सीएम के बयान का असर, मध्य प्रदेश के विभिन्न जिलों में बढ़ाया गया कोरोना कर्फ्यू

मध्य प्रदेश

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान (Shivraj Singh Chauhan) के बयान ‘मई में कोई ढील नहीं मिलेगी और सख्ती जारी रहेगी’ के बाद  17 मई को खत्म हो रहे कोरोना कर्फ्यू (Corona Curfew) को सभी जिलों में आगे बढ़ा दिया गया है। अपर मुख्य सचिव गृह डॉ. राजेश राजौरा ने बताया है कि मध्य प्रदेश के 52 ज़िलों में ज़िला आपदा प्रबंधन समिति के निर्णय उपरांत ज़िला कलेक्टर्स द्वारा कोरोना कर्फ़्यू के ऑर्डर धारा 144 दण्ड प्रक्रिया संहिता अंतर्गत जारी किए गए हैं।

यह भी पढ़े.. NHM CHO Recruitment 2021: मप्र में 2850 पदों पर निकली है भर्ती, ऐसे करें एप्लाई

अपर मुख्य सचिव गृह डॉ. राजेश राजौरा ने बताया है कि आज सोमवार से ही मध्य प्रदेश के 19 जिलों में 31 मई, 25 जिलों में 24 मई, 5 जिलों में 25 मई और 20 मई सुबह 6 बजे तक बुरहानपुर, 27 मई सुबह 7 बजे तक डिंडोरी एवं 29 मई की रात्रि तक इन्दौर में कोरोना कर्फ्यू रहेगा।

डॉ. राजौरा ने बताया है कि मध्य प्रदेश के 19 जिलों की विभिन्न क्राइसिस मैनेजमेंट कमेटी द्वारा लिए गए निर्णय अनुसार उज्जैन, ग्वालियर, शिवपुरी, सागर, मुरैना, नीमच, शहडोल, उमरिया, देवास, आगर-मालवा, रायसेन, भिंड, बालाघाट, श्योपुर, सिवनी, सीहोर, विदिशा, मंडला और दमोह में आगामी 31 मई 2021की सुबह 6 बजे तक कोरोना कर्फ्यू जारी रहेगा। उन्होंने बताया कि अलीराजपुर, नरसिंहपुर, बैतूल, अनूपपुर और रतलाम में 25 मई की सुबह 6 बजे तक कोरोना कर्फ्यू रहेगा।

यह भी पढ़े.. मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने की बड़ी घोषणा- इन्हें मिलेगी अनुकंपा नियुक्ति

अपर मुख्य सचिव डॉ. राजेश राजौरा ने बताया कि जिला आपदा प्रबंधन कमेटी द्वारा लिए गए निर्णय अनुसार आगामी 24 मई 2021 की सुबह 6 बजे तक भोपाल, जबलपुर, रीवा, छिंदवाड़ा, होशंगाबाद, सिंगरौली, सतना, सीधी, अशोकनगर, धार, मंदसौर, राजगढ़, टीकमगढ़, पन्ना, खरगोन, गुना, बड़वानी, शाजापुर, निवाड़ी, खंडवा, छतरपुर, झाबुआ, कटनी, हरदा और दतिया में कोरोना कर्फ्यू जारी रहेगा।

गौरतलब है कि मध्य प्रदेश में बीते 24 घंटे में 5921 नए मरीज सामने आए है और 77 मौतें ने इलाज के दौरान दम तोड़ दिया।  इंदौर में सबसे ज्यादा 1307, भोपाल में 657, जबलपुर में 481 और ग्वालियर में 201 मरीज मिले हैं। वहीं रविवार को 77 मौतें रिकॉर्ड की गई है। इसके बाद एक्टिव केसों की संख्या घटकर 88,983 पहुंच गई है और प्रदेश में कुल मौतों की संख्या बढ़कर 7069 पहुंच गई है।

मध्य प्रदेश