सरकार शराब पिला रही तो, पीकर वाहन क्यों नहीं चलाएंगे

-If-the-government-is-allow-to-drinking-alcohol-then-why-not-drink-and-run-the-vehicle

भोपाल। प्रदेश सरकार के उच्च शिक्षा मंत्री जीत पटवारी ने शराब को लेकर बयान देकर सरकार को कठघरे में खड़ा कर दिया है। उन्होंने कहा कि सरकार ही लोगों को अहातों में बैठाकर शराब पिला रही है। दूसरी तरफ पुलिस कहती है कि शराब पीकर वाहन नहीं चलाएं। ये दोनों ही बातें विरोधाभासी हैं। सरकार को भले ही शराब से राजस्व मिलता है पर अब इसमें सुधार की आवश्यकता है। हमारी सरकार धीरे-धीरे शराब की दुकानों की संख्या में कमी लाएगी। वे इंदौर में सड़क सुरक्षा सप्ताह के शुभारंभ कार्यक्रम में बोल रहे थे। 

पटवारी ने कहा कि जब एक गुंडे की हत्या होती है तो कानून-व्यवस्था पर सवाल उठ जाते हैं, लेकिन सड़क दुर्घटना में लोग मरते हैं तो हरकत नहीं होती है। यातायात में सुधार लाने के लिए पुलिस को व्यवहार सुधारना चाहिए। गलती करने वाले को प्यार से समझाना चाहिए। सड़क सुरक्षा सप्ताह के पहले दिन वाहन रैली के दौरान पटवारी का वीडियो बनाते युवक ने नियमों की धज्जियां उड़ाईं। वाहन पर बैठा युवक खुद की जान से खिलवाड़ करते हुए मंत्री का वीडियो बना रहा था। साथ ही गाड़ी की नंबर प्लेट पर कमिंग सून लिखा था। लेकिन पुलिस ने कार्रवाई नहीं की। पटवारी ने कहा कि 12वीं कक्षा का विद्यार्थी 15-16 साल का होता है। इसलिए 12वीं कक्षा के पाठ्यक्रम में यातायात विषय अनिवार्य किया जाएगा।