सीएम शिवराज सिंह चौहान के निर्देश- मेल नर्स की भर्ती करें, प्रक्रिया आसान हो

सीएम शिवराज ने कहा कि कोरोना संक्रमण (Coronavirus) की दृष्टि से देश में प्रदेश की स्थिति अच्छी है। संक्रमण में प्रदेश देश में 15वें स्थान पर है।

cabinet meeting

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान (Shivraj Singh Chauhan)  ने निर्देश दिए कि अस्पतालों में स्वास्थ्य कर्मियों (Health workers) की उपलब्धता के लिए मेल नर्स की भी भर्ती की जाए। भर्ती की प्रक्रिया आसान हो, जिससे तुरंत भर्ती की जा सके। सीएम शिवराज ने कहा कि कोरोना संक्रमण (Coronavirus) की दृष्टि से देश में प्रदेश की स्थिति अच्छी है। संक्रमण में प्रदेश देश में 15वें स्थान पर है। संक्रमण की दृष्टि से प्रदेश देश में 15वें स्थान पर आ गया है। प्रदेश की सात दिन की औसत पॉजिटिविटी रेट 19 प्रतिशत है।

यह भी पढ़े.. मध्य प्रदेश के इस जिले में 31 मई तक कोरोना कर्फ्यू, जानें क्या रहेगी छूट और पाबंदियां

सीएम हाउस से वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से प्रदेश में कोरोना की स्थिति एवं व्यवस्थाओं की समीक्षा के दौरान शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि  हमें जिलों के साथ ही ब्लॉक एवं ग्राम स्तर पर क्राइसिस मैनेजमेंट समूहों को सक्रिय कर कोरोना मुक्ति अभियान को व्यापक जन-आंदोलन बना देना है।होशंगाबाद जिले (Hoshangabad District) की समीक्षा में पाया गया कि वहाँ 369 गाँवों में कोरोना संक्रमण है। इन सभी गाँवों में माइक्रो कंटेनमेंट जोन बनाकर संक्रमण को पूरी तरह से रोक दिया जाए।अब सभी के सहयोग से कोरोना मुक्त गाँव एवं कोरोना मुक्त शहर बनाने का अभियान शुरू करना है।

यह भी पढ़े.. MP Weather Update : मप्र में झमाझम का दौर जारी, इन संभागों में बारिश का अलर्ट

गौरतलब है कि पिछले बैठक में सीएम शिवराज सिंह चौहान ने कहा था कि प्रदेश में चिकित्सालयीन कार्यों से जुड़े डिप्लोमा, प्रमाण-पत्र धारक तकनीशियनों को संविदा पर भर्ती (Contractual recruitment) करने के कार्य की गति को तेज किया जाए। इस कार्य के लिए नोडल अधिकारी नियुक्त कर कार्रवाई करने के लिए कहा था। प्रदेश में 189 प्रमाण-पत्र धारक एनेस्थेटिक तकनीशियन, 3,081 ओ.टी. तकनीशियन और 206 डिप्लोमाधारी एनेस्थेटिक तकनीशियनों को चिन्हित किया गया है। इनकी सूची संलग्न कर समस्त जिलों को उपलब्धता के आधार पर 3 माह के लिए 25 हजार रुपए प्रतिमाह की संविदा पर आवश्यकता अनुसार नियुक्त करने के लिए भेजी गई है।

इन जिलों पर विशेष ध्यान दें

शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि पिछले 24 घंटे में 11 हजार 598 नए प्रकरण आए हैं, 4445 मरीज स्वस्थ हुए हैं। सक्रिय प्रकरणों की संख्या एक लाख 2 हजार 486 है। जिलावार समीक्षा में पाया गया कि इंदौर में 1706, भोपाल में 1561, ग्वालियर में 987, जबलपुर में 825, रतलाम में 379, रीवा में 313, उज्जैन में 308, शिवपुरी में 252, सतना में 248, नरसिंहपुर में 237, अनूपपुर में 236, धार में 220, सीधी में 207, दमोह में 205 तथा सीहोर में 204 नए प्रकरण आए हैं। इन सभी जिलों पर विशेष ध्यान दिया जाए ।

प्रभारी मंत्रियों को नई जिम्मेदारी

सीएम शिवराज सिंह चौहान ने निर्देश दिए कि सभी प्रभारी मंत्री वीडियो कॉन्फ्रेंस के माध्यम से ब्लॉक स्तरीय क्राइसिस मैनेजमेंट समितियों की बैठकें लें। हर गाँव में ग्राम स्तरीय क्राइसिस मैनेजमेंट समूह गठित किए जायें तथा उन्हें सक्रिय किया जाये।इससे पहले ग्रामीण अंचल के क्वारेंटाइन सेंटर और कोविड केयर सेंटरों का निरीक्षण और वहाँ की व्यवस्थाओं को प्रभावी बनाने के निर्देश दिए थे। साथ ही कहा था कि  स्वयं भी आकस्मिक रूप से ग्रामीण अंचल के कोविड केयर और क्वारेंटाइन सेंटर (Quarantine Center) का निरीक्षण करें