SBI में क्लर्क के पदों पर निकली बंपर भर्ती, अंतिम तारीख 7 दिसंबर, जानें आयु-पात्रता और जरूरी डिटेल्स

SBI JOB

SBI Clerk Recruitment: बैंक में नौकरी का सपना देखने वाले युवाओं के लिए सुनहरा मौका है। भारतीय स्टेट बैंक (SBI) की तरफ से क्लर्क के विभिन्न पदों पर भर्ती के लिए ऑनलाइन आवेदन की प्रक्रिया 17 नवंबर 2023 से शुरू हो चुकी है। इच्छुक एवं योग्य उम्मीदवार SBI की आधिकारिक वेबसाइट sbi.co.in पर जाकर आवेदन कर सकते हैं। SBI ने आवेदन करने की अंतिम तारीख 7 दिसंबर निर्धारित की है।

पदों का विवरण

SBI ने क्लर्क के कुल 8283 पदों को भरने का नोटिफिकेशन जारी किया है। जिसके लिए आवेदन की प्रक्रिया शुक्रवार से शुरू हो चुकी है। इस अभियान के तहत प्रदेश स्तर पर क्लर्क के पदों को भरा जाएगा।

शैक्षणिक योग्यता

SBI में क्लर्क के पदों के लिए आवेदन करने वाले उम्मीदवारों के पास किसी भी मान्यता प्राप्त विश्वविद्यालय से किसी भी विषय में स्नातक की डिग्री होनी चाहिए।

आयु-पात्रता

SBI क्लर्क पदों के लिए आवेदन करने वाले उम्मीदवारों की न्यूनतम आयु 20 साल और अधिकतम आयु 28 साल होनी चाहिए। वहीं इस भर्ती अभियान के तहत आरक्षित श्रेणी के उम्मीदवारों को आयु सीमा में छूट देने का भी प्रवाधान है। इच्छुक उम्मीदवार आवेदन करने से पहले एक बार बैंक की तरफ से जारी नोटिफिकेशन को जरूर पढ़ लें।

परीक्षा की तारीख

SBI क्लर्क के पदों की प्राथमिक परीक्षा जनवरी 2024 में आयोजित की जाएगी। जबकि मुख्य परीक्षा का आयोजन फरवरी 2024 में होगी।

आवेदन शुल्क

SBI में क्लर्क के पदों पर आवेदन करने वाले अनारक्षित, ईडब्ल्यूएस, पिछड़ाे श्रेणी के उम्मीदवारों को 750 रुपए आवेदन शुल्क का भुगतान करना पड़ेगा। जबकि एससी, एसटी और पीएच श्रेणी के उम्मीदवारों को आवेदन शुल्क का भुगतान करने के लिए छूट का प्रावधान है।

 


About Author
Shashank Baranwal

Shashank Baranwal

पत्रकारिता उन चुनिंदा पेशों में से है जो समाज को सार्थक रूप देने में सक्षम है। पत्रकार जितना ज्यादा अपने काम के प्रति ईमानदार होगा पत्रकारिता उतनी ही ज्यादा प्रखर और प्रभावकारी होगी। पत्रकारिता एक ऐसा क्षेत्र है जिसके जरिये हम मज़लूमों, शोषितों या वो लोग जो हाशिये पर है उनकी आवाज आसानी से उठा सकते हैं। पत्रकार समाज मे उतनी ही अहम भूमिका निभाता है जितना एक साहित्यकार, समाज विचारक। ये तीनों ही पुराने पूर्वाग्रह को तोड़ते हैं और अवचेतन समाज में चेतना जागृत करने का काम करते हैं। मशहूर शायर अकबर इलाहाबादी ने अपने इस शेर में बहुत सही तरीके से पत्रकारिता की भूमिका की बात कही है– खींचो न कमानों को न तलवार निकालो जब तोप मुक़ाबिल हो तो अख़बार निकालो मैं भी एक कलम का सिपाही हूँ और पत्रकारिता से जुड़ा हुआ हूँ। मुझे साहित्य में भी रुचि है । मैं एक समतामूलक समाज बनाने के लिये तत्पर हूँ।

Other Latest News