भाजपा सांसद और कांग्रेस विधायक के बीच तनातनी, बैठक में हुई तीखी नोकझोंक

अशोकनगर| जिले में भाजपा सांसद एवं कांग्रेस की विधायकों के बीच लंबे समय से चल रही तनातनी आज एक बैठक में फिर देखने को मिली।  कलेक्ट्रेट सभाकक्ष में जिला विकास समन्वयक एवं निगरानी समिति (दिशा) की बैठक में भाजपा सांसद डॉ के पी यादव, एवं कॉंग्रेस के मुंगावली विधायक ब्रजेन्द्र सिंह यादव के बीच तीखी तकरार एवं बहस हो गई। विधायक द्वारा मुंगावली स्मार्ट सिटी का काम देख रहे सब इंजीनियर को तू कह कर संबोधित करने पर सांसद ने विरोध जताते हुये विधायक को मर्यादित भाषा उपयोग करने की बात कह दी। इसके बाद दोनों में बहस हो गई। 

ज्योतिरादित्य सिंधिया को हरा कर सांसद बने केपी यादव एवं कोंग्रेस के विधायकों में इस तरह की तकरार लगातार बढ़ती ही जा रही है।दोनो के बीच यह बहस यही नही रुकी विकास कार्यो की समीक्षा में भी एक दूसरे  के बीच तीखी बातचीत होती रही ,इसमे अशोकनगर विधायक जजपाल सिंह जज्जी भी मुंगावली विधायक के साथ रहे। कमाल की बात यह रही कि खुद को सिंधिया के सिपहसलार बताने बाले जिले के तीनों विधायको में से अशोकनगर एवं मुंगावली विधायक तो सांसद को घेरने में लगे रहे मगर चन्देरी विधायक गोपाल सिंह चौहान इस पूरे प्रकरण में शांत बने रहे। सांसद डॉ केपी यादव की अध्यक्षता बाली इस बैठक में अशोकनगर जिले के तीनों विधायक , कलेक्टर डॉ मंजू शर्मा ,पुलिस अधीक्षक पंकज कुमावत के साथ साथ जिला प्रशासन के अधिकारी कर्मचारी उपस्थित थे। 

ऐसे बना विवाद -बैठक में सुझाव ,प्रश्न और उत्तर का दौर चल रहा था। इसी बीच मुंगावली मिनी स्मार्ट सिटी को लेकर कुछ प्रश्न पूछे गए ,तो कुछ सवालों का जवाब स्मार्ट सिटी बना रहे ठेकेदार देने लगा। जबकि कुछ प्रश्न के उत्तर सब इंजीनियर दे रहे थे, जिसको लेकर स्पष्ट नहीं हो रहा हो पा रहा थी कि मिनी स्मार्ट सिटी को लेकर क्या चल रहा है। इसी बीच मुंगावली विधायक बृजेंद्र सिंह यादव द्वारा सब इंजीनियर को तू शब्द कहकर संबोधित कर दिया गया। इतना सुनते ही स्थानीय सांसद डॉक्टर के पी यादव विधायक ब्रजेन्द्र यादव पर भड़क गए और बैठक में तू शब्द का प्रयोग ना करने की विधायक को हिदायत दे डाली, हालांकि विधायक बृजेंद्र सिंह यादव कह रहे थे की बैठक में ठेकेदार जवाब नहीं दे सकता क्योंकि वह  सरकारी कर्मचारी नहीं है।  ठेकेदार उनके जवाब किस अधिकार से दे सकता है इसी बात को लेकर विधायक ने सब इंजीनियर को तू कह डाला।इतना ही नही विधायक के शब्दावली प्रयोग को लेकर नाराजगी जताते हुए सांसद ने विधायक  बृजेंद्र  सिंह यादव से कहा कि यह बैठक मेरे द्वारा बुलाई गई है। इसमें सिर्फ विधायकों को सुझाव देने के लिए बुलाया था और आप सिर्फ सुझाव ही दें।  कलेक्टर डॉ मंजू शर्मा ने भी मिनी स्मार्ट सिटी के इंजीनियर को फटकार लगाते हुये कहा कि बैठक में कोई भी बाहर का व्यक्ति नहीं आएगा।