने के लिए हमारे वैज्ञानिकों ने कितनी मेहनत की है? प्रख्यात वैज्ञानिकों ने चौबीसों घंटे काम किया, इसलिए हमें विज्ञान, वैज्ञानिकों पर विश्वास करना चाहिए और अफवाह फैलाने वालों को समझाना चाहिए कि इतने लोगों ने वैक्सीन ले ली है और कुछ भी गलत नहीं हुआ है।

Read More: अगले साल के फरवरी तक इस रिकॉर्ड को छू लेंगे सीएम शिवराज, साबित होंगे मील का पत्थर!

पीएम मोदी (Prime minister Modi) ने कहा कि हम देशवासी कोरोना के खिलाफ जो लड़ाई लड़ रहे हैं, वह जारी है लेकिन इस लड़ाई में हमने मिलकर कई असाधारण मील के पत्थर हासिल किए हैं! अभी कुछ दिन पहले हमारे देश ने एक अभूतपूर्व उपलब्धि हासिल की। पीएम मोदी ने कहा कि भारत, सहित मध्य प्रदेश में में कई गांव हैं जो 100% टीकाकरण कर चुके हैं।

ओलिंपिक (olympic) पर भी कही बड़ी बात 

पीएम मोदी ने ओलिंपिक (olympic) पर भी बड़ी बात कही है। दिवंगत मिल्खा सिंह (milkha singh) को याद करते हुए पीएम Modi ने कहा कि ओलिंपिक की बात करें तो मिल्खा सिंह जी को हम कैसे याद नहीं कर सकते। जब वह अस्पताल में भर्ती थे, तो मुझे उनसे बात करने का मौका मिला, मैंने उनसे टोक्यो ओलंपिक (Tokyo olympic) के लिए जाने वाले एथलीटों को प्रेरित करने का अनुरोध किया था। टोक्यो जाने वाले प्रत्येक खिलाड़ी के पास संघर्ष का अपना हिस्सा होता है और वर्षों का परिश्रम होता है। वे सिर्फ अपने लिए नहीं देश के लिए जा रहे हैं। ऐसे कई नाम हैं, मैं उन सबको शुभकामनाएं देता हूँ।

प्रधान मंत्री ने शनिवार को Corona टीकाकरण की भी समीक्षा की थी और टीकाकरण अभियान की गति बढ़ाने पर जोर दिया था। उन्होंने अधिकारियों को यह सुनिश्चित करने का भी निर्देश दिया था कि परीक्षण की गति कम न हो क्योंकि यह महामारी के खिलाफ एक “महत्वपूर्ण हथियार” है।

Read More: MP School: अधर में इन स्कूलों का भविष्य, इंतजार में बच्चे पर अभिभावकों का इनकार

बीते दिनों कोरोना वैक्सीन पर बैठक करते हुए पीएम मोदी ने इस सप्ताह टीकाकरण की बढ़ती गति पर संतोष व्यक्त किया और जोर देकर कहा कि इस गति को आगे बढ़ाना महत्वपूर्ण है। 21 जून को भारत ने अपनी नई टीकाकरण नीति की शुरुआत की है। जिसके तहत टीके केंद्रीय रूप से खरीदे जाएंगे और सरकारी केंद्रों पर मुफ्त में प्रशासित किए जाएंगे। प्रधानमंत्री ने टीकाकरण के लिए लोगों तक पहुंचने के लिए नए तरीके तलाशने के लिए गैर सरकारी संगठनों और अन्य संगठनों को शामिल करने के निर्देश दिए हैं।