बालसमुंद चेकपोस्ट पर अज्ञात बदमाशों ने की फायरिंग, मचा हड़कंप

बताया जा रहा है गाडी पास कराने को लेकर दो युवक बाइक पर आये और खिड़की पर फायरिंग कर दी| पेट्रोल बेम फेंके जाने की भी बात सामने आई है|

बड़वानी, डेस्क रिपोर्ट| ट्रक चालकों से अवैध वसूली को लेकर सुर्ख़ियों में आई बड़वानी (Badwani) जिले की बालसमंद ( balsamand) परिवहन चैक पोस्ट (Check Post) पर सोमवार को अज्ञात लोगों ने फायरिंग (Firing) की। हालांकि घटना में कोई हताहत नहीं हुआ। बताया जा रहा है गाडी पास कराने को लेकर दो युवक बाइक पर आये और खिड़की पर फायरिंग कर दी| पेट्रोल बेम फेंके जाने की भी बात सामने आई है|

जानकारी के मुताबिक मुंबई आगरा राष्ट्रीय राजमार्ग क्रमांक तीन पर बालसमुद स्थित परिवहन जांच चौकी पर सोमवार देर शाम फायरिंग की घटना सामने आई है| प्रत्यक्षदर्शियों के अनुसार दो अज्ञात लोग बाइक से परिवहन जांच चौकी के समीप से गुजरे, इस दौरान उन्होंने जांच चौकी की खिड़की पर फायर किए। मौके पर गोली चलाई जाने के निशान भी मिले हैं। जो तसवीरें सामने आई है, उसमे कांच में गोलियों के छेद नजर आ रहे है|

पिछले कुछ दिनों से देश भर में इस चेकपोस्ट का नाम सुर्ख़ियों में है| इंदौर ट्रक ऑपरेटर एवं ट्रांसपोर्ट एसोसिएशन के अध्यक्ष सीएल मुकाती समेत अन्य जिलों और राज्यों के संगठन सरकार तक यहां होने वाली वसूली की शिकायत कर चुके हैं| अधिकारियों से लेकर मुख्यमंत्री, मंत्री यहां तक प्रधानमंत्री तक लिखित शिकायत की जा चुकी है| जिसमे यहां होने वाली अवैध वसूली, गुंडागर्दी पर लगाम लगाने की मांग की जा रही है|

एसोसिएशन का कहना है सबसे ज्यादा अवैध वसूली बड़वानी के बालसमंद (सेंधवा ) परिवहन चैक पोस्ट पर होती है। इस चैक पोस्ट के प्रभारी डीपी पटेल एवं वहां कार्यरत राहुल कुशवाह द्वारा चालकों को परिवहन नियमों और वर्दी का डर दिखाकर प्रताड़ित किया जाता है। और डरा धमकाकर अवैध वसूली की जाती है। एसोसिएशन के पदाधिकारियों ने कहा कि डीपी पटेल और राहुल कुशवाह की शिकायत कई बार परिवहन विभाग के अधिकारियों और कलेक्टर, एसपी, मंत्री मुख्यमंत्री को कई बार की जा चुकी है लेकिन इन दोनों के खिलाफ कोई एक्शन नहीं लिया गया। समस्त परिवहन चौकियों से हर माह लगभग 200 करोड़ रुपए की अवैध वसूली होती है। सेंधवा से करीब 5000 से 6000 मालवाहक वाहन 24 घंटे में गुजरते हैं जिनसे 70 से 80 लाख रुपये प्रतिदिन की वसूली होती है जिसकी जानकारी परिवहन विभाग के आला अधिकारियों को है लेकिन कोई एक्शन नहीं लेता।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here