Madhya Pradesh : 49 जिलों में 5% से कम संक्रमण, इन जिलों में 50 से ज्यादा नए केस

शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि प्रदेश (Madhya Pradesh Corona Update) में कोरोना संक्रमण पूर्ण रूप से समाप्ति की ओर है।

MP

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) में पिछले 24 घंटे में 1205 नए केस सामने आए हैं और 48 की मौत हो गई। वही 5023 मरीज स्वस्थ हुए हैं, इसी के साथ प्रदेश में एक्टिव केसों की संख्या 23390 हो गई हैं। प्रदेश की 7 दिनों की पॉजिटिविटी रेट 2.5%है तथा आज की पॉजिटिविटी 1.6% है। देश में कोराना प्रकरणों में मध्यप्रदेश का योगदान न्यूनतम 1.1% रहा है।इस पर सीएम ने कहा कि प्रदेश में एक जून से अनलॉक की प्रक्रिया प्रारंभ हो रही है, ऐसे में सभी सावधानियों का सख्ती से पालन किया जाना आवश्यक है, अन्यथा कोरोना संक्रमण फिर बढ़ सकता है।

यह भी पढ़े.. मध्य प्रदेश के विधायकों को लेकर मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान का बड़ा फैसला

आज बैठक में मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि प्रदेश (Madhya Pradesh Corona Update) में कोरोना संक्रमण पूर्ण रूप से समाप्ति की ओर है। प्रदेश के 49 जिलों में 7 दिनों की औसत पॉजिटिविटी 5% से कम हो गई है तथा 17 जिलों में 1% से भी कम हो गई है। प्रदेश में तीन जिलों इंदौर में कोरोना के 391, भोपाल में 245, तथा जबलपुर में 77 नए प्रकरण आए हैं। इंदौर की साप्ताहिक पाजिटिविटी 6.4%, भोपाल की 5.2% तथा सागर की 5% है।

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह ने बताया कि प्रदेश (Madhya Pradesh Corona Curfew) के सतना, नरसिंहपुर, छतरपुर, गुना, बड़वानी, हरदा, कटनी, छिंदवाड़ा, शाजापुर, सिंगरौली, डिंडौरी, झाबुआ, मंडला, भिंड, आगर-मालवा, बुरहानपुर तथा खंडवा जिलों की साप्ताहिक पॉजिटिविटी 1% से कम है।प्रदेश के 33 जिलों सागर, अनूपपुर, नीमच,रतलाम, दमोह, बैतूल, श्योपुर, मुरैना, धार, ग्वालियर, सीधी, खरगोन, मंदसौर, रीवा, जबलपुर, सिवनी, रायसेन, राजगढ़, सीहोर, होशंगाबाद, बालाघाट, निवाड़ी, शिवपुरी, पन्ना, उज्जैन, विदिशा, शहडोल, देवास, अशोकनगर, उमरिया, दतिया, टीकमगढ़ तथा अलीराजपुर की साप्ताहिक पाजिटिविटी 5% तक है।

यह भी पढ़े.. MP Weather Alert: मप्र के 3 दर्जन से ज्यादा जिलों में बारिश की संभावना, ओलावृष्टि के भी आसार

मुख्यमंत्री चौहान ने निर्देश दिए कि प्रदेश में ब्लैक फंगस (Madhya Pradesh Black Fungus) के इलाज की श्रेष्ठ व्यवस्था सुनिश्चित की जाए। इंजेक्शन व दवाइयाँ समय पर मिल जाएँ। प्रदेश में 1001 ब्लैक फंगस के मरीज हैं। इनका इलाज 5 शासकीय मेडिकल कॉलेज (Government Medical College) एवं 57 निजी अस्पतालों में किया जा रहा है।प्रदेश में 45 वर्ष की उम्र के व्यक्तियों के लिए पर्याप्त डोज़ उपलब्ध हैं। सभी जिले 45 से अधिक उम्र के व्यक्तियों का अधिक से अधिक टीकाकरण करें। प्रदेश में 45 वर्ष से अधिक व्यक्तियों का 35% टीकाकरण तथा 18 से 44 वर्ष के लोगों का 4% टीकाकरण हुआ है। वही दोनों समूहों का टीकाकरण बढ़ाने के निर्देश दिए।

कोरोना संक्रमण रोकने व प्रबंधन के 10 सूत्र

1- हर व्यक्ति कोविड अनुरूप व्यवहार करे तथा सभी कोरोना गाइड लाइन्स का पालन करें।

2- क्राइसिस मैनेजमेंट समितियाँ सभी स्थानों पर सक्रिय रूप से काम करती रहें।

3- किल कोरोना अभियान के अंतर्गत निरंतर सर्वे चलता रहे तथा एक-एक सर्दी, खाँसी, जुकाम आदि के मरीज की पहचान कर उसे नि:शुल्क मेडिकल किट दी जाए।

4- अधिक से अधिक कोरोना टेस्टिंग की जाए।

5- जहाँ संक्रमण है केंटेनमेंट तथा माइक्रोकंटेनमेन्ट जोन बनाएँ तथा सख्ती रखें।

6- हर पॉजीटिव मरीज को होम आइसोलेशन अथवा कोविड केयर सेंटर में रखा जाए। आवयकता होने पर अस्पताल में इलाज कराया जाए।

7- हर पॉजीटिव मरीज की कॉन्ट्रेक्ट ट्रेसिंग कर, उसके संपर्क में आए हर व्यक्ति का टेस्ट कराया जाए।

8- तीसरी लहर के लिए चिकित्सा सुविधाओं का विस्तार किया जाए।

9- सभी जिलों में ऑक्सीजन प्लांट लग रहे हैं, वे जल्दी पूर्ण हो जाएँ।

10- टीकाकरण की गति बढ़ाई जाए। सेक्टरवार टीकाकरण की कार्य योजना बनाई जाए।