MP Weather : मावठा गिरने से मौसम में बदलाव, 2 संभागों और कई जिलों में बारिश की संभावना, बंगाल की खाड़ी की नमी का असर, जानें पूर्वानुमान

MP Weather Update : चक्रवाती तूफान और अरब सागर पर तैयार हुए लो प्रेशर का असर मध्यप्रदेश पर देखने को मिल रहा है।आज 15 दिसंबर गुरुवार को कई जिलों में बूंदाबादी के आसार जताए गए हैं। बड़वानी शुजालपुर शाजापुर, गैरतगंज रायसेन, सागर श्यामपुर, सीहोर, उज्जैन के साथ साटीका में बारिश रिकॉर्ड की गई है। वहीं बीते 24 घंटे के दौरान प्रदेश के भोपाल, इंदौर, उज्जैन, नर्मदा पुरम और सागर संभाग के कई जिलों में बारिश रिकॉर्ड की गई है जबकि 3 संभाग में मौसम शुष्क रिकॉर्ड किया गया है।

इन जिलों में हल्की बारिश और बूंदाबांदी की संभावना

प्रदेश में सबसे कम न्यूनतम तापमान 8.8 डिग्री सेल्सियस नौगांव में रिकॉर्ड किया गया है। मौसम विभाग ने आज 15 दिसंबर 2022 को इंदौर संभाग के कई जिले सहित बैतूल हरदा जिले में हल्की बारिश और बूंदाबांदी की संभावना जताई है। इसके अलावा जबलपुर और नर्मदा पुरम संभाग में भी बारिश का अलर्ट जारी किया गया है। मावठ का असर ग्वालियर संभाग में भी नजर आ रहा हैं। 16 और 17 दिसंबर को पंजाब में शीतलहर की संभावना जताई गई है। जिसके कारण मध्य प्रदेश और छत्तीसगढ़ पर भी इसका असर देखने को मिलेगा।

2 दिन कई जिलों में हुई बौछार

2 दिन कई जिलों में हुई बौछार की वजह से तापमान में भारी गिरावट रिकॉर्ड की गई है। कई जिलों में तापमान में 5 से 6 डिग्री की कमी रिकॉर्ड की गई है। कई जिलों में सर्दी बढ़ रही है। इसके अलावा उड़ीसा पर बना चक्रवात कमजोर हो गया है जबकि केरल कर्नाटक के तट पर बना कम दबाव का क्षेत्र अरब सागर में आगे बढ़ रहा है। जिसके कारण इंदौर और नर्मदापुरम में बारिश का अलर्ट जारी किया गया है। मध्य प्रदेश मौसम विभाग की माने तो 28 दिसंबर को फिर से मौसम में बदलाव देखने के आसार नजर आ रहे हैं। कई जिलों में बूंदाबांदी देखी जा सकती है। वहीं ग्वालियर चंबल में तापमान में भारी गिरावट देखी जाएगी।

राजधानी भोपाल में छटने लगे बादल

हालाकि राजधानी भोपाल सहित कई जिलों में आसमान में बादल छटने लगे हैं। कई जिलों में तापमान में भारी गिरावट देखी गई है। जिसके कारण सर्द हवा चल रही है। मौसम विभाग के पूर्वानुमान के अनुसार गुरुवार को भोपाल में आंशिक रूप से बादल छाए रहेंगे। हालांकि मौसम शुष्क बना रहेगा। हवा की रफ्तार 12 किलोमीटर प्रति घंटे हो सकती है। दिन का तापमान सामान्य से 2 डिग्री कम रिकॉर्ड किया गया है।

इन जिलों में तापमान में वृद्धि

भोपाल, उज्जैन, सागर, ग्वालियर संभाग के जिलों में न्यूनतम तापमान में वृद्धि देखी गई है। बीते 24 घंटे में अन्य जिलों की बात करें तो रीवा में तापमान 10.4 डिग्री सेल्सियस, खजुराहो में 10.5 डिग्री सेल्सियस, ग्वालियर में 10.7 डिग्री सेल्सियस, उमरिया में 12.8 डिग्री सेल्सियस, नरसिंहपुर में 13 डिग्री सेल्सियस, जबलपुर में 14 डिग्री सेल्सियस, रायसेन से 14 डिग्री सेल्सियस, खंडवा में 14 डिग्री सेल्सियस, सिवनी में 14.6 डिग्री रिकॉर्ड किया गया।

उड़ीसा में एक प्रति-चक्रवात का MP पर असर

अन्य सक्रिय प्रणाली की बात करें तो प्रदेश में कहीं-कहीं बारिश का असर देखने को मिल रहा है। उड़ीसा में एक प्रति-चक्रवात सक्रिय हुआ है। जिसके कारण बंगाल की खाड़ी में नमी आने की वजह से बादल छाए हुए हैं। वातावरण में नमी के कारण कई जिलों में सुबह कोहरा छाने की संभावना जताई गई है।