MP में जल्द शुरु होंगे नए कोर्सेस और 3 ITI, छात्रों-रोजगार को लेकर सीएम शिवराज के कई बड़े फैसले

सीएम  शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि  हमें ऐसे प्रयास करने चाहिए, जिससे हर विद्यालय एवं महाविद्यालय (MP College) में शिक्षा का अच्छा वातावरण बने।

सीएम शिवराज सिंह

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। 1 जुलाई से स्कूल (MP School) ना खोलने और 10वीं के आधार पर MP Board 12वीं का रिजल्ट तैयार करने के फैसले के बाद सीएम शिवराज सिंह चौहान का छात्रों और  रोजगार को लेकर बड़ा बयान सामने आया है।सीएम शिवराज ने कहा कि MP में वाइल्ड लाइफ तथा टूरिज्म (wildlife and tourism) पर कोर्सेज प्रारंभ किए जाएंगे। विद्यालयों में कृषि एवं उद्यानिकी के पाठ्यक्रम (Agriculture and Horticulture Course)  भी जोड़े जाएंगे। हर स्कूल में खेल मैदान बनाए जाएंगे।

यह भी पढ़े.. MP College Unlock: जुलाई में परीक्षा, अगस्त से इंजीनियरिंग की क्लासेस, UP-PG में भी मिलेगा एडमिशन

आज मंत्रालय में आत्म-निर्भर मध्य प्रदेश के अंतर्गत गठित मंत्री समूहों के प्रस्तुतिकरण के अंतर्गत शिक्षा समूह के प्रस्तुतिकरण पर चर्चा कर रहे  सीएम  शिवराज सिंह चौहान (CM Shivraj Singh Chouhan) ने कहा है कि सहरिया, बैगा और भारिया जनजाति के लिए उनके क्षेत्रों में 03 नए ITI बनाए जाएंगे। शिवपुरी में सहरिया के लिए, छिंदवाड़ा क्षेत्र में भारिया जनजाति तथा शहडोल, अनूपपुर क्षेत्र में बैगा जनजाति के लिए ITI बनाया जाएगा।

सीएम  शिवराज सिंह ने कहा है कि  हमें ऐसे प्रयास करने चाहिए, जिससे हर विद्यालय एवं महाविद्यालय (MP College) में शिक्षा का अच्छा वातावरण बने।  शिक्षा (Edaucation) का एक प्रमुख उद्देश्य यह होना चाहिए कि शिक्षा प्राप्ति के बाद विद्यार्थियों को रोजगार (Employment) सुनिश्चित हो जाए। इसके लिए रोजगारोन्मुखी शिक्षा एवं कौशल विकास पर विशेष ध्यान दिया जाये। इस समूह के अंतर्गत स्कूल शिक्षा (School Education Department) उच्च शिक्षा (Higher Education Department), तकनीकी शिक्षा तथा चिकित्सा शिक्षा विभागों का प्रस्तुतिकरण दिया गया।

यह भी पढ़े.. सीएम शिवराज सिंह की दो टूक- ऐसा नहीं किया तो अधिकारियों-कर्मचारियों पर होगी कार्रवाई

सीएम शिवराज सिंह ने कहा है कि  विद्यार्थियों को विभिन्न कौशलों में प्रशिक्षण के माध्यम से उद्योगों के लिए स्किल्ड मेन पावर तैयार किया जाए। संबंधित उद्योगों में उनको एप्रेंटिशिप भी कराई जाए। भोपाल (Bhopal) में बनाए जा रहे ग्लोबल स्किल पार्क में प्रशिक्षित हर विद्यार्थी को उसकी योग्यता के अनुरूप रोजगार दिलाया जाए।वही निर्देश दिए कि  मप्र नॉलेज कार्पोरेशन (MP Knowledge Corporation) की स्थापना का कार्य शीघ्र किया जाए।

MP में खुलेंगे 9200 स्कूल

सीएम  शिवराज सिंह ने कहा है कि MP के विभिन्न क्षेत्रों की भिन्न-भिन्न विशेषताएँ हैं। इन सभी स्थानीय विशेषताओं का ज्ञान वहाँ के विद्यार्थियों को दिया जाना चाहिए। स्थानीय उत्पादों आदि के संबंध में जानकारी एवं प्रशिक्षण विद्यार्थियों के लिए रोजगार के अवसर बढ़ाएगा।MP में 9200 CM RISE SCHOOL खोले जाने की केबिनेट (Cabinet Meeting) में स्वीकृति हो गई है, जिनकी स्थापना चरणबद्ध रूप से की जाएगी। प्रदेश में 01 लाख 09 हजार शिक्षकों की तथा 470 शिक्षक प्रशिक्षकों की नियुक्ति की जानी है।प्रदेश के सभी स्कूलों में प्रतिदिन झंडा वंदन तथा राष्ट्र गान जन-गण-मन अनिवार्य किए गए हैं।

सुना अपने बचपन का किस्सा

सीएम  शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि आज भी हमारे प्रदेश में बहुत से आदर्श शिक्षक हैं, जो विद्यार्थियों की प्रतिभाओं को अच्छी तरह निखारते हैं। अन्य शिक्षक भी उनसे प्रेरणा प्राप्त करें। मुझे याद है जब मैं अपने गाँव जैत में अध्ययन करता था, मेरे एक शिक्षक प्रति शनिवार सभी बच्चों को कक्षाओं के बाद स्व-प्रेरणा से रामायण पढ़ाते थे। वे मुझसे रामायण की चौपाइयाँ तथा उनका अर्थ बताने के लिए कहते थे। धीरे-धीरे मैं अच्छा बोलना सीख गया। मेरे वक्ता बनने का श्रेय उन्हीं शिक्षक को जाता है। मैं ऐसे सभी शिक्षकों को हृदय से नमन करता हूँ।

सीएम शिवराज सिंह ने बैठक में यह निर्देश भी दिए

  • प्रदेश में विद्यालयों एवं महाविद्यालयों के नवीन भवन बनाए जाने के साथ ही मौजूदा भवनों का निरंतर रख’रखाव किया जाए।
  • प्रदेश के 50 महाविद्यालयों को बहुविषयक बनाया जाएगा। प्रदेश में 150 नवीन दूरस्थ अध्ययन केन्द्र स्थापित किए जाएंगे। स्मार्ट क्लास रूम बनाए जा रहे हैं।
  • सभी मेडिकल कॉलेजेस में सीट्स बढ़ाई जाएं। पब्लिक-प्राइवेट पार्टनरशिप में नए मेडिकल कॉलेज खोले जाये।
  • मेडिकल कॉलेज इंदौर और भोपाल में 100-100 सीटें तथा रीवा में 50 सीटें बढ़ाई गई हैं।
  • प्रदेश के सभी संभागीय मुख्यालयों पर राष्ट्रीय स्तर के ITI बनाए जाने हैं। अत्याधुनिक प्रयोगशालाओं का निर्माण किया जाना है। इस कार्य को प्राथमिकता के आधार पर कराने के निर्देश दिए।