मंत्री उषा ठाकुर के बयान पर बोले कैलाश विजयवर्गीय, ‘यज्ञ एक विज्ञान है’

इंदौर में श्रम मंत्रालय के अधीन टीबी हॉस्पिटल में व्यवस्थाओं का जायजा लेने पहुंचे कैलाश विजयवर्गीय (Kailash Vijayvargiya) मंत्री उषा ठाकुर ( Minister Usha Thakur) के कोरोना की तीसरी लहर पर दिए गए बयान पर सहमति देते हुए कहा कि यज्ञ एक विज्ञान है।

इंदौर, आकाश धौलपुरे। शुक्रवार को इंदौर में बीजेपी के राष्ट्रीय महासचिव कैलाश विजयवर्गीय ( BJP National General Secretary Kailash Vijayvargiya), प्रभारी मंत्री तुलसी सिलावट (Minister Tulsi Silawat) और विधायक रमेश मेंदोला (MLA Ramesh Mendola ) साथ नंदानगर स्थित राज्य सरकार के श्रम मंत्रालय ( Ministry Of Labour) के अधीन टीबी हॉस्पिटल पहुंचे। जहां उन्होंने अस्पताल में खंडहर के रूप में तब्दील हो चुकी चिकित्सकीय मशीनों को देखा और पूरे परिसर व्यवस्था का जायजा लिया। वहीं इस दौरान विजयवर्गीय ने मंत्री उषा ठाकुर के तीसरी लहर पर दिए गए बयान को लेकर कहा कि यज्ञ एकदम वैज्ञानिक पद्धति से किया जाता है और पर्यावरण को उससे लाभ मिलता है।

यह भी पढ़ें:-संजय राउत द्वारा अहिल्याबाई की ममता से तुलना पर कैलाश विजवर्गीय का बयान, कहा राउत की मानसिक स्थिति ठीक नहीं

दरअसल, कोरोना की तीसरी लहर के लिए इंदौर में चिकित्सा सुविधा बेहतर हो इसके लिए कैलाश विजयवर्गीय आगे आये और उन्होंने टीबी अस्पताल को 100 बेड के कोविड सेंटर में तब्दील करने की कवायद की शुरुआत की। वहीं उन्होंने कहा कि अस्पताल में 3 माह में सभी काम पूरे इलाज की समुचित व्यवस्था की जाएगी। इसके अलावा उन्होंने मीडिया से बात कर कहा कि इंदौर में जनप्रतिनिधियों और सरकार की मेहनत के बदौलत वर्तमान में स्थिति नियंत्रण में है। उन्होंने कहा कि पॉजिटिव मरीजो की संख्या में कमी आई है और जब स्थिति बिगड़ी थी तब प्रशासन और जनप्रतिनिधियों ने सबकुछ अच्छे से संभाला और ये भी समझ मे आ गया कि भविष्य के लिए हमे चिंता करनी पड़ेगी। उन्होने कोरोना के तीसरे फेज की आने की आशंका जताई और कहा कि राज्य सरकार के बंद पड़े टीबी हॉस्पिटल को जनसहयोग से एक अच्छा हॉस्पिटल बनाने की कोशिश करेंगे जो निजी हॉस्पिटल से भी बेहतर हो वही उन्होंने कहा 3 माह में हॉस्पिटल का काम पूरा हो जाएगा। वही केंद्र सरकार का ईएसआई हॉस्पिटल भी 200 बेड बढ़ाये जा रहे है जहां कोविड वार्ड भी रहेगा और साथ ही सवा करोड़ के ऑक्सीजन प्लांट को भी स्वीकृत कराया गया है।

इंदौर में पर्याप्त ऑक्सीजन, वैक्सीन भी जल्द मिलेगी

कैलाश विजयवर्गीय ने कहा कि देश मे इंदौर एकमात्र शहर है जहां ऑक्सीजन की शार्टेज नही हुई और अभी ऑक्सीजन सरप्लस में है। हम आसपास के जिलो में भी ऑक्सीजन दे रहे है। उन्होंने बताया कि जनसहयोग से पीथमपुर से साढ़े पांच हजार सिलेंडर ऑक्सीजन रोज मिल रही थी अब वहां से भी सिलेंडर लाना कम हो गये है। आज मुझे पता चला कि आज एक हजार सिलेंडर ही वहां से उठाए गए है। हालांकि उन्होने ये भी साफ किया कि हम भविष्य कर लिए भी ऑक्सीजन की तैयारी रखेंगे। वहीं वैक्सीन के लिए भी सरकार से बात चल रही है और थर्ड फेज आने के पहले ज्यादा से ज्यादा वैक्सीनेशन हो इसके प्रयास किये जा रहे और 15 से 20 दिन में वैक्सीन भी आ जायेगी। वैक्सीन की कमी पर कैलाश विजयवर्गीय ने कहा कि जब वैक्सीनेशन प्रारम्भ हुआ था तब देश के कुछ राजनीतिक दलों ने राजनीति की थी। जैसे छत्तीसगढ़ के सीएम ने कहा था कि हम वैक्सीनेशन नही कराएंगे, वही सपा के नेताओ ने कहा दिया कि ये मोदी जी का इंजेक्शन है हम नही लगाएंगे। ऐसे में प्रोडक्शन बहुत ज्यादा हो गया और राज्य नहीं उठा रहे थे तब सरकार ने एक्सपोर्ट करना शुरु कर दिया अब अचानक डिमांड आ रही है। प्रोडक्शन की सीमा है और अब हम प्रोडक्शन की क्षमता बढ़ा रहे है और कंपनियों को उत्पादन के अधिकार दिए जा रहे है। उन्होंने कहा कि 15 दिन बाद जितनी आवश्यकता होगी उतनी वैक्सीन मिलने लगेगी और पर्याप्त मात्रा में राज्यो को वैक्सीन दी जाएगी।

बच्चों पर वैक्सीन को लेकर चल रही टेस्टिंग

कैलाश विजयवर्गीय ने बताया कि कल ही मैंने नेट पर देखा कि वर्तमान वैक्सीन को भी बच्चो पर उपयोग किया जा सकता है। तो शायद हो सकता है जो हमारे पास वैक्सीन है उसका उपयोग बच्चो के लिए किया जा सकता है, लेकिन अभी टेस्टिंग चल रही है इस पर। वहीं उन्होने वैक्सीन की कमी को लेकर कहा कि राज्य को अधिकार है कि वो ग्लोबल टेंडर जारी कर दुनिया में जहां भी वैक्सीन उपलब्ध वहां से खरीद सकता है। वहीं कोरोना की तीसरी लहर पर फोकस करने बात कहते हुए विजयवर्गीय ने कहा कि ऑक्सीजन, मेडिसिन और चिकित्सकीय सुविधाओं के लिहाज से सरकार की तैयारी जारी है।

जर्मनी से रॉ मटेरियल मंगाने की कोशिश जारी

वहीं ब्लैक फंगस को लेकर बीजेपी के राष्ट्रीय महासचिव ने कहा कि ये बीमारी अभी आई है। इसकी मेडिसिन देश मे उपलब्ध नही है। इसका रॉ मटेरियल जर्मनी से आ रहा है और जर्मन ने अभी सप्लाय करना बंद कर दिया है। ऐसे में कोशिश की जा रही है कि जर्मन से रॉ मटेरियल आये और यहां मेडिसिन का उत्पादन किया जाए।

मंत्री उषा ठाकुर के बयान पर बोले विजयवर्गीय

यज्ञ से कोरोना दूर होने वाले मंत्री उषा ठाकुर के बयान को लेकर बीजेपी राष्ट्रीय महासचिव कैलाश विजयवर्गीय ने कहा कि कई लोगों के अलग अलग मत है। यज्ञ भी विज्ञान है ऐसा नही मानना चाहिए कि यज्ञ कोई धर्म है। यज्ञ एक विज्ञान है इसे कई लोगों ने सिद्ध किया है। उन्होंने कहा कि यज्ञ से वर्षा हुई है क्योंकि लोगों ने कहा कि कोविड की वायरल बीमारी हवा से भी फैल सकती है तो हवा के शुद्धिकरण के लिए यज्ञ किया जा सकता है। विजयवर्गीय ने कहा कि मैं उषा ठाकुर जी ने जो कहा मैं उसका विरोध भी नहीं करूंगा और एकदम सहमति प्रदान नही करूंगा क्योंकि एकदम वैज्ञानिक पद्धति से यज्ञ किया जाता और पर्यावरण को उससे लाभ मिलता है।