इस कोविड वार्ड को एक जगह से दूसरी जगह पर किया जा सकता है ट्रांसफर, हर सुविधा होगी उपलब्ध

जबलपुर मेडिकल कॉलेज (Jabalpur Medical College) में इनफ्लैटेबल स्ट्रक्चर मैटेरियल (Inflatable structure Material) से कोविड वार्ड तैयार किया जा रहा है। पढ़िए पूरी खबर....

जबलपुर, संदीप कुमार। जबलपुर संभाग के नेताजी सुभाष चंद्र बोस मेडिकल कॉलेज अस्पताल (Netaji Subhash Chandra Bose Medical College Hospital) में कोरोना संक्रमण (Corona Virus) को देखते हुए ऐसा कोविड वार्ड (Covid Ward) तैयार किया जा रहा है, जिसे एक जगह से दूसरी जगह पर स्थानांतरित किया जा सकता है, इनफ्लैटेबल स्ट्रक्चर मैटेरियल (Inflatable structure Material ) का उपयोग कर बनाए जा रहे इस वार्ड की लागत लगभग 90 लाख रुपए है। बिजली और पानी की सुविधा होने पर इस वार्ड को चंद दिनों में कहीं भी तैयार किया जा सकता है।

यह भी पढ़ें:-कोविड केयर सेंटर की व्यवस्थाएं इतनी अच्छी कि घर लौटने वाला हर मरीज कर रहा तारीफ

खास बात यह है कि इस वार्ड में भर्ती मरीजों के लिए ऑक्सीजन के लिए परेशान नहीं होना पड़ेगा। ऑक्सीजन की एयर सेपरेशन यूनिट की सुविधा इसमें शामिल है। प्रयोग के तौर पर समूचे मध्यप्रदेश में ऐसा पहला वार्ड मेडिकल अस्पताल परिसर में तैयार किया जा रहा है। जहां आगामी तीन-चार दिनों में कोरोना के मरीज भर्ती किए जा सकेंगे। 20 बेड वाले इस वार्ड में मरीज की प्रत्येक सुविधा का विशेष ध्यान रखा गया है। ऑक्सीजन, हाईफ्लो ऑक्सीजन, वेंटिलेटर समेत तमाम सुविधा मरीज को इस वार्ड में दी जा सकेगी। पूरी तरह से वातानुकूलित वार्ड में ऑक्सीजन लाइन के साथ साइड लाकर, ड्रिप सेट दिया गया है। इसके अलावा टॉयलेट और दो वॉशरूम भी इस आधुनिक तरह के कोविड वार्ड में मरीजों की सुविधा के लिए उपलब्ध रहेंगे।

यह भी पढ़ें:-हाईकोर्ट ने आदेश का पालन न होने पर जताई चिंता, सरकार को दिए ये निर्देश

नेताजी सुभाष चंद्र बोस मेडिकल कॉलेज अस्पताल के डीन डॉ प्रदीप कसार ने बताया कि आधुनिक वार्ड में कोरोना के गंभीर से गंभीर मरीजों को भी भर्ती किया जा सकेगा। आवश्यक होने पर इस वार्ड को एक जगह से दूसरी जगह स्थानांतरित भी किया जा सकेगा। यदि किसी ग्रामीण अंचल में कोरोना महामारी का खतरा बढ़ता है, तो वहां 2-3 दिन के भीतर इस आधुनिक वार्ड को तैयार किया जा सकेगा। मेडिकल अस्पताल कैंपस मे यह आधुनिक कोविड वार्ड लगभग तैयार है जल्द ही इसमें मरीजों की भर्ती करना शुरू कर दिया जाएगा।