Betul News : पेयजल की किल्लत से ग्रामीण परेशान, बोतल में गंदा पानी लेकर पहुंचे कलेक्ट्रेट, ढाई माह से बंद पड़ा नल जल योजना

नल-जल योजना से पानी सप्लाई किया जाता था। लेकिन ढाई महीने से क्षेत्र का ट्रांसफार्मर जल जाने से बिजली सप्लाई बाधित है। इसकी वजह से नल जल योजना बंद पड़ी हुई है।

Amit Sengar
Published on -
betul news

Betul News : मध्य प्रदेश के बैतूल जिले से एक बड़ी खबर आ रही है। जहाँ ग्राम पंचायत बोरीकास के बंजारीढाना में ग्रामीण पेयजल संकट से जूझ रहे हैं। पिछले ढाई महीने से नल जल योजना बंद होने से यहां ग्रामीण झिरिया का पानी पी रहे हैं। ग्रामीण महिलाएं आज इस्तेमाल किए जा रहे पानी को बोतल में भरकर कलेक्ट्रेट पहुंची। जहां उन्होंने पेयजल को लेकर हो रही दिक्कतें अधिकारियों से साझा की और जल्द से जल्द समस्या के निराकरण की गुहार लगाई है।

क्या है पूरा मामला

ग्रामीणों ने बताया कि ग्राम पंचायत बोरीकास के बंजारीढाना में करीब ढाई माह से पीने का पानी और निस्तार के लिए पानी की गंभीर समस्या चल रही है। यहां पहले नल-जल योजना से पानी सप्लाई किया जाता था। लेकिन ढाई महीने से क्षेत्र का ट्रांसफार्मर जल जाने से बिजली सप्लाई बाधित है। इसकी वजह से नल जल योजना बंद पड़ी हुई है।

इस वजह से ग्रामीण महिलाओं को पीने के पानी के लिए दो किमी दूर जाकर कुएं और झिरिया से पानी लाना पड़ रहा है। यह पानी भी बेहद दूषित होता है। लेकिन मजबूरी में इसे ही छान कर पीना पड़ रहा है। इस पानी के सेवन से ढाने में लोग उल्टी दस्त जैसी बीमारियों से भी पीड़ित हो रहे हैं। ग्रामीणों ने इस समस्या से निजात दिलाने नल जल योजना शुरू करने की मांग की है।

बैतूल से वाजिद खान की रिपोर्ट


About Author
Amit Sengar

Amit Sengar

मुझे अपने आप पर गर्व है कि में एक पत्रकार हूँ। क्योंकि पत्रकार होना अपने आप में कलाकार, चिंतक, लेखक या जन-हित में काम करने वाले वकील जैसा होता है। पत्रकार कोई कारोबारी, व्यापारी या राजनेता नहीं होता है वह व्यापक जनता की भलाई के सरोकारों से संचालित होता है। वहीं हेनरी ल्यूस ने कहा है कि “मैं जर्नलिस्ट बना ताकि दुनिया के दिल के अधिक करीब रहूं।”

Other Latest News