“इस्लाम किसके दम पर” अब BJP सासंद ने पूछा ये सवाल

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। देवास से बीजेपी सांसद महेंद्र सिंह सोलंकी (Mahendra Sing Solanki) ने कहा है कि “अगर तलवार के जोर पर भारत में इस्लाम नही आया तो, “मार मार के मुसलमान बनाना” ये मुहावरा कहाँ से आया ?” इस तरह वो कैलाश विजयवर्गीय के पक्ष में सामने आ गए हैं।

कैलाश विजयवर्गीय का बड़ा बयान- इस्लाम के प्रवेश और ममता के तानाशाह रवैये में समानता

दरअसल मंगलवार को बीजेपी के राष्ट्रीय महासचिव कैलाश विजयवर्गीय (Kailash Vijayvargiya) ने फिर ऐसा बयान दे दिया जिससे हलचल मच गई। विजयवर्गीय ने ममता बनर्जी (Mamta Banerjee) की टीएमसी सरकार (TMC) की तुलना इस्लाम से कर दी और कहा कि जिस तरह से तलवार के दम पर इस्लाम ने देश में  प्रवेश किया था उसी तर्ज पर तानाशाह रवैये के साथ पश्चिम बंगाल में टीएमसी बीजेपी नेताओं को तलवार के दम टीएमसी में शामिल करा रही है। इसी के साथ उन्होंने कहा कि ममता बनर्जी देश के उन नेताओं की फेहरिस्त में शामिल हो गई है जिनको प्रजातंत्र पर विश्वास नहीं है। इसी का परिणाम है कि बीजेपी नेताओं और कार्यकर्ताओं पर पश्चिम बंगाल में झूठे मुकदमे दर्ज किए जा रहे हैं। उन्होंने कहा कि पश्चिम बंगाल से बीजेपी सांसद अर्जुन सिंह पर 120 आपराधिक प्रकरण दर्ज किए जा चुके है वहीं खुद उन पर 20 मुकदमे दर्ज कराए गए। इससे अंदाजा लगाया जा सकता है कि ममता बनर्जी किस तरह से सरकार चला रही हैं। इसी के साथ उन्होने उत्तर प्रदेश में कांग्रेस औरर प्रियंका गांधी (Priyanka Gandhi) पर भी निशाना साधा।

अब कैलाश विजयवर्गीय के बयान के समर्थन में बीजेपी सांसद खुलकर सामने आ गए हैं और उन्होने ट्वीट करते हुए पूछा है कि अगर तलवार के जोर पर भारत में इस्लाम नहीं आया तो मार मार कर मुसलमान बनाना, ये मुहावरा कहां से आया। सांसद के इस ट्वीट के बाद कैलाश विजयवर्गीय के बयान को हवा मिल गई है और उन्होने बैठे बिठाए विपक्ष को एक मुद्दा दे दिया है। देखना होगा कि आगे इस मुद्दे पर क्या सियासी हलचल रहती है और किस तरह बयानबाजी का दौर चलता है।