भालूओं के हमले में 2 की मौत 3 गंभीर, ग्रामीणों ने वन विभाग पर लगाया लापरवाही का आरोप

भोपाल,डेस्क रिपोर्ट

शहडोल वन वृत्त के अंतर्गत एक भालूओं के हमले में दो लोगों की मौत हो गई जबकि तीन गंभीर रूप से घायल हैं। ब्यौहारी उप वन मण्डल के दायरे में आने वाले वन परिक्षेत्र गोदवाल के पतेरा टोला में सड़क से लगे जंगल में गुरूवार की दोपहर को मादा भालू और उसके बच्चे ने ग्रामीणों पर हमला बोल दिया, हमले से दो ग्रामीणों की मौके पर मौत हो गई जबकि तीन गंभीर रूप से घायल है, जिनका उपचार किया जा रहा है। घटना के बाद से ग्रामीणों में आक्रोश है। ग्रामीणों का कहना है कि जब तक भालू को पकड़ा नहीं जायेगा, तब तक शव को उठाने नहीं देंगे। सूचना के बाद पुलिस और वन विभाग का अमला घटना स्थल पर पहुंच गया।

मादा भालू और उसके बच्चों के हमले में बल्लू सिंह उम्र 20 वर्ष और जगत देव सिंह उम्र 22 वर्ष की जान चली गई। ग्रामीण अपने मवेशियों को गांव के बाहर जंगल में छोडऩे के लिए गये थे तभी अचानक मादा भालू और उसके बच्चे ने ग्रामीणों को पर हमला कर दिया।भालू जब ग्रामीणों को अपना निशाना बना रहा था, तभी उन्हें बचाने के लिए तीन और लोग राजेश सिंह, हरीलाल और दिनेश मौके पर पहुंच और भालू के हमले से बचाने का प्रयास किया, लेकिन वह भी उनकी चपेट में आ गये। तीनों गंभीर रूप से घायल ग्रामीणों को सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र ब्यौहारी में उपचार के लिए भर्ती कराया गया है।

घटना के बाद से ग्रामीणों में आक्रोश है, ग्रामीणों का कहना है कि जब तक भालू पकड़ा नहीं जायेगा, वह शव को शव को नहीं ले जाने देंगे। वन विभाग की कार्य प्रणाली पर भी ग्रामीणों ने सवाल खड़े किये हैं। उनका कहना है कि इलाके में वन विभाग के कर्मचारी और अधिकारियों की लापरवाही से ही ये हादसा हुआ है।