Balaghat : कोतवाली थाना प्रभारी सहित 3 एएसआई और 3 आरक्षक निलंबित, जाने क्यों ?

बालाघाट, सुनील कोरे। बालाघाट (Balaghat) में 23 अगस्त को नगरीय क्षेत्र के वार्ड क्रमांक 24 में विहिप पदाधिकारी विमल गुप्ता के सूने मकान में एक बदमाश द्वारा चोरी की वारदात को अंजाम दिया गया था। जिसके बाद आरोपी कपूर कामड़े उर्फ काला टीआई को पुलिस द्वारा पकड़ लिया गया था। वहीं बाद में आरोपी थाने से फरार हो गया था। और इसी मामले में कोतवाली थाना प्रभारी मंशाराम रोमड़े, कार्यवाहक एएसआई रामकिशोर राहंगडाले, भीमराव मेश्राम, भूमेश्वर वामनकर और संत्री आरक्षक राजेश सोनी, शहजाद तथा मददगार आरक्षक वेदप्रकाश राहंगडाले को अपने कर्तव्य के प्रति लापरवाही और उदासीनता मानते हुए पुलिस अधीक्षक अभिषेक तिवारी ने तत्काल प्रभाव से निलंबित (Suspended) कर लाईन अटैच (line attached) कर दिया है।

यह भी पढ़ें…सीहोर में महिलाओं ने अनूठे अंदाज में शिवराज से लगाई गुहार, गाना गा कर की मुआवजे की मांग

थाने से चोर के पुलिसकर्मियों को चकमा देकर भागने की घटना के बाद लापरवाह पुलिस अधीक्षक के निलंबन आदेश में थाना प्रभारी मंशाराम रोमड़े को लेकर गंभीर बात कही गई है, आदेश में लिखा है कि थाना कोतवाली में पदस्थ पुलिसकर्मियों के उपरोक्त आचरण से स्पष्ट है कि थाना प्रभारी का अपने अधिनस्थ कर्मचारियों पर नियंत्रण का अभाव है। तथ्ज्ञज्ञ थाना कार्य में अरूचि प्रदर्शित होती है, साथ ही थाने से चोर के भाग जाने के बाद भी थाना प्रभारी का तत्काल थाना नहीं पहुंचना, कर्तव्य के प्रति लापरवाही, गैर जिम्मेदारी और उदासीनता को प्रदर्शित करता है।

पुलिस ने किया फेरबदल
गौरतलब हो कि गत 23 अगस्त को दोपहर नगरीय क्षेत्र के वार्ड क्रमांक 24 निवासी विहिप पदाधिकारी विमल गुप्ता के सूने मकानम में शातिर चोर झुग्गी झोपड़ी निवासी काला टीआई उर्फ कपूर कामड़े, घर के गेट को फांदकर और वजनी टाईल्स से लकड़ी के दरवाजे का एक पल्ला तोड़कर घर के अंदर प्रवेश किया, जहां चोरी करते समय मिली आहट पर पड़ोसियों ने विमल गुप्ता के घर की घेराबंदी और तत्काल ही इसकी सूचना कोतवाली पुलिस को दी। जिसके बाद घटनास्थल पहुंची पुलिस ने घर में घुसे चोर को पकड़कर उसके पास से चोरी की गई आर्टिफिशियल ज्वेलरी को बरामद किया था। पड़ोसियों की जागरूकता के चलते पकड़ा गये चोर को लेकर जब पुलिस थाने पहुंची तो वहां से वह पुलिसकर्मियों को चकमा देकर भाग गया था। थाने से चोर के भागने की घटना से बचने के लिए पुलिस ने एफआईआर में चोर को घटनास्थल से भगा दिया। और पूरी घटना का ही फेरबदल कर दिया।

Balaghat : कोतवाली थाना प्रभारी सहित 3 एएसआई और 3 आरक्षक निलंबित, जाने क्यों ?Balaghat : कोतवाली थाना प्रभारी सहित 3 एएसआई और 3 आरक्षक निलंबित, जाने क्यों ?

विमल गुप्ता के घर चोरी की घटना को लेकर पिता मां की गैर मौजूदगी में जब बेटी पुलिस में शिकायत करने पहुंची तो यहां थाने से चोर के भागने की घटना को छिपाने के लिए कोतवाली पुलिस द्वारा दर्ज कराई गई एफआईआर में पुलिस ने चोर को घटनास्थल से ही भगा दिया। जो विमल गुप्ता की बेटी प्रणिती गुप्ता द्वारा दर्ज कराई गई एफआईआर में स्पष्ट नजर आती है। इस तरह न केवल थाने से चोर के भागने में पुलिस की लापरवाही सामने आई है बल्कि एफआईआर जैसे गंभीर कार्यवाही में भी पुलिस ने गुमराह करने का काम किया हैं।

पुलिस के हत्थे चढ़ा आरोपी काला टीआई
चोरी की वारदात में रंगेहाथ पकड़ाया शातिर चोर कपूर कामड़े उर्फ काला टीआई, थाना लाये जाने के बाद बहाना कर पुलिसकर्मियों को चकमा देकर थाने से भागने में कामयाब रहा था। जिसको लेकर अपनी लापरवाही से अपनी ही किरकिरी करवा चुकी पुलिस के लिए फरार आरोपी को पकड़ने की चुनौती को चैलेंज के रूप में लेकर जगह-जगह उसकी तलाश की और अंततः फरार आरोपियों को गिरफ्तार करने गठित पुलिस टीम ने उसे झुग्गी झोपड़ी के पीछे जंगल वाले भाग से बीती रात गिरफ्तार कर लिया है। बताया जाता है कि कपूर कामड़े उर्फ काला टीआई एक शातिर और आदतन चोर है, जिस पर पूर्व में कई चोरी के मामले दर्ज है।

सीएसपी कर्णिक श्रीवास्तव का कहना है कि थाने से आरोपी के चले जाने के मामले में फरार आरोपी को गिरफ्तार कर लिया गया है। जो एक आदतन चोर है, जिस पर पूर्व में भी कई मामले दर्ज है। मामले में विभागीय तौर से वरिष्ठ अधिकारी महोदय द्वारा पुलिसकर्मियों पर कार्रवाई की गई है।

यह भी पढ़ें…Chhindwara: वशीकरण के शक में सास ने ली बहु की अग्निपरीक्षा, दहकते अंगारो पर चलवाया, देखें Video