दवा खरीदी घोटाले में कारोबारी अशोक नंदा के खिलाफ FIR दर्ज

भोपाल।

कारोबारी औरआईपीएस स्कूल के डायरेक्टर अशोक नंदा के खिलाफ EOW में मामला दर्ज किया गया है। अशोक नंदा पर आरोप है कि मध्य प्रदेश के स्वास्थ्य विभाग से सप्लाई के आर्डर लिए और यह फंड फर्जी कंपनियों में ट्रांसफर कर दिया। EOW का कहना है कि यह करीब ₹50 करोड़ का घोटाला है। इसमें स्वास्थ्य विभाग के कई अधिकारी भी के शामिल होने की आंशका है। EOW के अनुसारअशोक नंदा द्वारा नेप्च्यून रेमेडीज नेताम इंडस्ट्रीज और छत्तीसगढ़ फार्मास्युटिकल्स के नाम से फर्म खोली गई थी। इन फर्मों ने 2004 से 2008 के बीच स्वास्थ्य विभाग से सप्लाई ऑर्डर लिए गए थे।

सप्लाई ऑर्डर की राशि तीनों कंपनियों के अकाउंट में जमा करने के बाद कोलकाता स्थित फर्जी कंपनियों के खातों में ट्रांसफर की गई थी। तीनों कंपनियों का संचालन नंदा द्वारा किया जा रहा था। तीनो ही कंपनियां वाणिज्यिक कर विभाग में रजिस्टर्ड नहीं थीं।