इस कंपनी का बायरल ड्रेसिंग ड्रम फटने से श्रमिक की मौत, परिजन नहीं ले जा रहे शव को घर, जानिए

सिंगरौली,राघवेन्द्र सिंह गहरवार

एक बार फिर आम जनता व मजदूरो के लाशों पर अपना विकास करने वाली कंपनी रिलायंस ने एक बार फिर एक घर का चिराग बुझा दिया। अभी हाल ही में रिलायंस कंपनी के ऐश डैम फूटने से मासूम सहित आधा दर्जन लोग मौत के मुंह मे चले गए थे, जिसकी जांच चल ही रही थी कि जिला कलेक्टर व पुलिस अधीक्षक का ही तबादला हो गया, क्योकि कंपनी पर FIR दर्ज कर मजिस्ट्रियल जांच बैठ चुकी थी। लेकिन केंद्र तक अपनी पहुंच रखने वाली कंपनी पर FIR करना जिले के कलेक्टर और पुलिस अधीक्षक को महंगा पड़ गया और उनके तबादले का फरमान आ गया।

वहीं एक बार पुनः रिलायंस सासन पावर लिमिटेड कंपनी के अंदर कल रात में बायरल ड्रेसिंग ड्रम फटने से ड्यूटी के दौरान श्रमिक संजय यादव पिता स्व. रंगदारी यादव उम्र 32 वर्ष निवासी – टूसा खाड़ (अमहरा) को घायलावस्था में नेहरू शताब्दी चिकित्सालय जयन्त में उपचार हेतु भर्ती कराया गया था, जहां पर उपचार के दौरान उसकी मौत हो गयी है।

अब यैसे में सवाल खड़ा होता है कि आखिर कब तक कंपनी के शिकार सिंगरौली की जनता व मजदूर होते रहेंगे। वही सूत्रों की माने तो कुछ सिंगरौली के नेताओ का भी संरक्षण कंपनी को प्राप्त है। अब देखना ये है कि इस मामले में कंपनी पर FIR दर्ज कर कार्रवाई होती है या मामला यूंही दब जायेगा।

बताया जा रहा है कि कम्पनी द्वारा नौकरी न मिलने और कम मुआवज़ा दिये जाने से मृतक के परिजन नेहरु शताब्दी चिकित्सालय में शव को छोड़कर अपने घर वापस घर जा रहे हैं। नौकरी और मुआवजा के लिये अड़े हुये हैं ।