नमक और चीनी का सेवन पूरी तरह से छोड़ देना, सेहत के लिए कहां तक सही है? जाने एक्सपर्ट की राय

नमक शरीर में द्रव के स्तर और एसिड बेस बैलेंस को बनाए रखता है और तंत्रिका आवेग को संचालित कर मांसपेशियों के संकुचन को नियंत्रित करता है। वहीं चीनी कार्बोहाइड्रेट का एक रूप है जो हमारे दिन प्रतिदिन के कार्यों के लिए ऊर्जा का स्रोत बनता है इसलिए हमारे शरीर के लिए चीनी और नमक दोनों ही महत्वपूर्ण है।

जीवनशैली, डेस्क रिपोर्ट। क्या आप भी जंक फूड खाते हैं? जंग फूड में नमक और शुगर एक साथ आते हैं जो कि डायबिटीज से लेकर हाई बीपी तक के लिए जिम्मेदार है। तो क्या व्यक्ति को फीका खाना खाना चाहिए जीने वालों को छोड़ देना चाहिए? अगर ऐसे ही सवाल आपके मन में है तो आइए जानते हैं इस बारे में:

नमक शरीर में द्रव के स्तर और एसिड बेस बैलेंस को बनाए रखता है और तंत्रिका आवेग को संचालित कर मांसपेशियों के संकुचन को नियंत्रित करता है। वहीं चीनी कार्बोहाइड्रेट का एक रूप है जो हमारे दिन प्रतिदिन के कार्यों के लिए ऊर्जा का स्रोत बनता है इसलिए हमारे शरीर के लिए चीनी और नमक दोनों ही महत्वपूर्ण है। लेकिन अधिक नमक और अधिक चीनी का सेवन स्वास्थ्य पर प्रभाव डालता है अगर हम इसे अनुशंसित मात्रा में नहीं लेते हैं तो यह हमारे कुछ अंगों को प्रभावित कर सकता है।

यह भी पढ़ें – Mandi bhav: 13 अप्रैल 2022 के Today’s Mandi Bhav के लिए पढ़े सबसे विश्वसनीय खबर

यहां हम जान लेते हैं कि हमें कितना नमक और चीनी दिन में जरूरी है लेकिन इसमें यह भी ध्यान रखना है कि प्रिजर्वेटिव खाने वाले पदार्थों में नमक और चीनी की गणना अधिक होती है जिसको लोग अक्सर भूल जाते हैं इन्हें भी ध्यान में रखना है। विश्व स्वास्थ्य संगठन के अनुसार निवेशकों के लिए 1 दिन में एक चम्मच लगभग 5 ग्राम के प्रति नमक की आवश्यकता होती है वही 2 से 15 वर्ष के बच्चों के लिए नमक की आवश्यकता कम होती है वेस्को के मुकाबले। जबकि शक्कर की जरूरत आवश्यकता के अनुसार आप ले सकते हैं जो शक कर लेते हैं उसमें पांच से 10% ही चीनी के सेवन की सलाह दी जाती है।

आहार में भी नमक हमें मिल जाता है जरूरत है हमें उसे पहचानने की नूडल्स पनीर नमकीन स्नैक्स सेक्स आचार जैम जेली यह ऐसे माध्यमिक जिनको खाने से हमें नमक मिल जाता है इसी प्रकार सोडा फलों का रस कैंडीज शेक मेकर स्नेक्स से चीनी मिल जाती है लेकिन दोनों का ही अत्यधिक इस्तेमाल शरीर के लिए ठीक नहीं होता है।

यह भी पढ़ें – पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह ने पुलिस कमिश्नर को लिखा पत्र, सीएम शिवराज पर FIR दर्ज करने की मांग

नमक और चीनी के सेवन को कैसे कंट्रोल किया जा सकता है आइए जानें

  • खाना खाते समय अलग से नमक का उपयोग न करें
  • किसी भी जंक फूड को खरीदने से पहले उसका लेबल पा लेंगे उस में कितना नमक या चीनी है
  • नमकीन स्नैक्स और मीठे कैंडिस का सेवन सीमित करें
  • बाजार से खरीदने की अपेक्षा घर पर ही इसे तैयार करें
  • पैक्ड खाने को ना कहें
  • स्नेक्स के तौर पर फल खाएं
  • चीनी के लिए आप किसमिस अंजीर मुनक्का जैविक गुण साहब नारियल ले सकते हैं
  • शुगर की अधिकता से बचने के लिए कम मात्रा में कई बार भोजन करें

यह भी पढ़ें – 5204 पटवारियों की भर्ती, मानदेय वृद्धि, 900 करोड़ की परियोजनाएँ, पढ़े शिवराज कैबिनेट के 7 बड़े फैसले

स्तनपान कराने वाली महिलाओं को भी इस चीज का सुझाव दिया है डब्ल्यूएचओ ने की नमक का वह एक नियंत्रण में उपयोग करें वह अन्य स्थित वजह से अगर आपको मधुमेह है या आपको उच्च रक्तचाप है तो उस कंडीशन में भी आपको पूरी तरह छोड़ने की बजाय निर्धारित मात्रा में शामिल करने की सलाह दी जाती है।

नोट – नमक और चीनी का सेवन अपने शरीर के हिसाब से लें इसके लिए आप डॉक्टर की परामर्श भी ले सकते हैं