उप चुनाव की तैयारियों में जुटा चुनाव आयोग, सीईओ ने दिए यह निर्देश

Election-Commission-reviewed-the-preparations-for-sub-election

भोपाल। मध्य प्रदेश में झाबुआ विधानसभा सीट खाली होने के बाद उप चुनाव होना है। जिनकी तैयारियों को लेकर बुधवार को मुख्यमं निर्वाचन पदाधिकारी वीएल कांताराव ने बैठक कर समीक्षा की। उन्होंने उपचुनाव की तैयारियों की समीक्षा करते हुए आबकारी एक्ट के तहत बनाये गये प्रकरणों का दस अगस्त तक निराकरण करने तथा आवश्यक पुलिस बल एवं संसाधनो की व्यवस्था अभी से प्लान करने के निर्देश दिए हैं। उपचुनाव के दौरान अधिकांश शिकायते निर्वाचन नामावली के संबंध में आती है। अत: सभी संबंधित अधिकारी च��नाव की घोषणा के पूर्व ही मतदाता सूची का पुनरीक्षण शुद्वता के साथ कर लें।

उन्होंने कहा कि किसी भी वोटर का नाम मतदाता सूची में जुडने से छूटना नही चाहिए, मृत व्यक्तियों के नाम मतदाता सूची से काट दे। उन्होंने कहा कि कार्य में लापरवाही बरतने वाले बीएलओ, बीएलओ सुपरवाजर पर कार्यवाही करे। ऐसे मतदाता जिनके मतदाता परिचय पत्र ब्लेक, व्हाईट है। उनके फोटो परिचय पत्र पर रंगीन फोटों लगाकर रंगीन एपिक कार्ड बनवाये। ऐसे नये मतदाता जो 18 वर्ष की उम्र पूरी कर चुके है,उनके नाम सूची में जुडवाये। उन्होंने कहा कि झाबुआ विधानसभा में 100 वर्ष से अधिक उम्र के मतदाताओं का सत्यापन करवा ले। मतदाता सूची के पुनरीक्षण कार्य से जुडे अधिकारियो को एक माह के अंदर सभी कार्यवाही सुनिश्चित करने के लिए निर्देशित किया। बैठक में कलेक्टर प्रबल सिपाहा एवं पुलिस अधीक्षक विनीत जैन भी मौजूद थे।