MP News : कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष जीतू पटवारी का आरोप, सरकारी संपत्ति बेचने की तैयारी कर रही एमपी सरकार, आर्थिक स्थिति पर श्वेत पत्र जारी करने की मांग

मध्य प्रदेश सरकार प्रदेश की जनता को सरकारी खजाने की असलियत बताए, पिछले 20 साल में लिए गए कर्ज की स्थिति और देनदारी का खुलासा भी करे, मध्य प्रदेश कांग्रेस कमेटी यह मांग भी करती है कि प्रदेश की आर्थिक स्थिति पर प्रदेश की भाजपा सरकार तत्काल श्वेतपत्र जारी करे।

jitu patwari

MP News : मध्य प्रदेश कांग्रेस के अध्यक्ष जीतू पटवारी ने सोशल मीडिया के माध्यम से एक बड़ा खुलासा किया है उन्होंने X पर लिखा- एक चौंकाने वाली जानकारी सामने आ रही है, 3 लाख 73 हजार करोड़ के कर्ज में डूबी मध्य प्रदेश सरकार देश के दूसरे राज्यों में मौजूद एमपी के अलग-अलग विभागों की संपत्ति बेचने और उसे किराए पर देने की तैयारी कर रही है।

कांग्रेस अध्यक्ष का आरोप, दूसरे राज्यों में मौजूद मप्र की संपत्ति बेचना चाहती है सरकार  

जीतू पटवारी ने दावा किया कि वित्त विभाग ने सभी विभागों को पत्र लिखकर जानकारी भी मांग ली है, पूछा जा रहा है कि किस राज्य में कितनी संपत्ति किस रूप में है, उसका मूल्य क्या है? अगर किसी प्रॉपर्टी का कोर्ट में केस चल रहा है, किसी तरह का विवाद है तो इसकी भी जानकारी दी जाए।

मीडिया रिपोर्ट्स बता रही है कि इस कवायद का मकसद मध्य प्रदेश के बाहर मौजूद विभिन्न विभागों की संपत्ति का डेटा जुटाना है। ताकी, उसे बेचकर या किराये पर देकर राशि जुटाई जा सके, संपत्ति के मौजूदा स्वरूप की जानकारी देने के साथ, उसके मौजूदा मूल्य की जानकारी भी चाही गई है।

जीतू पटवारी का तंज, मोहन जी आपने भी मोदीजी की परंपरा का पालन शुरू कर दिया

जीतू पटवारी ने आगेल लिखा मुख्यमंत्री डॉ मोहन यादव जी, आखिरकार आपने भी मोदीजी की परंपरा का पालन करना शुरू कर ही दिया, कर्ज ले-लेकर जब कर्ज मिलना ही बंद हो गया, तो प्रदेश की संपत्ति बेचने का विकल्प खोज लिया गया, समझ नहीं आ रहा है आपके आर्थिक सलाहकार कौन हैं?

अहंकार में डूबी भाजपा यह भूल रही है कि इतिहास में भविष्य को आर्थिक रूप से सुरक्षित रखने के लिए ऐसे निवेश/अनुबंध किए जाते थे, आज जबकि मध्य प्रदेश में जन्म लेने वाले बच्चे पर भी 50 हजार से अधिक का कर्ज होता है, आप ऐसा निर्णय कैसे कर सकते हैं?

जनता के मन में एक स्वाभाविक सवाल जरूर सामने आएगा कि जमीनों की खरीदी-बिक्री के इस बड़े खेल में आपका “जमीनी-अनुभव” काम आए, क्या इसीलिए इस विकल्प को चुना गया है? जनता यह भी मानती है कि चंद पूंजीपतियों को लाभ पहुंचाने की नीयत से इस खेल में भी 1000% गड़बड़ी होगी।

मप्र कांग्रेस ने सरकार से श्वेत पत्र जारी करने की मांग की  

जीतू पटवारी ने लिखा –  मेरी स्पष्ट मान्यता और मांग है कि आर्थिक अराजकता के गहने और गंभीर दौर में फंस चुकी मध्य प्रदेश सरकार प्रदेश की जनता को सरकारी खजाने की असलियत बताए, पिछले 20 साल में लिए गए कर्ज की स्थिति और देनदारी का खुलासा भी करे, मध्य प्रदेश कांग्रेस कमेटी यह मांग भी करती है कि प्रदेश की आर्थिक स्थिति पर प्रदेश की भाजपा सरकार तत्काल श्वेतपत्र जारी करे।


About Author
Atul Saxena

Atul Saxena

पत्रकारिता मेरे लिए एक मिशन है, हालाँकि आज की पत्रकारिता ना ब्रह्माण्ड के पहले पत्रकार देवर्षि नारद वाली है और ना ही गणेश शंकर विद्यार्थी वाली, फिर भी मेरा ऐसा मानना है कि यदि खबर को सिर्फ खबर ही रहने दिया जाये तो ये ही सही अर्थों में पत्रकारिता है और मैं इसी मिशन पर पिछले तीन दशकों से ज्यादा समय से लगा हुआ हूँ....पत्रकारिता के इस भौतिकवादी युग में मेरे जीवन में कई उतार चढ़ाव आये, बहुत सी चुनौतियों का सामना करना पड़ा लेकिन इसके बाद भी ना मैं डरा और ना ही अपने रास्ते से हटा ....पत्रकारिता मेरे जीवन का वो हिस्सा है जिसमें सच्ची और सही ख़बरें मेरी पहचान हैं ....

Other Latest News