बड़ी खबर: हर रविवार सम्पूर्ण मध्य प्रदेश में रहेगा लॉकडाउन

भोपाल। मध्य प्रदेश Madhya Pradesh) में अनलॉक-1 शुरू होने के बाद से संक्रमित मरीजों की संख्या में तेजी से इजाफा हुआ है। कई जिलों में बड़ी संख्या में नए मरीज सामने आ रहे हैं| कोरोना वायरस संक्रमण के बढ़ते मामलों को देखते हुए सरकार ने हर रविवार को पूरे राज्‍य में लॉक डाउन (Lockdown) रखने का फैसला किया है|

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान (Shivraj Singh Chauhan) ने कोरोना की समीक्षा के दौरान इस सम्बन्ध में निर्देश दिए हैं| हर रविवार को संपूर्ण मध्यप्रदेश में लॉकडाउन लागू रहेगा| इस दौरान केवल आवश्‍यक सेवाओं को ही अनुमति दी जाएगी। सीमावर्ती जिलों में चौकसी बढ़ाने के निर्देश दिए गए हैं| गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा (Narottam Mishra) ने यह जानकारी दी। उन्‍हाेंने कहा कि अब हर रविवार को संपूर्ण मध्यप्रदेश में लॉकडाउन रहेगा। उन्होंने बताया कि राज्‍य में चलाए रहे किल कोरोना अभियान के तहत ऐसा किया जा रहा है। दूसरे प्रदेशों से आ रहे लोगों के कारण प्रदेश में संक्रमण का खतरा बढ़ रहा है| जिसके चलते प्रदेश में आने-जाने वाले लोगों की बॉर्डर पर जांच की जायेगी|

42% लोगों का हुआ सर्वे, सीमावर्ती जिलों में चौकसी बढ़ेगी
गृह ओर स्वास्थ्य मंत्री नरोत्तम मिश्रा ने बताया कि किल कोरोना अभियान में लगातार सैंपल लिये जा रहे हैं| 42% लोगों का सर्वे हो गया है। डेंगू और मलेरिया के मरीज भी मिले हैं। बॉर्डर से लोग एमपी में आ रहे हैं तो परिस्थिति बदल जाती हैं। मुरैना में धोलपुर के और जलगांव से बडवानी में लोग आ रहे हैं। बाहर से आने वालों से हम परेशान हैं। सीएम ने एडवाइजर बनाने को कहा है। बॉर्डर पर जांच करने के निर्देश दिए हैं।

बिना मास्क मिले तो पुलिस देगी मास्क
मंत्री डॉ मिश्रा ने बताया कि अब एमपी 15 वें स्थान पर है.| रोजाना 12 हजार सैंपल एमपी मे लिए जा रहे हैं, रिकवरी रेट 75 फीसदी है| शहर में एक गली में ज्यादा केस मिलेंगे तो पूरे शहर की बजाय केवल प्रभावित इलाके में कर्फ्यू रहेगा| इसके अलावा अब पुलिस को भी अधिकार दिए जा रहे हैं कि, बिना मास्क के कोई मिलता है तो उसे मास्क दें और बदले मे उतनी राशि ली जाए

कमलनाथ धोखेबाज हैं : मिश्रा
नरोत्तम मिश्रा ने फरार विकास दुबे को लेकर कहा विकास दुबे यदि मप्र की सीमा में नजर आया तो बख्शा नहीं जाएगा| वहीं उन्होंने कांग्रेस पर हमला बोलते हुए कहा कमलनाथ धोखेबाज हैं, सत्ता का हस्तान्तरण धोखा नहीं है, वादा कर काम नहीं करना धोखा है|