पीएचई विभाग द्वारा किये जा रहे भ्रष्टाचार से भड़के विधायक मुकेश पटेल, इन मुद्दों को लेकर उठाये सवाल

पीएचई विभाग की घटिया कार्यप्रणाली, मनमानी और भ्रष्टाचार के खिलाफ जियोस की बैठक में विधायक मुकेश पटेल ने नाराजगी जताई है। साथ ही जांच की मांग भी की है।

अलीराजपुर, यतेन्द्रसिंह सोलंकी। अलीराजपुर (Alirajpur) जिले में पीएचई विभाग (PHE Department) की घटिया कार्यप्रणाली, मनमानी और भ्रष्टाचार के खिलाफ जिले के प्रभारी व कैबिनेट मंत्री राजवर्धन सिंह दत्तीगांव की अध्यक्षता में गुरूवार को जिला योजना समिति की बैठक हुई। जहां विधायक मुकेश पटेल (MLA Mukesh Patel) ने कड़ी नाराजगी जताते हुए जांच की मांग की। जिस पर प्रभारी मंत्री दत्तीगांव ने कलेक्टर को उचित कार्रवाई करने के निर्देश दिए।

यह भी पढ़ें…Rajgarh : तालाब में डूबने से दो बच्चों की मौत, नहाते समय हुआ हादसा

विधायक पटेल ने पीएचई विभाग की मनमानी बयां की
बैठक में विधायक पटेल ने कहा कि पीएचई विभाग द्वारा जिले में मनमानीपूर्ण तरीके से बिना स्वीकृति के नलकूप खनन और जहां पर आवश्यकता नहीं है वहां नलकूप खनन किया जा रहा है। उन्होने कहा कि जहां लोगो को पेयजल की सख्त आवश्यकता है वहां पर लोगों की समस्याओं को जानबूझकर नजरअंदाज किया जा रहा है। विधायक पटेल ने प्रभारी मंत्री को समस्याओं से अवगत कराते हुए पीएचई विभाग पर आरोप लगाया कि लोगों की पेयजल की समस्या हो रही उस पर विभाग द्वारा कोई ध्यान नहीं दिया जा रहा है। गर्मी के मौसम में जहां पानी का स्तर अत्यधिक नीचे चले जाता है वहां पर सिंगल फेस विद्युत मोटर लगाई जाना थी जो अब तक नहीं लगाई गई। ये विभाग की सबसे बड़ी लापरवाही है।

भारी भ्रष्टाचार किया जा रहा, जांच करवाएं
विधायक पटेल ने आगे कहा कि पीएचई विभाग द्वारा स्कूल एवं आंगनबाड़ी में पेयजल स्टैंड निर्मित किया जा रहा है। उसमें भी भारी भ्रष्टाचार किया जा रहा है।जिसपर विधायक ने जांच की मांग की है। विधायक पटेल ने मांग की कि जल जीवन मिशन के अंतर्गत पीएचई विभाग द्वारा नल जल योजना की पाइप लाइन और टंकी निर्मित की जा रही है। उसमें विभाग और ठेकेदारों की मिलीभगत से गुणवत्ताहीन कार्य किया जा रहा है इसकी भी जांच करवाई जाए। साथ ही पीएचई द्वारा फ्लोरोसिस विभाग द्वारा बिछाई गई पाइप लाइन के कार्यो में भी गुणवत्ताहीन कार्य होने का आरोप लगाया।

नानपुर-खट्टाली रोड निर्माण में घटिया सामग्री का हो रहा उपयोग
इस दौरान विधायक पटेल ने कहा कि नानपुर से खट्टाली रोड का निर्माण एमपीआडीसी द्वारा करवाया जा रहा है। इस निर्माण में संबंधित ठेकेदार द्वारा गुणवत्ताहीन सामग्री और मटेरियल का उपयोग कर निर्माण कार्य में भ्रष्टाचार किया जा रहा है। इसकी भी एक समिति बनाकर जांच करवाई जाए। साथ ही कोरोना काल में शासन द्वारा गरीब परिवारों को नि:शुल्क राशन दिया गया उसकी भौतिक सत्यापन करवाने की मांग की। इसके अलावा विधायक पटेल द्वारा अन्य महत्वपूर्ण मुद्दों पर प्रभारी मंत्री दत्तीगांव से चर्चा की गई।

पीएचई विभाग द्वारा किये जा रहे भ्रष्टाचार से भड़के विधायक मुकेश पटेल, इन मुद्दों को लेकर उठाये सवाल

यह भी पढ़ें…Khandwa : पत्नी को जिंदा जलाने वाले को मिली आजीवन कारावास की सजा