MP News: लापरवाही पर 10 निलंबित, 22 कर्मचारियों को शोकॉज नोटिस, 2 को चेतावनी

जिले के 18 ग्राम पंचायतों के सचिवों एवं ग्राम रोजगार सहायकों को कारण बताओ नोटिस जारी किया है।

mp NEWS

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। मध्य प्रदेश (MP News) में शासकीय कामों में लापरवाही बरतने पर अधिकारियों और कर्मचारियों पर कार्रवाई का सिलसिला जारी है। इसी कड़ी में दतिया में 3 शिक्षकों, सतना में 4 पटवारी और निवाड़ी में 2 पटवारी को तत्काल प्रभाव से निलंबित (Suspended) कर दिया गया है।वही निवाड़ी में 1 पटवारी, मंदसौर में 3 CMO, अनूपपुर में 18 पंचायत सचिव और रोजगार सहायक को शोकॉज नोटिस जारी किया गया है।वही निवाड़ी में 2 पटवारियों  को चरित्रावली चेतावनी और उज्जैन योगमाया एग्रो एजेन्सी की दुकान का उर्वरक पंजीयन निलंबित कर दिया गया है।

यह भी पढ़े.. मध्य प्रदेश को केन्द्र की बड़ी सौगात, सेकंड ट्रेंच में 1279 करोड़ 19 लाख आवंटित

सतना कलेक्टर (Satna Collector) एवं जिला मजिस्ट्रेट अजय कटेसरिया ने भू-अभिलेख सुधार कार्य मे उदासीनता और लापरवाही बरतने पर जिले मे 4 पटवारियों तहसील नागौद के सिंहपुर पटवारी रण बहादुर सिंह, बिरसिंहपुर तहसील के नयागांव पटवारी राजेंद्र कुमार मिश्रा, रामपुर बघेलान तहसील के देवमऊ दलदल के पटवारी मुकेश कुमार सतनामी और मैहर तहसील के झुकेही के पटवारी दादूलाल मवासी को तत्काल प्रभाव से निलंबित कर दिया है।

राजस्व अधिकारियों की बैठक मे शुक्रवार को कलेक्टर ने भू-अभिलेख सुधार अभियान के कार्यो की समीक्षा के बाद शून्य प्रगति और कार्य शुरू नहीं करने वाले पटवारियों को निलंबित करने के निर्देश दिए थे।वही दतिया कलेक्टर संजय कुमार द्वारा लापरवाही पर नाराजगी व्यक्त करते हुए 3 शिक्षकों को वीर सिंह लोधरी, हरीसेवक शाक्यवार एवं रेखा बारोलिया को तत्काल प्रभाव से निलंबित किया गया।

यह भी पढ़े.. MP Board: 10वीं-12वीं के छात्रों के लिए बड़ी खबर, परीक्षा को लेकर प्राचार्यों को मिले ये निर्देश

निवाड़ी कलेक्टर (Niwari Collector) नरेन्द्र कुमार सूर्यवंशी की अध्यक्षता में हुई बैठक में “भू-अभिलेख शुद्धिकरण पखवाड़ा के दौरान विभिन्न त्रुटियों जैसे रिक्त भूमि प्रकार, रिक्त भूमि स्वामी, रिक्त भूमि स्वामी प्रकार, शून्य भू-राजस्व, शून्य क्षेत्रफल, सक्रिय मूल एवं बटांक खसरा, शाब्दिक सर्वेक्षण क्रमांक, अमान्य सर्वेक्षण क्रमांक, नक्शा असंबंधित, नक्शे के साथ ग्राम, नक्शा विहीन ग्राम, खसरा विहीन ग्राम आदि में सुधार किये जाने के लिये समीक्षा की गई।इसमें लापरवाही पर कलेक्टर सूर्यवंशी ने हल्का पटवारी नयाखेरा तहसील निवाड़ी महेश सेन एवं पटवारी हल्का बिहारीपुरा तहसील निवाड़ी सुश्री वसुधा श्रीवास्तव को निलंबित, एक श्रीकृष्ण सोलंकी को शोकॉज नोटिस एवं 2 हल्का पटवारी कठऊ पहाडी मंजूलाल सौंर एवं हल्का पटवारी सेंदरी विमलेश वर्मा को चरित्रावली चेतावनी दी है।

कलेक्टर ने 3 CMO को दिया नोटिस
मन्दसौर में शासन (mp government) द्वारा संचालित हितग्राही मूलक PM स्वनिधि योजना में लापरवाही एवं उदासीनता बरतने के संबंध में कलेक्टर गौतम सिंह द्वारा मुख्य नगरपालिका अधिकारी मंदसौर प्रेम कुमार सुमन, मुख्य नगर पालिका अधिकारी नगर परिषद सीतामऊ रवि गुप्ता एवं मुख्य नगर पालिका अधिकारी (CMO) नगर परिषद भानपुरा गोविंद पोरवाल को कारण बताओ सूचना पत्र जारी किया गया है।इन अधिकारियों के कार्य करने की शैली में गंभीर लापरवाही एवं उदासीनता के कारण मंदसौर जिला पीएम स्वनिधि योजना के क्रियान्वयन एवं लक्ष्य पूर्ति में बहुत पिछड़ा हुआ है। यह स्थिति अत्यंत निराशाजनक है। कारण बताओ सूचना पत्र के पश्चात भी अगर कार्य करने की शैली में उदासीनता एवं लापरवाही पाई जाती हैं तो सख्त कार्यवाही की जाएगी।

18 पंचायत सचिव और रोजगार सहायक को शोकॉज नोटिस

अनुपपुर में वैक्सीनेशन महाअभियान 17 नवम्बर को जनपद पंचायत पुष्पराजगढ़ अंतर्गत ग्राम पंचायत शिवरीचंदास, घुईदादर, फरहदा, बीजापुरी नं. 01, जीलंग तथा अतरिया में, जनपद पंचायत अनूपपुर अंतर्गत ग्राम पंचायत चुकान, हरद, बेलियाबड़ी, लतार में, जनपद पंचायत कोतमा अंतर्गत कोठी, बुढ़ानपुर, चंगेरी में एवं जनपद पंचायत जैतहरी अंतर्गत ग्राम पंचायत सकरा, सेमरवार, कल्याणपुर, छुलहा तथा देवहरा में लक्ष्य निर्धारित कर शत-प्रतिशत पूर्ति करने के लिए ग्राम पंचायतों के सचिवों एवं ग्राम रोजगार सहायकों को निर्देशित किया गया था।

यह भी पढ़े.. कर्मचारियों-पेंशनर्स का DA फिर 3% बढ़ा, Arrears का भी मिलेगा लाभ, सैलरी में आएगा उछाल

परन्तु संबंधितो द्वारा इस महत्वपूर्ण राष्ट्रीय कार्यक्रम में गंभीर लापरवाही बरतने एवं उदासीन होने पर जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी हर्षल पंचोली ने जिले के 18 ग्राम पंचायतों के सचिवों एवं ग्राम रोजगार सहायकों को कारण बताओ नोटिस जारी किया है। उन्होंने सचिवों एवं ग्राम रोजगार सहायकों को निर्देश दिए हैं कि इस संबंध में अपने स्पष्टीकरण कार्यालय जिला पंचायत अनूपपुर में 23 नवम्बर 2021 को उपस्थित होकर प्रस्तुत करें अन्यथा एकपक्षीय कार्यवाही की जाएगी, जिसकी संपूर्ण जवाबदारी उनकी स्वयं की होगी।

उर्वरक पंजीयन निलंबित

उज्जैन में किसान कल्याण तथा कृषि विकास एवं उर्वरक प्राधिकृत अधिकारी ने कृषि विभाग (Agriculture Department) के वरिष्ठ कृषि विकास अधिकारी एवं उर्वरक निरीक्षक बड़नगर के द्वारा उर्वरक की दुकान पर निरीक्षण के दौरान अनियमितता पाये जाने के कारण दुकान का पंजीयन निलंबित कर दिया है। निलम्बन अवधि में मेसर्स योगमाया एग्रो एजेन्सी फर्म किसी भी प्रकार का उर्वरक का व्यवसाय नहीं करेगी।