जबलपुर, संदीप कुमार। अखिल विद्यार्थी परिषद के दो गुट में आज उस समय भिड़ गए जब प्रांत संगठन मंत्री कार्यालय में बैठक लेने पहुंचे थे। इस दौरान एक गुट ने परिषद की गतिविधियों से नाराज होकर इस्तीफा सौंपना चाहा परंतु दूसरे गुट ने इसका विरोध किया। इसके बाद दोनों गुटों में झड़प हो गई। दोनों गुटों के बीच विवाद की सूचना मिलते ही वहां सीएसपी गोरखपुर आलोक शर्मा की अगुवाई में चार थाने का बल और तीन सीएसपी पहुंच गए। तब जाकर किसी तरह मामला शांत हुआ।

सीएसपी गोरखपुर के माध्यम से छात्रों ने अपना इस्तीफा सौंपा। अब ये गुट नया संगठन बनाने की तैयारी में है।अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद के महानगर महाविद्यालय प्रमुख अभिषेक पांडे की अगुवाई में 20 पदाधिकारी शाम बुधवार शाम 4 बजे के लगभग गुलौआ चौक में एबीवीपी के कार्यालय पहुंचे थे। वहां प्रांत संगठन मंत्री विपिन गुप्ता मौजूद थे। पर वे इस्तीफा नहीं ले रहे थे। इसी बात पर दोनों पक्षों में बहस हो गई।

Read More: कुंद्रा ऑफिस पर पुलिस की रेड, निशाने पर थी ये एक्ट्रेस, जल्द होगी Shilpa shettty से पूछताछ!

विपिन गुप्ता के साथ भी एबीवीपी के अन्य पदाधिकारी आ गए। दोनों पक्षों में तनातनी की सूचना मिलते ही पुलिस भी सक्रिय हो गई। मौके पर सीएसपी गोरखपुर आलोक शर्मा, सीएसपी गढ़ा तुषार सिंह, सीएसपी ओमती आरडी भारद्वाज भी पहुंच गए। इसके अलावा संजीवनी नगर, मदनमहल, लार्डगंज, गढ़ा थाने का बल भी पहुंच गया।

पुलिस के सामने ही दोनों गुट भिड़ गए पुलिस के सामने ही दोनों गुटों में झड़प हो गई। पुलिस से भी उनकी बहस हो गई। बाद में पुलिस ने दोनों गुटों को अलग किया। अभिषेक पांडे के साथ अमन तिवारी, तरुण तिवारी, देवांश दुबे, आकाश खरे, सिद्धार्थ नायक, नमन केशरवानी, लक्ष्य पचौरी, जतिन कनौजिया, समर्थ ठाकुर, ईश्प्रीत सिंह, अरविंद जायसवाल, आयुष ठाकुर, हिमांशू माहिरे, देवांश शर्मा, साहिल चौबे, सक्षम श्रीवास्तव, रौनक जैन, सारांश साहू, नमन खरे, अभिराज सिंह ने इस्तीफा सीएसपी गोरखपुर के माध्यम से प्रान्त संगठन मंत्री को अपना इस्तीफा सौंपा।