कमलनाथ बताएं, केंद्र से मिले एक हजार करोड़ में से कितने रुपए किसानों को बांटे: राकेश सिंह

भोपाल। केन्द्र सरकार द्वारा प्रदेश को विभिन् न मदों का पैसा न दिए जाने को लेकर शनिवार को प्रदेश के 28 भाजपा सांसदों के निवास पर धरना प्रदर्शन को प्रदेश भाजपा के अध्यक्ष राकेश सिंह ने मीढिया से चर्चा के दौरान ढकोसलेबाजी बताते हुए कहा हे कि कांग्रेस, झूठ की राजनीति कर रही है। वह अपनी गलतियों को केंद्र पर थोपने की कोशिश कर रही है। चुनाव से पहले कांग्रेस ने कहा था कि कर्जा माफ करेंगे, आज तक माफ नहीं किया। भारी वर्षा से जो फसलें खराब हुईं उनका मुआवजा देना तो दूर सर्वे तक नहीं करवाया। केंद्र सरकार ने अपनी तरफ से दो बार दल भेजा। इसके पश्चात केंद्र सरकार ने 1 हजार करोड़ रूपए मध्यप्रदेश सरकार को भेजे। मुख्यमंत्री कमलनाथ और उनकी सरकार किसानों को अभी तक 100 करोड़ रूपए भी नहीं बांट पाई। यह पैसा प्रशासनिक खर्च चलाने के लिए नहीं, किसानों को देने के लिए दिया गया है।

अच्छा किया, कांग्रेस ने रास्ता बता दिया

भाजपा सांसदों के निवास का घेराव करने की कांग्रेस की नीति को प्रदेश अध्यक्ष ने कहा कि हमें इस बात से प्रसन्नता है। मैं कांग्रेस के नेताओं और मुख्यमंत्री कमलनाथ से कहना चाहता हॅू कि आपने यह बहुत अच्छा किया कि रास्ता खोल दिया। अभी तक हम ऐसा मानते थे कि घरों पर जाकर राजनीति नहीं होना चाहिए। लेकिन अब कांग्रेस ने इसकी शुरूआत कर दी है, जिससे हमारे लिए भी रास्ता खुल गया है।

किसानों के साथ नाइंसाफी कर रही प्रदेश सरकार

सिंह ने कहा कि कांग्रेस सरकार लगातार किसानों के साथ नाइंसाफी कर रही है, ज्यादती कर रही है। उन्होंने कहा कि पहले किसान यूरिया के लिए लाठियां खाया करता था, लाइनें लगा करती थीं। लेकिन केंद्र में नरेंद्र मोदी की सरकार बनने के बाद से यूरिया का संकट समाप्त हो गया है। मध्यप्रदेश में भी भाजपा की सरकार के समय कभी कोई कठिनाई नहीं हुई। अब कांग्रेस की कमलनाथ सरकार सोती रहती है। जब यूरिया की व्यवस्था करना चाहिए, तब आप टेंडर, तबादले, रेत, शराब के कार्यों में लगे होते हो। जब समय आता है और किसान परेशान होता है, तब ये अपना ठीकरा केंद्र पर थोपने लगते हैं।