मप्र विधानसभा

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। वैसे तो सरकारी कामों में दफ्तरों के चक्कर लगाते लगाते लोगों की चप्पलें घिस जाती है, लेकिन मध्यप्रदेश (MP) में पहली बार एक दिवंगत कर्मचारी के पुत्र को 72 घंटे में अनुकंपा नियुक्ति (Compassionate appointment)  दी गई। खास बात ये है कि विधानसभा सचिवालय (Assembly Secretariat) ने इस संबंध में आदेश भी जारी कर दिया है। विधानसभा के प्रोटेम स्‍पीकर रामेश्‍वर शर्मा (Protem speaker Rameshwar Sharma)  ने कर्मचारी के पुत्र को सहायक ग्रेड तीन के पद पर अनुकंपा नियुक्ति का आदेश पत्र प्रदान किया।

यह भी पढ़े… Employment : बुन्देलखण्ड के युवाओं के लिए रोजगार पाने का सुनहरा मौका, यहां देखें पूरी डिटेल्स

दरअसल, बीते दिनों मध्य प्रदेश विधानसभा (Madhya Pradesh Legislative Assembly) में सत्कार अधिकारी के रूप में कार्यरत संजय शर्मा की कोरोना के चलते मौत हो गई थी। इसके बाद उनके बेटे अभिनव शर्मा ने अनुकंपा नियुक्ति के लिए आवेदन दिया था, जिसका निराकरण करते हुए मध्यप्रदेश विधानसभा सचिवालय ने 72 घंटे के अंदर ही अभिनव को अनुकंपा नियुक्ति प्रदान कर दी।

यह भी पढ़े… Coronavirus : इस जिले में फिर लगा लॉकडाउन, नाइट कर्फ्यू का ऐलान, स्कूल-कॉलेज बंद

आज शुक्रवार को विधानसभा के प्रोटेम स्‍पीकर रामेश्‍वर शर्मा ने अभिनव शर्मा को सहायक ग्रेड तीन के पद पर अनुकंपा नियुक्ति का आदेश पत्र प्रदान किया।इस मौके पर अभिनव भावुक हो उठा और उसके आंसू छलक पड़े। प्रदेश में यह पहला मौका है जब 72 घंटे के अंदर किसी को अनुकम्पा नियुक्ति दी गई है।

MP