Now-preparing-for-Hamidia's-rejuvenation

भोपाल| प्रदेश के बड़े अस्पतालों में शुमार हमीदिया और सुल्तानिया अस्पताल की दशा अब सुधरने जा रही है। दरअसल भोपाल की संभागायुक्त कल्पना श्रीवास्तव के महत्वाकांक्षी मिशन” गांधी मेडिकल कॉलेज को देश के सर्वश्रेष्ठ 25 चिकित्सा महाविद्यालय की श्रेणी में शामिल करना” के अंतर्गत गांधी मेडिकल कॉलेज के अनुषांगिक अस्पतालों हमीदिया और सुल्तानिया जनाना की सूरत और सीरत बदलने की तैयारी शुरू हो गई है। 

शनिवार को गांधी मेडिकल कॉलेज के कॉन्फ्रेंस रूम में हुई एक बैठक में संभागायुक्त श्रीवास्तव ने इस तरह के निर्देश दिए। प्रारंभिक चरण में हमीदिया अस्पताल के बाहर अतिक्रमण को हटाना, अकरम के बाद हटी हुई जमीन पर वृक्षारोपण के माध्यम से सौन्दरीकरण का कार्य, अस्पताल के इर्द-गिर्द लगे हुए होर्डिगस जो अस्पताल की खूबसूरती में बाधा बनते हैं उन्हें हटाना, और अस्पताल की खाली पड़ी हुई दीवारों पर खूबसूरत पेंटिंग के माध्यम से संदेश देने के कार्य सोमवार तक पूरे किए जाने के निर्देश संभागायुक्त ने दिए। इसके साथ-साथ हमीदिया अस्पताल में और गांधी मेडिकल कॉलेज में एंट्री के लिए वैकल्पिक गेट बनाए जाने के निर्देश भी संभागायुक्त ने दिए। कल्पना में दोनों अस्पतालों के प्रबंधन को निर्देश दिए कि अस्पताल की व्यवस्थाओं के सुचारू संचालन के लिए नवाचार शुरू करें। अगले चरण में अस्पताल के अंदर की व्यवस्थाओं को सुधारने के साथ-साथ शैक्षणिक व्यवस्थाओं में किस तरह से ऊंचाइयों को छुआ जाए इस विषय पर छात्रों और शिक्षकों के साथ एक बैठक फिर होगी। बैठक में सुल्तानिया अस्पताल के अधीक्षक डॉ अरुण कुमार और हमीदी अस्पताल के अधीक्षक डॉ अरुण श्रीवास्तव भी मौजूद थे|