फिर बढ़ा प्रदेश का मान, नगरीय विकास योजनाओं के सफल क्रियान्वयन पर MP को मिले 3 अवार्ड

Atul Saxena
Published on -

MP News : मध्य प्रदेश का एक बार फिर देश में सम्मान बढ़ा है, नगरीय विकास और म्यूनिसिपल गवर्नेंस के लिये मध्य प्रदेश को 3 स्कॉच अवार्ड प्रदान किए गए हैं। शी-लाउंज महिला सुविधा गृह बनाने के लिये सागर स्मार्ट सिटी, धर्मपुरी सीवेज परियोजना के बेहतर प्रबंधन के लिये मध्य प्रदेश अर्बन डेव्हलपमेंट कम्पनी और प्रधानमंत्री आवास योजना शहरी में उल्लेखनीय कार्य करने के लिये नगरीय विकास एवं आवास विभाग को सिल्वर स्कॉच अवार्ड-2023 से सम्मानित किया गया है। नई दिल्ली में आज 27 मई को आयुक्त नगरीय प्रशासन एवं विकास भरत यादव, प्रधानमंत्री आवास योजना (शहरी) के राज्य मिशन संचालक सतेंद्र सिंह तथा अपर आयुक्त श्रीमती रुचिका चौहान ने पुरस्कार प्राप्त किया।

नगरीय विकास एवं आवास मंत्री भूपेंद्र सिंह ने इस उपलब्धि के लिए पूरी टीम को बधाई दी है। उन्होंने कहा कि देश के हर गरीब नागरिक को पक्का आवास उपलब्ध कराने के उद्देश्य से प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी द्वारा जून-2015 में प्रधानमंत्री आवास योजना (शहरी) आरंभ की गयी थी। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के कुशल नेतृत्व में प्रधानमंत्री आवास योजना-शहरी का मध्य प्रदेश में प्रभावी क्रियान्वयन किया गया है। प्रदेश में योजना के विभिन्न घटक में अभी तक साढ़े 9 लाख से अधिक हितग्राहियों के लिए आवास की स्वीकृति प्राप्त हो चुकी है। इसमें से लगभग साढ़े 6 लाख आवासों का निर्माण पूर्ण हो चुका है।

प्रदेश में योजना की सफलता के लिए राज्य द्वारा किये गये कई नवाचार तथा अपनाई गई प्रभावी रणनीतियों का विशेष योगदान रहा है। भूमिहीन परिवारों को आवासीय भूमि का पट्टा उपलब्ध कराया गया है, जिससे वे योजना के बी.एल.सी. घटक का लाभ लेने से वंचित न रहें। यह छोटे और मझोले शहरों में योजना का सबसे लोकप्रिय घटक है। योजना के ए.एच.पी. घटक में हितग्राहियों को बैंकों से ऋण प्राप्त करने में होने वाली कठिनाई दूर करने के लिए त्रिपक्षीय अनुबंध के माध्यम से नगरीय निकायों की जिम्मेदारी पर हितग्राहियों को सुगमता से ऋण उपलब्ध कराया जा रहा है।

मंत्री ने कहा कि ए.एच.पी. घटक के क्रियान्वयन के लिए भू-स्वामी हक़ पर समयबद्ध अवधि में शासकीय भूमि नगरीय निकायों को उपलब्ध करायी गई है। साथ ही पंजीकृत श्रमिक जो हितग्राही-अंश की पूर्ति करने में सक्षम नहीं होते, उनके लिए योजना में प्रावधानित राशि के अतिरिक्त एक लाख रूपये तक अतिरिक्त अनुदान “मुख्यमंत्री भवन एवं संनिर्माण कर्मकार आवास” योजना से उपलब्ध कराया जा रहा है।

उल्लेखनीय है कि मध्य प्रदेश को अक्टूबर-2022 में प्रधानमंत्री आवास योजना (शहरी) में सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करने वाला दूसरा राज्य तथा अन्य योजनाओं से अभिसरण, आईईसी (प्रचार-प्रसार) गतिविधियों का संचालन एवं राज्य स्तरीय तकनीकी प्रकोष्ठ के प्रदर्शन में भी सर्वश्रेष्ठ राज्य का पुरस्कार केन्द्रीय आवासन और शहरी कार्य मंत्रालय द्वारा दिया गया था। साथ ही गोहद और जोबट सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करने वाली नगर पालिका और नगर परिषद तथा देवास सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करने वाला दूसरा नगर निगम का पुरस्कार भी केन्द्र सरकार द्वारा प्रदान किया गया था।

इसके पूर्व भी प्रदेश में योजना के प्रभावी क्रियान्वयन के लिए जुलाई-2022 में मध्य प्रदेश को सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करने वाले राज्य का PMAY Empowering India Awards 2022 प्राप्त हुआ है। साथ ही 24 जून 2022 को केन्द्रीय आवासन और शहरी कार्य मंत्रालय द्वारा “खुशियों का आशियाना” प्रतिस्पर्धा में मध्य प्रदेश को 4 पुरस्कार दिए गए हैं। जनवरी-2021 में मध्य प्रदेश को प्रधानमंत्री आवास योजना (शहरी) के क्रियान्वयन के लिए “सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करने वाले राज्य” का दूसरा पुरस्कार और अन्य श्रेणी में 3 पुरस्कार, इस प्रकार कुल 4 पुरस्कार केन्द्रीय आवासन और शहरी कार्य मंत्रालय द्वारा दिए गए थे।


About Author
Atul Saxena

Atul Saxena

पत्रकारिता मेरे लिए एक मिशन है, हालाँकि आज की पत्रकारिता ना ब्रह्माण्ड के पहले पत्रकार देवर्षि नारद वाली है और ना ही गणेश शंकर विद्यार्थी वाली, फिर भी मेरा ऐसा मानना है कि यदि खबर को सिर्फ खबर ही रहने दिया जाये तो ये ही सही अर्थों में पत्रकारिता है और मैं इसी मिशन पर पिछले तीन दशकों से ज्यादा समय से लगा हुआ हूँ.... पत्रकारिता के इस भौतिकवादी युग में मेरे जीवन में कई उतार चढ़ाव आये, बहुत सी चुनौतियों का सामना करना पड़ा लेकिन इसके बाद भी ना मैं डरा और ना ही अपने रास्ते से हटा ....पत्रकारिता मेरे जीवन का वो हिस्सा है जिसमें सच्ची और सही ख़बरें मेरी पहचान हैं ....

Other Latest News