29 नवंबर से होगी धान की खरीदी, तैयारी पूरी, इस साल नए रिकॉर्ड की तैयारी में MP

MP Paddy Procurement: इस साल धान के क्षेत्र में फिर से वृद्धि हुई है। इस साल 35 लाख हेक्टेयर में धान की बोवनी की गई है।

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। मध्य प्रदेश (MP) एक और रिकॉर्ड की तैयारी में है। दरअसल मध्य प्रदेश में धान की खरीदी (paddy procuremment) शुरू की जानी है। वही माना जा रहा है कि इस बार धान खरीदी में मध्यप्रदेश अपना ही पिछला रिकॉर्ड तोड़ देगा। दरअसल सरकार ने समर्थन मूल्य (support price) पर 45 लाख टन से ज्यादा धान खरीदी की तैयारी कर ली है। 29 नवंबर को 1940 रूपए प्रति क्विंटल की दर से खरीदी की जाएगी।

ज्ञात हो कि मध्य प्रदेश सरकार ने तैयारी पूरी कर ली है। वही समर्थन मूल्य पर धान की खरीदी 29 नवंबर से शुरू की जाएगी 1940 रूपए क्विंटल की दर से खरीदी होगी। वही 9 लाख से ज्यादा किसान प्रदेश में धान बेचने के लिए रजिस्ट्रेशन करा चुके हैं। बता दें कि 2019 में 23 लाख 76 हजार हेक्टेयर में धान की बोवनी की गई थी। वहीं 2020 में 34 लाख 4 हजार हेक्टेयर पर बोवनी की गई थी। इस साल धान के क्षेत्र में फिर से वृद्धि हुई है। इस साल 35 लाख हेक्टेयर में धान की बोवनी की गई है।

Read More: MP News: अधिकारियों पर बड़ा एक्शन, रोकी गई 9 की एक वेतन वृद्धि, कारण बताओ नोटिस जारी

वहीं पिछले साल करीब 106 लाख टन से ज्यादा धान की खरीदी हुई थी। वहीं अनुमान लगाया जा रहा है कि इस बार 125 लाख टन से ज्यादा धान का उत्पादन किया गया है। पिछले साल जहां 5 लाख 80 हजार किसानों ने धान के लिए पंजीयन कराया था। वहीं इस साल 9 लाख से ज्यादा किसानों ने धान खरीद के लिए पंजीयन करवाया है। वहीं इस बार समर्थन मूल्य में 72 रूपए की बढ़ोतरी के साथ क्विंटल पर 1940 रूपए कर दिया गया है।

2019-20 में विदिशा को छोड़कर सभी जिलों में पिछले वर्ष की तुलना में समर्थन मूल्य पर धान की अधिक खरीद हुई थी। पिछले वर्ष की तुलना में सबसे अधिक खरीद वाले जिलों में होशंगाबाद, रायसेन और सीहोर में क्रमश: 217%, 310% और 321% खरीद शामिल थी। राज्य में 2019-20 में कुल 25.85 लाख मीट्रिक टन और 2018-19 में 21.96 लाख मीट्रिक टन धान की खरीद हुई थी।

वहीँ बीते वर्ष कुल 2,24,919 लाख मीट्रिक टन ज्वार और बाजरा समर्थन मूल्य पर खरीदा गया था। कुल मिलाकर 6,491 किसानों ने ज्वार बेचा है और 35,926 किसानों ने समर्थन मूल्य पर बाजरा बेचा था। कुल खरीद राशि 497 करोड़ रुपये था