बड़ा फैसला- MP के इस गांव को आदर्श बनाएगी शिवराज सरकार, ये 4 बनेंगे ‘आदर्श शहर’

shivraj singh

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। MP उपचुनाव (MP By-election) में बंपर जीत के साथ सत्ता में दोबारा लौटी मध्यप्रदेश (Madhya Pradesh) की शिवराज सरकार (Shivraj Government) एक के बाद एक बड़े फैसले ले रही है। अब सरकार ने फैसला किया है कि वह सीहोर जिले (Sehore District) के नसरुल्लागंज के मनासा गांव को ना सिर्फ आदर्श ग्राम बनाएगी बल्कि वही सीहोर, शाहगंज, बुदनी और नसरुल्लागंज को भी आदर्श शहर बनाया जाएगा।

दरअसल आज सीहोर पहुंचे मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान (Shivraj Singh Chauhan) ने कहा कि नसरुल्लागंज के मनासा गांव को आदर्श ग्राम बनाया जाएगा और रोजगार (Employment) की भी ऐसी व्यवस्था की जाएगी जिससे कोई भी परिवार गरीब नहीं रहेगा। मुख्यमंत्री ने कहा कि गांव का कोई भी परिवार एक रुपए किलो के खाद्यान्न से वंचित ना हो। उन्होंने निर्देश दिए कि सभी पात्र परिवारों को राशन मिलना सुनिश्चित किया जाए। वह समय-समय पर यहां के कार्यों का मूल्यांकन करेंगे और अधिकारियों को निर्देश दिए कि वे मनासा को आदर्श ग्राम बनाने की समीक्षा करें।मनासा ने हमेशा भरपूर प्यार दिया है और उनके समर्थन के दृष्टिगत यहां के 70 आवासहीन परिवारों को प्रधानमंत्री आवास योजना के आवास दिए जाएंगे।

वही मुख्यमंत्री ने अधिकारियों को निर्देश दिए हैं कि सीहोर, शाहगंज, बुदनी और नसरुल्लागंज को आदर्श शहर बनाने की लिए रोडमेप बनाकर अमल प्रारम्भ करें। क्षेत्र की सभी सड़कों के स्तर को जांचा जाए एवं मजबूतीकरण, चौंड़ीकरण आदि कार्यों का मास्टर प्लान तैयार करें। जिन सड़कों की हालत ज्यादा खराब है उनको शीघ्र ही ठीक करवाएं। उन्होंने कहा कि निर्माण कार्यों में गुणवत्ता से किसी भी प्रकार का समझौता मंजूर नहीं किया जाएगा

उन्होंने नगरीय प्रशासन विभाग के उच्च अधिकारियों को 15 दिन के भीतर एक मास्टर प्लान तैयार करने के लिए निर्देशित किया जिसमें विकास के सभी आयामों पेयजल, बिजली एवं सड़क सड़क पर कार्य किया जाए। उन्होंने यह भी कहा कि सभी कार्यों की गुणवत्ता पर अधिकारियों को विशेष ध्यान देना है।

अधिकारियों को यह निर्देश भी दिए

  • स्वसहायता समूह की गतिविधियों को और बेहतर बनाने के लिए महिलाओं को विभिन्न कामों का प्रशिक्षण देने सहित वित्तपोषण और स्व सहायता भवन बनाने के निर्देश दिए।
  • मुख्यमंत्री ने राजस्व रिकॉर्ड को दुरुस्त करने के लिए शिविर लगाकर पट्टों का व्यवस्थापन करने के भी निर्देश दिए।
  • मुख्यमंत्री चौहान ने कक्षा नौवीं से बारहवीं तक और कॉलेज की पढ़ाई करने वाले बच्चों की कोचिंग सहित अन्य सभी व्यवस्थाएं करने के लिए योजना वार सर्वे करने के निर्देश दिए हैं।
  • मुख्यमंत्री चौहान ने मनासा में सीप नदी पर घाट निर्माण के कार्य तुरंत प्रारंभ करने और गोरखपुर तक के मार्ग पर पुल निर्माण करने की योजना बनाने के ब्रिज कॉरपोरेशन को निर्देश दिए।
  • गांव में स्वागत द्वार और मंदिर निर्माण भी कराने के निर्देश दिए।
  •  नगरीय प्रशासन विभाग के उच्च अधिकारियों को 15 दिन के भीतर एक मास्टर प्लान तैयार करने के लिए निर्देशित किया जिसमें विकास के सभी आयामों पेयजल, बिजली एवं सड़क सड़क पर कार्य किया जाए।
  • मुख्यमंत्री ने संभाग आयुक्त कवीन्द्र कियावत (Divisional Commissioner Kavindra Kiyawat) को निर्देशित किया कि जिले में जल्द से जल्द सर्वे कराएं और पेयजल से वंचित घरों का चिन्हांकन कर सभी को पेयजल उपलब्ध कराना सुनिश्चित करें।

  • स्व-सहायता समूहों को उचित प्रशिक्षण देकर अधिक मजबूत एवं आत्मनिर्भर बनाएं। इसी प्रकार आईटीआई से ट्रेनिंग प्राप्त युवाओं को जिले में ही रोजगार उपलब्ध कराने का प्रयास करें।
  • उन्होंने बुदनी पुल निर्माण एजेंसी की जांच करवाने के निर्देश संबंधितों को दिए। साथ ही घाटों की मरम्मत एवं नए घाटों के निर्माण कार्यों की समीक्षा करने के निर्देश दिए।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here