Ashoknagar : रघुवंशी समाज ने OBC में शामिल करने की मांग को लेकर सीएम शिवराज के नाम एसडीएम को सौंपा ज्ञापन

अशोकनगर, हितेंद्र बुधौलिया। मप्र (MP) में करीब 20 लाख की आबादी वाले रघुवंशी समाज ( Raghuvanshi Samaj) जो अशोकनगर (Ashoknagar) सहित शिवपुरी, गुना एवं विदिशा में अच्छी खासी संख्या में आते हैं। उन्होंने अशोकनगर जिला मुख्यालय पर सीएम शिवराज (CM Shivraj) के नाम ज्ञापन कलेक्ट्रेट के सामने एसडीएम को सौंपा, जिसमें रघुवंशी समाज को पिछड़ा वर्ग में शामिल करने के लिए मांग की। कोलारस विधायक वीरेंद्र रघुवंशी (Kolaras MLA Virendra Raghuvanshi) के नेतृत्व में भारी संख्या में जुटे रघुवंशी समाज के लोगो ने मध्यप्रदेश में रघुवंशी समाज को सामाजिक और शैक्षणिक रूप से अत्यंत पिछड़ी अवस्था में बताते हुए अपनी जाति को पिछड़ा वर्ग में शामिल कराने की मांग की है।

यह भी पढ़ें…Jabalpur : सड़क पर टहल रहे युवक को बैल ने मारा सींग, इलाज के 8 दिन बाद मौत

उल्लेखनीय है कि हाल ही में केंद्र सरकार (central government) द्वारा संविधान संशोधन करके पिछड़ा वर्ग में जातियों को शामिल करने का अधिकार राज्यों को दिया है। इसी के बाद कई राज्यों में अलग-अलग समाज अपने आप को पिछड़ा वर्ग में शामिल कराने के लिए संघर्ष करने लगी है। इसी को लेकर मध्यप्रदेश में रघुवंशी समाज अपने आप को पिछड़ा वर्ग में शामिल कराने के लिए मांग कर रही है। आगामी 10 तारीख को पूरे प्रदेश में जिला मुख्यालयों पर समाज के द्वारा मांग की जाएगी उल्लेखनीय है कि मध्य प्रदेश में रघुवंशी समाज अशोकनगर गुना विदिशा शिवपुरी के अलावा रायसेन होशंगाबाद नरसिंहपुर जबलपुर छिंदवाड़ा बैतूल खरगोन धार इंदौर उज्जैन देवास आदि जिलों में भी अच्छी खासी संख्या में है।

ज्ञापन में बताया गया है कि ग्रामीण इलाको में अधिकांश लघु एवं सीमांत कृषक इसी समाज के हैं, तथा शहरों में भी मिल मजदूर तथा निजी संस्थानों में यह लोग काम करते हैं। जो निम्न आय वर्ग के हैं। उच्च तकनीकी तथा उच्च शिक्षण संस्थानों में समाज के विद्यार्थियों की संख्या भी ना के बराबर है। निजी व्यवसाय में समाज के प्रतिनिधित्व को भी कम बताया गया है ।इन सारे मुद्दों को लेकर वह खुद को इस क्षेत्र में पिछड़ी जाति बता रहे हैं। उमा भारती के मुख्यमंत्त्रित्व काल में मध्य प्रदेश राज्य पिछड़ा वर्ग आयोग ने 2004 में रघुवंशी जाति को पिछड़ा वर्ग की सूची में सम्मिलित करने की अनुशंसा की भी थी। मगर राघवजी जाति में रघुवंशी जोड़ने के संशोधन वाला प्रस्ताव मंत्रिमंडल के समक्ष प्रस्तुत नहीं हो पाने के कारण यह लंबित हो गया था।

उल्लेखनीय है मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के नाम सौंपे गए ज्ञापन में मंत्री बृजेंद्र सिंह यादव ,सांसद के पी यादव ,राधौगढ़ विधायक जयवर्धन सिंह,अशोकनगर विधायक जजपाल सिंह जजजी, चंदेरी विधायक चौहान सिंह गोपाल सिंह चौहान सहित बीजेपी एवं कांग्रेस के रघुवंशी समाज के जिला अध्यक्ष सहित कई लोगों की अनुशंसा पत्र भी रघुवंशी को पिछड़े वर्ग में शामिल करने के लिए प्रस्तुत किए गए। रघुवंशी समाज के कई राजनीतिक एवं जनप्रतिनिधि और कलेक्ट्रेट में उपस्थित रहे ।

यह भी पढ़ें…दतिया पुलिस की कार्रवाई, चेकिंग के दौरान 1 किलो 465 ग्राम सोने के आभूषण और 9 लाख रुपए जब्त, 3 गिरफ्तार