Omicron: बढ़ते वायरस को लेकर डब्ल्यूएचओ ने जताई चिंता, हल्की सर्दी खांसी पर भी अलर्ट रहें

ओमेक्रान को लेकर नई चेतावनी में इसे हल्के में न लेने की हिदायत दी। विश्व के अधिकांश देश अलर्ट। स्वास्थ्य में किसी भी तरह की गिरावट को अंदेखा ना करें

नई दिल्ली, डेस्क रिपोर्ट। कोरोनावायरस (Coronavirus) के नए मामले फिर तेजी से बढ़ने लगे हैं। कोरोना के सबसे खतरनाक वेरिएंट ओमिक्रोन (Omicron) ने भारत सहित दुनिया के अधिकांश देशों की सरकारों को अलर्ट पर रख दिया है।ओमिक्रोन वेरिएंट के चलते कई देशों ने प्रतिबंध बढ़ा दिए हैं। इस बीच विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) ने ओमिक्रोन को लेकर नई चेतावनी जारी करते हुए कहा है कि ओमिक्रोन वेरिएंट के बीच सर्दी खांसी को हल्के में ना लें।ओमिक्रोन मेडिकल सिस्टम को पस्त कर सकता है।

यह भी देखें- Florona: Corona और omicron के बाद अब florona की दहशत, इजराइल में मिला पहला मामला

डब्ल्यूएचओ के वरिष्ठ आपात अधिकारी कैथरीन स्मॉलवुड ने कहा है, ”सावधानी बेहद जरूरी है। ओमिक्रोन संक्रमण विपरीत प्रभाव डाल सकता है। ओमिक्रोन डेल्टा वेरिएंट से थोड़ा कम घातक है, लेकिन यह मौत का कारण बन सकता है।” उन्होंने कहा, ”हम बहुत खतरनाक चरण में हैं। हम पश्चिमी यूरोप में संक्रमण दर में काफी बढ़ोतरी देख रहे हैं और इसका पूरा प्रभाव अभी तक स्पष्ट नहीं है।”

यह भी देखें- Omicron: इंदौर में omicron की दस्तक, एक हजार विदेशीयों में 26 पॉजिटिव, कमलनाथ का सवालिया ट्वीट

हाल ही में WHO के महानिदेशक टेड्रस अधनम घेब्रेयेसस ने कहा था, ‘‘मुझे इस बात की बहुत चिंता है कि डेल्टा के प्रकोप के दौरान ही ओमिक्रोन का ज्यादा संक्रामक होना मामलों की सुनामी लाने की आशंका दर्शाता है।नए वेरिएंट ओमिक्रोन से संबंधित जोखिम बहुत ज्यादा बना हुआ है।’’

यह भी देखें- Omicron Alert : दिल्ली सरकार ने की तैयारी, रोज होंगे 3 लाख टेस्ट, बढ़ेगा होम आइसोलेशन

बता दें कि फिलहाल कोरोना ओमिक्रोन वेरिएंट के मामले बढ़ रहे हैं और यह अब तक 100 देशों में फैल चुका है। भारत में अब तक 23 राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों में ओमीक्रोन संक्रमण के कुल 1892 मामले मिले हैं।