प्रधानमंत्री का स्वागत करने वालों का RTPCR अनिवार्य, मंत्री-विधायकों की 48 घंटे पहले की नेगेटिव रिपोर्ट के साथ एंट्री

राज्यपाल-मुख्यमंत्री समेत 110 मंत्री-विधायकों की होगी जांच, मंत्रालय, बीजेपी कार्यालय व जेपी अस्पताल में विशेष कैंप लगाए गए

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल आ रहे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का स्वागत करने वालों का RT- PCR जरूरी होगा।प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी सोमवार यानि 15 नवंबर को भोपाल आएगे, उनके स्वागत और कार्यक्रम के दौरान साथ रहने वाले करीबन 110 आमंत्रित मंत्री-विधायकों और अफसरों को यह टेस्ट करना अनिवार्य किया गया है, यह सभी एयरपोर्ट से लेकर हेलिपेड और कार्यक्रम के दौरान मंच और उसके आसपास रहेंगे। राज्यपाल मंगूभाई पटेल और मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान सहित 110 लोगों की लिस्ट बनाई गई है।

SAHARA के एक और एजेंट ने की आत्महत्या, कंपनी नही कर रही थी भुगतान

 

प्रधानमंत्री के आगमन से पहले SPG (स्पेशल प्रोटेक्शन ग्रुप) कोरोना की RT-PCR रिपोर्ट चैक करेंगे। रिपोर्ट निगेटिव होने पर ही प्रवेश की अनुमति दी जाएगी। इसके लिए तीन स्थानों (मंत्रालय, बीजेपी कार्यालय व जेपी अस्पताल) पर विशेष कैंप लगाए गए हैं। दरअसल प्रधानमंत्री की सुरक्षा और कोविड प्रोटोकॉल के तहत कोरोना का यह टेस्ट जरूरी किया गया है। ऐसे सभी लोगों को 48 घंटे पहले तक की कोरोना की निगेटिव रिपोर्ट जरूरी है, जो प्रधानमंत्री की सुरक्षा के दायरे के अंदर रहेंगे।

Wedding Video : राजकुमार राव ने घुटनों पर बैठकर रोमांटिक अंदाज में पत्रलेखा को पहनाई रिंग

15 नवंबर को एयरपोर्ट पर प्रधानमंत्री के आगमन पर राज्यपाल और मुख्यमंत्री सहित 8 मंत्री-अफसर अगवानी करेंगे। इनके अलावा विधानसभा अध्यक्ष गिरीश गौतम, विधायक रामेश्वर शर्मा, मुख्य सचिव इकबाल सिंह बैंस, डीजीपी विवेक जौहरी व दो सैन्य अफसर यहां मौजूद रहेंगे। स्टेट प्रोटोकॉल के मुताबिक एयरपोर्ट पर वित्त मंत्री जगदीश देवड़ा बतौर मिनिस्टर इन वेटिंग प्रधानमंत्री की अगवानी करेंगे, जबकि चिकित्सा शिक्षा मंत्री विश्वास सारंग को राज्य सरकार की तरफ से प्रधानमंत्री के भोपाल से रवाना होने के दौरान मिनिस्टर इन वेटिंग नियुक्त किया है।

580 साल बाद सदी का सबसे लंबा चंद्र ग्रहण, भारत में दिखेगा नजारा, राशियों पर भी असर

जनजातीय सम्मेलन के मंच पर प्रधानमंत्री के अलावा राज्यपाल, मुख्यमंत्री और प्रदेश अध्यक्ष वीडी शर्मा के अलावा 13 आदिवासी नेता मौजूद रहेंगे, जबकि मोदी का स्वागत करने वालों की सूची में बीजेपी प्रदेश प्रभारी पी मुरलीधर राव, राष्ट्रीय महासचिव कैलाश विजयवर्गीय सहित सभी मंत्री शामिल हैं। वही मंच पर केंद्रीय मंत्री अर्जुन मुंडा, नरेंद्र सिंह तोमर, धर्मेंद्र प्रधान, ज्योतिरादित्य सिंधिया, वीरेंद्र खटीक, एल मुरुगन, फग्गन सिंह कुलस्ते और प्रहलाद पटेल मौजूद रहेंगे। इस पहली पंक्ति में राज्यपाल, मुख्यमंत्री और प्रदेश अध्यक्ष के अलावा शिवराज कैबिनेट के सदस्य व मीना सिंह, बिसाहूलाल सिंह, विजय शाह और प्रेम सिंह पटेल बैठेंगे। दूसरी पंक्ति में आदिवासी नेता व सांसद सुमेर सिंह सोलंकी, संपतिया उईके, गजेंद्र सिंह पटेल, दुर्गादास उईके, गुमान सिंह डामोर, पूर्व मंत्री ओमप्रकाश धुर्वे और बीजेपी एसटी मोर्चा के अध्यक्ष कलसिंह भाभर बैठेंगे।

प्रधानमंत्री का कार्यक्रम

दोपहर 12:35 भोपाल एयरपोर्ट पहुंचेंगे।
1 बजे जंबूरी मैदान पर बनाए गए हेलीपैड पर आएंगे।
1:05 बजे जनजातीय सम्मेलन कार्यक्रम स्थल पहुंचेंगे।
1: 12 बाजे प्रदर्शनी का उद्घाटन और स्व-सहायता समूहों के उत्पादों का अवलोकन करेंगे। इस दौरान प्रथम विधानसभा के लिए निर्वाचित सदस्य लक्ष्मीनारायण गुप्ता का सम्मान करेंगे।
1:20 बजे प्रधानमंत्री मंच पर आएंगे। यहां करीब 20 मिनट तक स्वागत कार्यक्रम चलेगा।
1:40 बजे राशन आपके द्वार योजना के तहत वाहन की चाबी सौंपेंगे। विशेष पिछड़ी जनजाति वर्ग के तीन चयनित शिक्षकों को नियुक्ति पत्र देंगे। इसके साथ अन्य योजनाओं का शुभारंभ करेंगे।
2 बजे मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान का संबोधन होगा।
2:15 बजे प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी का संबोधन होगा। इसके बाद आभार व्यक्त मंत्री बिसाहूलाल सिंह करेंगे।
3 बजे प्रधानमंत्री बरकतउल्ला विश्वविद्यालय स्थित हेलीपैड पहुंचेंगे।
3:10 बजे रानी कमलापति रेलवे स्टेशन पहुंचेंगे। लोकार्पण के बाद स्टेशन का अवलोकन करेंगे।
3:20 बजे केंद्रीय रेल मंत्री अश्विनी वैष्णव और मुख्यमंत्री का संबोधन होगा।
3: 30 बजे प्रधानमंत्री को संबोधन होगा।
PM के संबोधन के बाद एक मिनिट में रेलवे बोर्ड के चेयरमैन आभार प्रदर्शन करेंगे।
शाम 4 बजे प्रधानमंत्री एयरपोर्ट पहुंचेंगे और दिल्ली रवाना हो जाएंगे।