सरताज सिंह ने लोकसभा चुनाव लड़ने से किया इंकार, कमलनाथ को दी यह सलाह

Sartaj-Singh-refuses-to-contest-Lok-Sabha-elections

भोपाल।

बीजेपी से कांग्रेस में शामिल हुए वरिष्ठ नेता सरताज सिंह ने विधान चुनाव में हार के बाद लोकसभा चुनाव लड़ने से इंकार कर दिया है। साथ ही उन्होंने कमलनाथ सरकार को सलाह दी है कि कांग्रेस के संगठन को मजबूत किया जाए। वही उन्होंने कहा कि विधानसभा चुनाव में ज्यादा पैसा खर्च हुआ है, जिस पर ध्यान देने की जरुरत है। लोकसभा चुनाव में इस बात को ध्यान रखा जाए।

दरअसल, गुरुवार को मुख्यमंत्री कमलनाथ ने हारे हुए प्रत्याशियों के साथ बैठक की थी और हार का कारण जाना था। इस बैठक में पूर्व नेता प्रतिपक्ष अजय सिंह, पूर्व प्रदेशाध्यक्ष अरुण यादव, पूर्व केन्द्रीय मंत्री सुरेश पचौरी के साथ वरिष्ठ नेता सरताज सिंह भी शामिल हुए थे। बैठक के बाद मीडिया से चर्चा के दौरान सिंह ने कहा कि मैं अभी उस स्थिति में नहीं हूं कि मैं लोकसभा चुनाव लड़ सकूं, लेकिन मैंने फेसला लिया है कि मैं पार्टी की मदद करुंगा, इसके लिए मैंने अभी से अपने विधानसभा क्षेत्र में काम करना शुरु कर दिया है।

 वही उन्होंने कहा कि मैं कमलनाथ से व्यक्तिगत रूप से मिलूंगा और उन्होंने मुझे आमंत्रित किया है, लेकिन जब मैं कमलनाथ से मुलाकात करूंगा तो उन्हें सलाह दूंगा कि लोकसभा चुनाव से पहले कांग्रेस के संगठन को मजबूत करने की ज्यादा आवश्यकता है। 

इसके साथ ही उन्होंने विधानसभा चुनाव में खर्च हुए ज्यादा पैसे को लोकतंत्र के लिए खतरा बताया है। उन्होंने कहा कि पैसे का उपयोग बहुत ज्यादा हुआ है ।यह किसी एक विधानसभा सीट की बात नहीं है, बल्कि यह पूरे मध्यप्रदेश की है। यह बड़ा ही गंभीर विषय है ।इससे हमारा लोकतंत्र नहीं बच पाएगा और आने वाले लोकसभा चुनाव में इसका असर पड़ेगा।