शिवराज सरकार की बडी तैयारी, 15 मई से सभी जिलों को मिलेगा लाभ, डिजिटलाइज मॉनिटरिंग सिस्टम भी लगेंगे

प्रत्येक ज़िले में महिलाओं की आत्म रक्षा से संबंधित खेलों के भी प्रशिक्षण शिविर आयोजित किए जाएँगे।

shivraj government
demo pic

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। मध्य प्रदेश की महिलाओं-युवाओं को लेकर शिवराज सरकार (MP Shivraj Government) की बड़ी तैयारी है।सरकार रविवार 15 मई से ज़िला एंव विकास खंड स्तर पर ग्रीष्मकालीन खेल प्रशिक्षण शिविर लगाने जा रही है।इस दौरान प्रदेश के सभी विकासखंड मुख्यालय में कम से कम दो खेल, छोटे जिला मुख्यालय पर चार खेल, बड़े ज़िला मुख्यालय पर आठ खेल तथा संभागीय मुख्यालय पर 15 खेलों के प्रशिक्षण शिविर लगाए जाएँगे।इधर, 12 करोड़ के खर्च से यूएनडीपी मध्य प्रदेश के 75 स्वास्थ्य केन्द्र में सोलर पेनल लगाएगा।

यह भी पढ़े… MP: लापरवाही पर बड़ा एक्शन- पटवारी समेत 3 निलंबित, 16 को नोटिस, 1 बर्खास्त, 1 की वेतन वृद्धि रोकी

संचालक खेल एवं युवा कल्याण रवि कुमार गुप्ता ने जानकारी दी है कि पूर्व वर्षों की तरह इस वर्ष भी जिला एवं विकास खंड स्तर पर ग्रीष्मकालीन खेल प्रशिक्षण शिविर का आयोजन किया जायेगा। इस वर्ष ग्रीष्मकालीन प्रशिक्षण शिविर 15 मई से 30 जून, 2022 तक लगाए जाएँगे। उन्होंने बताया कि प्रदेश के सभी विकासखंड मुख्यालय में कम से कम दो खेल, छोटे जिला मुख्यालय पर चार खेल, बड़े ज़िला मुख्यालय पर आठ खेल तथा संभागीय मुख्यालय पर 15 खेलों के प्रशिक्षण शिविर लगाए जाएँगे। प्रत्येक ज़िले में महिलाओं की आत्म रक्षा से संबंधित खेलों के भी प्रशिक्षण शिविर आयोजित किए जाएँगे।

वही 12 करोड़ के खर्च से यूएनडीपी मध्य प्रदेश के 75 स्वास्थ्य केन्द्र में सोलर पेनल लगाएगा।इसमें भारत के लिये निर्धारित लक्ष्य में से करीब 12 करोड़ रूपये मध्यप्रदेश के कार्यों के लिये निर्धारित किये गये हैं। इलेक्ट्रॉनिक व्हीकल प्रशिक्षण में 500 से 1000 तक युवा लाभान्वित होंगे।यूएनडीपी प्रदेश में 15 इलेक्ट्रिक व्हीकल चार्जिंग स्टेशन भी स्थापित करेगी, जिसमें से अधिकांश इंदौर में होंगे।

यह भी पढ़े.. MP के 4.75 लाख पेंशनरों पर बड़ी अपडेट, 31% DR Hike में देरी, हर महीने पेंशन में हो रहा 17000 तक नुकसान

पर्यावरण मंत्री हरदीप सिंह डंग को UNDP के प्रतिनिधि  श्रीनिवास ने बताया कि UNDP (संयुक्त राष्ट्र विकास कार्यक्रम) ने मध्य प्रदेश सहित भारत के 10 राज्य में सौर ऊर्जा और पर्यावरण-संरक्षण के कार्य करने का निर्णय लिया है। MP में संस्था 75 प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र को सौर ऊर्जाकृत करने के साथ डिजिटलाइज मॉनिटरिंग सिस्टम भी लगाएगी। ग्रामीण क्षेत्रों में 15 सोलर कोल्ड स्टोरेज और 50 सूक्ष्म एवं लघु उद्योग इकाई में एनर्जी ऑडिट करेगी।मंत्री डंग ने UNDP द्वारा ग्रीन ऊर्जा के क्षेत्र में मध्यप्रदेश में किये जाने वाले कार्यों की प्रशंसा करते हुए कहा कि वे अन्य ऐसी परियोजनाएँ भी मध्यप्रदेश में लाएँ, जो ग्लोबल वॉर्मिंग और जलवायु संतुलन की दिशा में काफी कारगर हों।