computer-baba-want-lok-sabha-election-from-ticket-of-congress-in-madhya-pradesh-

भोपाल।

हमेशा अपने बयान को लेकर खबरों में बने रहने वाले कंप्यूटर बाबा(computer baba) एक बार फिर सरकार के खिलाफ बयान देकर खबरों में आ गए हैं। नामदेव दास त्यागी ऊर्फ कम्प्यूटर बाबा ने शिवराज सरकार(shivraj government) गंभीर आरोप लगाए हैं। कंप्यूटर बाबा ने कहा है कि शिवराज सरकार उनकी हत्या की साज़िश कर रही है। इसी के साथ उन्होंने मुख्य सचिव को पत्र लिख सुरक्षा की गुहार लगाई है। वहीँ उन्हें सुरक्षा और फॉलोगार्ड बहाल करने की मांग की है।

दरअसल प्रदेश की राजधानी भोपाल(bhopal) पहुंचे कंप्यूटर बाबा ने ओल्ड सिटी स्थित हनुमान मंदिर में प्रेस कॉन्फ्रेंस की जहाँ उन्होंने शिवराज सरकार पर हत्या का आरोप लगाते हुए कहा मुख्य सचिव को पत्र लिखकर कहा कि रेत माफियाओं के खिलाफ लगातार मुझे जान से मारने की धमकियां मिलती रही है।इसके बावजूद मेरी X कैटेगरी की सुरक्षा वापस ले ली गई। उन्होंने पत्र में कहा कि मध्य प्रदेश के समस्त नदियों पर हो रहे अवैध उत्खनन की जानकारी मेले पर रेत माफियाओं के खिलाफ शासन स्तर पर मेरे द्वारा कार्रवाई की गई। अध्यक्ष पद पर नियुक्ति के बाद हमने दोषियों के खिलाफ सख्त कानूनी कार्यवाही की। जिसके बाद समय-समय पर रेत माफियाओं द्वारा मुझे जान से मारने की धमकी मिलती रही । लेकिन वह अपने कर्तव्य से पीछे नहीं हटा। मेरे ऊपर हमले करने की भी कोशिश की गई जिसके बाद शासन द्वारा मुझे एक श्रेणी की सुरक्षा प्रदान की गई थी। जिसे शिवराज सरकार ने वापस ले लिया है।

कंप्यूटर बाबा ने कहा कि मेरे ऊपर से यह सुरक्षा श्रेणी हटाने के बाद मेरे द्वारा लिए नदियों के संरक्षण के संकल्प कार्य को गहरी हानि पहुंचेगी। इसके साथ ही मेरे जीवन पर भी प्रतिकूल प्रभाव पड़ेगा। वही रेत माफियाओं के हौसले भी बुलंद होंगे । उन्होंने शिवराज सरकार पर आरोप लगाते हुए कहा है कि शासन द्वारा लिया गया यह निर्णय युक्तियुक्त नहीं बल्कि राजनीति से प्रेरित लगता है। उन्होंने कहा कि आज रेत माफियाओं के हौसले बुलंद है। उन्हें रोकने पर वो किसी भी हद तक जा सकते हैं। मैंने एक जिम्मेदार नागरिक की तरह नदियों के संरक्षण में अपनी भूमिका निभाई है। वहीं उन्होंने सरकार से अपील की है किस दल दल राजनीति से ऊपर उठकर वापस से इस विषय पर विचार करें और कंप्यूटर बाबा की सुरक्षा व्यवस्था को वापस बहाल किया जाए।