मध्यप्रदेश में पॉजिटिविटी रेट घटकर 0.8% पहुंची, 15 दिन और जारी रहेगा कोरोना कर्फ्यू

Cabinet Meeting

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। मध्य प्रदेश में पिछले 24 घंटे में 718 कोरोना (Corona) केस सामने आए हैं और 81 हजार टेस्ट हुए हैं। इसी के साथ पॉजिटिविटी रेट घटकर 0.8% पहुंच गई है। सीएम शिवराज सिंह चौहान (CM Shivraj Singh Chouhan) ने कहा कि 5 प्रतिशत से कम पॉजिटिविटी रेट होती है तो कोरोना नियंत्रित माना जाता है, हम तो 0.8 प्रतिशत पर पहुंच गए हैं। लेकिन अभी भी 15 दिन तक कोरोना कर्फ्यू जारी रहेगा। हालांकि उसमें छूट दी जा रही है लेकिन कर्फ्यू का पालन किया जाना जरूरी है। इसी के साथ उन्होने व्यापारियों और जनता के सहयोग के लिए आभार भी जताया।

बढ़ रहा Twitter पर विवाद, BJP नेता ने जताई आपत्ति, यूजर्स ने लगाया #TirangaTick

सीएम शिवराज ने कहा कि अभी इंदौर, भोपाल और जबलपुर में केस की संख्या अधिक है लेकिन वहां भी पूरी सावधानी रखी जा रही है। उन्होने कहा कि “आज प्रदेश में #COVID19 के केवल 718 पॉजिटिव प्रकरण आये हैं, जबकि टेस्ट 81 हजार हुए हैं। यह और राहत की बात है कि प्रदेश का पॉजिटिविटी रेट घटकर 0.8% पर पहुंच गया है। यह सब प्रदेश की जनता के सहयोग से संभव हुआ है, मैं हृदय से धन्यवाद देता हूं।” इसी के साथ मुख्यमंत्री ने कहा कि अभी 5 जिले ऐसे हैं, जहां एक भी पॉजिटिव प्रकरण नहीं आया है और कई जिले ऐसे हैं, जो कुछ ही दिनों में पूरी तरह से कोरोना मुक्त हो जायेंगे। हम सबका #COVID19 एप्रोपियेट बिहेवियर रहा तो, सम्पूर्ण मध्यप्रदेश इससे शीघ्र पूरी तरह से मुक्त हो जायेगा।

कोरोना संक्रमण पर नियंत्रण के साथ ही अभी भी सावधानी रखने की जरूरत है। अभी किल कोरोना अभियान जारी रहेगा। सीएम ने कहा कि अगले 15 दिन तक कोरोना कर्फ्यू जारी रहेगा। हालांकि उसमें अलग अलग स्थान पर छूट दी जा रही है, मगर अभी कुछ दिन और सावधानी बरतने की जरूरत है। हर स्थान पर क्राइसिस मैनेजमेंट कमेटी इस बात पर ध्यान दे रही है कि अनलॉक कर रहे है तो धीरे धीरे करें ताकि संक्रमण फिर से न फैले। इसी के साथ हम सबको कोविड एप्रोप्रियेट बिहेवियर अपनाने की जरूरत है ताकि संक्रमण से बचाव हो सके। सीएम ने कहा कि हम टेस्ट कम नहीं करेंगे ताकि कहीं भी कोई संक्रमित मिले तो तत्काल उपचार मुहैया कराया जाए और संक्रमण की चेन को तोड़ा जा सके। उन्होने कहा कि दुनिया भी चले और कोरोना संक्रमण न फैले, हम इसकी पूरी कोशिश कर रहे हैं।