जब मुख्यमंत्री हुए आगबबूला, मंच से बोले, एक-एक को सही कर दूंगा

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। शनिवार को गृहग्राम जैत पहुंचे मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान आगबबूला हो गए, और मंच से ही उन्होंने जमकर तीखे तेवर दिखाते हुए चेतावनी दे डाली, दरअसल जैत पहुँचे मुख्यमंत्री को ग्रामीणों ने पानी को लेकर शिकायत कर दी। फिर क्या था, मुख्यमंत्री को जैसे पता चला कि उनके  गृह ग्राम में पानी की समस्या है तो वह अपने गुस्से को काबू में नही रख पाए और उन्होंने मंच से ही हाथ में माइक लेकर अधिकारियों की क्लास लगा दी, उन्होंने कहा कि क्या अब मुख्यमंत्री हम्माली करेगा, नलों की एक-एक टोटी चेक करेगा। पानी आ रहा है या नही।

कोरोना की तीसरी लहर की संभावना नहीं, एम्स के डॉक्टर ने WHO की चेतावनी को नकारा!

सी एम ने सामने बैठे अधिकारियों को तरफ इशारा करते हुए कहा कि 15 दिन का समय दे रहा हूँ, पूरा चेक करो ठीक करो, इसके बाद शिकायत आई तो खेर नही। एक-एक को सही कर दूंगा। मुख्यमंत्री ने कलेक्टर और कमिश्नर को कहा कि वह खुद चेक करे, और अगर अब शिकायत आई तो तुम नही रहोगे।