Indore Travel: एक दिन में घूमना चाहते हैं इंदौर, तो इन 5 खास जगहों पर जाना न भूलें

Indore Travel: इंदौर, मध्य प्रदेश का प्रसिद्ध शहर, अपनी समृद्ध संस्कृति, ऐतिहासिक स्मारकों, प्राकृतिक सुंदरता और स्वादिष्ट भोजन के लिए जाना जाता है। यदि आपके पास इंदौर घूमने के लिए केवल एक दिन है, तो यहां 5 खास जगहें हैं जिन्हें आपको अवश्य देखना चाहिए:

indore

Indore Travel: मध्य प्रदेश की आर्थिक राजधानी और देश के सबसे स्वच्छ शहर इंदौर को मिनी मुंबई का दर्जा यूं ही नहीं मिला है। यह शहर अपनी जीवंत संस्कृति, ऐतिहासिक स्मारकों, प्राकृतिक सुंदरता और स्वादिष्ट भोजन के लिए जाना जाता है। खान और सरस्वती नदी के संगम पर बसा यह शहर पर्यटकों को अपनी ओर आकर्षित करता है। इंदौर, मध्य प्रदेश का प्रसिद्ध शहर, अपनी समृद्ध संस्कृति, ऐतिहासिक स्मारकों, प्राकृतिक सुंदरता और स्वादिष्ट भोजन के लिए जाना जाता है। यदि आप इंदौर घूमने की योजना बना रहे हैं, तो यहां 5 सबसे प्रसिद्ध जगहें हैं जिन्हें आपको अवश्य देखना चाहिए।

इंदौर में घूमने के लिए 5 खास जगह

लालबाग पैलेस

इंदौर शहर के बीचोंबीच खान नदी के तट पर स्थित लालबाग पैलेस, होलकर राजवंश का भव्य निवास स्थान था। 19वीं शताब्दी में निर्मित यह महल अपनी स्थापत्य कला, भित्ति चित्रों और कलाकृतियों के लिए प्रसिद्ध है। लालबाग पैलेस, इतालवी पुनर्जागरण शैली में निर्मित, अपने आप में एक कलाकृति है। महल के अंदरूनी हिस्सों में बेल्जियम के कांच, इतालवी संगमरमर और मुगल वास्तुकला का अद्भुत मिश्रण देखने को मिलता है। महल के विशाल हॉल, शानदार कमरे और मनमोहक बगीचे पर्यटकों को मंत्रमुग्ध कर देते हैं।

आजकल, लालबाग पैलेस एक संग्रहालय में बदल गया है, जो होलकर राजवंश के इतिहास और कलाकृतियों को प्रदर्शित करता है। यहां आप सिक्कों, चित्रों, मूर्तियों और अन्य दुर्लभ वस्तुओं का संग्रह देख सकते हैं। लालबाग पैलेस, इंदौर के प्रमुख पर्यटन स्थलों में से एक है। यह सुबह 10 बजे से शाम 5 बजे तक खुला रहता है। यदि आप इतिहास, कला और वास्तुकला के प्रेमी हैं, तो लालबाग पैलेस आपके लिए एक अवश्य देखने योग्य स्थान है। यह आपको राजसी जीवनशैली और होलकर राजवंश की समृद्ध विरासत का अनुभव प्रदान करेगा।

राजवाड़ा पैलेस

इंदौर शहर के ह्रदय में स्थित राजवाड़ा पैलेस, Holkar शासकों का भव्य निवास स्थान था। 18वीं शताब्दी में निर्मित यह महल, अपनी भव्य वास्तुकला, समृद्ध इतिहास और सांस्कृतिक महत्व के लिए जाना जाता है। राजवाड़ा पैलेस, मराठा और मुगल शैली का शानदार मिश्रण है। लाल बलुआ पत्थर से बना यह महल, सात मंजिल ऊँचा है और इसमें कई दरबार हॉल, आंगन, बरामदे और बाल्कनी हैं। महल की दीवारों पर सुंदर भित्ति चित्र और नक्काशी देखने को मिलती है। आज, राजवाड़ा पैलेस एक लोकप्रिय पर्यटन स्थल है। यहाँ आप रानी अहिल्याबाई होल्कर की मूर्ति, एक सुंदर बगीचा, कृत्रिम झरना और फव्वारे देख सकते हैं। महल में नियमित रूप से सांस्कृतिक कार्यक्रम और उत्सव आयोजित किए जाते हैं। यदि आप इंदौर घूमने आ रहे हैं, तो राजवाड़ा पैलेस अवश्य आएं।

कांच मंदिर

इंदौर शहर में स्थित कांच मंदिर, जैन धर्म का एक अनोखा और अद्भुत मंदिर है। यह मंदिर पूरी तरह से कांच से बना हुआ है, जो इसे वास्तुकला और कला का एक उत्कृष्ट नमूना बनाता है। मंदिर का निर्माण 1908 में सेठ बाबूलाल जैन ने करवाया था। मंदिर की दीवारें, छत, फर्श और यहां तक ​​कि मूर्तियां भी कांच से बनी हुई हैं। कांच पर की गई बारीक नक्काशी और कलाकृतियां दर्शकों को मंत्रमुग्ध कर देती हैं। मंदिर जैन धर्म के 24 तीर्थंकरों को समर्पित है। यहां भगवान महावीर की एक विशाल प्रतिमा भी है। मंदिर में कई अन्य मूर्तियां और चित्र भी हैं जो जैन धर्म के विभिन्न पहलुओं को दर्शाते हैं। कांच मंदिर, केवल एक धार्मिक स्थल ही नहीं है, बल्कि कला और वास्तुकला का भी एक उत्कृष्ट नमूना है। यदि आप इंदौर घूमने आ रहे हैं, तो कांच मंदिर अवश्य देखें। यह आपको जैन धर्म की भक्ति और कला की अद्भुत झलक प्रदान करेगा।

सराफा बाजार

इंदौर का सराफा बाजार, केवल एक बाज़ार ही नहीं, बल्कि स्वादिष्ट भोजन और जीवंत वातावरण का खजाना है। यह बाजार शाम होते ही जगमगा उठता है और लोगों को अपनी ओर आकर्षित करता है। यहां आपको हर तरह के व्यंजन मिल जाएंगे, चाहे आप चाट के शौकीन हों, पकौड़े पसंद करते हों, या फिर मिठाई का लुत्फ उठाना चाहते हों। सराफा बाजार में आपको इंदौर के प्रसिद्ध व्यंजन जैसे कि जलेबी, रबड़ी, मलाई गिलौरी, और मसाला चाय का स्वाद चखने को मिलेगा।

यह जगह न केवल खाने-पीने के लिए प्रसिद्ध है, बल्कि यहां का माहौल भी बहुत ही शानदार होता है। लोगों की चहल-पहल, दुकानों से आती हुई खुशबू, और गली-गली में बजती संगीत, सब मिलकर एक अद्भुत अनुभव प्रदान करते हैं। यदि आप इंदौर घूमने आ रहे हैं, तो सराफा बाजार अवश्य जाएं। यहां आप अपने परिवार और दोस्तों के साथ स्वादिष्ट भोजन का आनंद ले सकते हैं और इंदौर की जीवंत संस्कृति का अनुभव कर सकते हैं।

चोखी ढाणी

यदि आप मध्य प्रदेश के इंदौर में हैं और राजस्थानी संस्कृति का अनुभव करना चाहते हैं, तो चोखी ढाणी आपके लिए एकदम सही जगह है। यह एक मनोरंजक पार्क है जो आपको राजस्थान के पारंपरिक जीवन और संस्कृति से रूबरू करवाता है। चोखी ढाणी में प्रवेश करते ही आपको ऐसा लगेगा जैसे आप राजस्थान में ही आ गए हैं। यहां आपको रंग-बिरंगे घर, हवेलियाँ, और दुकानें देखने को मिलेंगी। आप पारंपरिक राजस्थानी वेशभूषा में सजे लोगों को नाचते-गाते और विभिन्न कलाओं का प्रदर्शन करते हुए देख सकते हैं।

यहां आपको स्वादिष्ट राजस्थानी भोजन का भी आनंद लेने का मौका मिलेगा। आप दाल-बाटी-चूरमा, घेवर, और अन्य राजस्थानी व्यंजनों का स्वाद चख सकते हैं। चोखी ढाणी में बच्चों के लिए भी कई मनोरंजक गतिविधियाँ हैं। वे ऊंट की सवारी कर सकते हैं, रस्सी पर झूल सकते हैं, और विभिन्न खेलों का आनंद ले सकते हैं। यदि आप इंदौर में हैं, तो चोखी ढाणी अवश्य जाएं। यह आपको एक अविस्मरणीय अनुभव प्रदान करेगा और आपको राजस्थानी संस्कृति से रूबरू करवाएगा।


About Author
भावना चौबे

भावना चौबे

इस रंगीन दुनिया में खबरों का अपना अलग ही रंग होता है। यह रंग इतना चमकदार होता है कि सभी की आंखें खोल देता है। यह कहना बिल्कुल गलत नहीं होगा कि कलम में बहुत ताकत होती है। इसी ताकत को बरकरार रखने के लिए मैं हर रोज पत्रकारिता के नए-नए पहलुओं को समझती और सीखती हूं। मैंने श्री वैष्णव इंस्टिट्यूट ऑफ़ जर्नलिज्म एंड मास कम्युनिकेशन इंदौर से बीए स्नातक किया है। अपनी रुचि को आगे बढ़ाते हुए, मैं अब DAVV यूनिवर्सिटी में इसी विषय में स्नातकोत्तर कर रही हूं। पत्रकारिता का यह सफर अभी शुरू हुआ है, लेकिन मैं इसमें आगे बढ़ने के लिए उत्सुक हूं।मुझे कंटेंट राइटिंग, कॉपी राइटिंग और वॉइस ओवर का अच्छा ज्ञान है। मुझे मनोरंजन, जीवनशैली और धर्म जैसे विषयों पर लिखना अच्छा लगता है। मेरा मानना है कि पत्रकारिता समाज का दर्पण है। यह समाज को सच दिखाने और लोगों को जागरूक करने का एक महत्वपूर्ण माध्यम है। मैं अपनी लेखनी के माध्यम से समाज में सकारात्मक बदलाव लाने का प्रयास करूंगी।

Other Latest News