राजधानी की सुरक्षा व्यवस्था पर खड़े हुए सवाल, हर दिन लूट की वारदात

question-of-standing-on-the-security-system-of-the-capital

भोपाल। राजधानी में बीते तीस दिनों के भीतर 17 लूट की वारदातें सामने आ चुकी हैं। औसतन हर 18 घंटे में एक लूट की वारदात दर्ज की जा रही है। वहीं ताबड़ तोड़ लूट की घटनाओं के बाद में शहर की सुरक्षा व्यवस्था पर सवाल खड़े होने लगे हैं। पुलिस के तमाम प्रयास लुटेरों के आगे नाकाम साबित हो रहे हैं। बीती रात बजरिया इलाके में युवक के साथ में मारपीट कर लूटपाट करने का एक और मामला सामने आया है। 

बजरिया पुलिस के अनुसार नीरज रैकवार पिता कैलाश रैकवार (32) गली नंबर-7 द्वारिका नगर स्टेशन बजरिया पर रहता है। उसकी भोपाल जीआरपी के सामने पान की गुमठी है। नीरज ने बताया कि उसे चश्मा बनाना था। नतीजतन वह अपने दोस्त विकास के साथ बाइक से भारत टॉकीज जाने के लिए निकला था। नीरज रैकवार ने चांदबड़ के पास एटीएम से 6 हजार रुपए की नकदी निकाली थी। नीरज और विकास कपड़ा मील मंदिर के पास चाय की गुमठी में चाय पी रहे थे। भीड़-भाड़ के बीच उनके पास तीन युवक आए थे। तीनों ने कहा था कि तुमसे जरूरी बात करनी है। इसके बाद तीनों बदमाश उन्हें बात करने का कहते हुए पीछे मैदान पर ले गए। वहां बिना कुछ कहे बदमाशों ने लात-घूसों से मारपीट शुरू कर दी। इस दौरान बदमाशों ने नीरज और विकास का पसज़् और मोबाइल छीन लिया था। पुलिस ने बताया कि नीरज और विकास सीधे लड़के हैं। पुलिस को उक्त मामले में सीसीटीवी फुटेज मिले गए है। पुलि ने दावा किया है जल्द आरोपियों को गिरफ्तार केर लिया जाएगा। 

– नोटो से भरा सूटकेस लेकर भागा बदमाश बेसुराग

एमपी नगर स्थित शिवाजी नगर में सोमवार रात को शेषमणी पाठक निवासी कमला नगर से तीन नकाब पोश बदमाशों ने नाक पर चाकू मारने के बाद में नोटो से भरा बैग छीना था। फरियादी के सहास और लोगोंं की मदद से एक आरोपी सालम को मौके पर पकड़ लिया गया था। इस आरोपी की निशानदेही पर पुलिस ने अनस नाम के युवक को पकड़ लिया था। हालांकि नकदी से भरा सूटकेस लेकर भागा एक बदमाश पुलिस गिरफ्त से दूर है। एसपी संपत उपाध्याय के अनुसार तीन टीमें फरार आरोपी की तलाश में जुटी हैं। वहीं शाहजहांनाबाद थाना इलाके में इंदौर के किराना व्यापारी और ब्रोकर कैलाश चंद्र श्रिवास्तव से साढ़े सात लाख रूपए लूटने वालों को भी पुलिस नहीं तलाश सकी है।