VIDEO: गोपाल भार्गव के बयान पर मंत्री गोविन्द सिंह का पलटवार, फ्लोर टेस्ट पर कही यह बात

VIDEO--Minister-Govind-Singh's-counter-attack-on-Gopal-Bhargava's-statement

भोपाल।

लोकसभा के अंतिम चरण के वोटिंग के साथ ही विभिन्न चैनलों की तरफ से  आए एग्जिट पोल ने राजनैतिक गलियारों में हलचल मचा दी है। एक्जिट पोल के अनुसार देश में बीजेपी की सरकार बनने जा रही, हालांकि कांग्रेस ने पोल के नतीजों को खारिज करते हुए 23  मई को परिणाम के बाद सच्चाई सामने आने की बात कही है। वही एमपी में मिल रही 24 -26 सीटों के बाद बीजेपी नेताओं द्वारा फिर सरकार  बनाने के दावे किए जा रहे है। इस बीच नेता प्रतिपक्ष गोपाल भार्गव ने कमलनाथ सरकार से विधानसभा में बहुमत साबित करने की मांग की जिस पर कमलनाथ सरकार के मंत्री ने पलटवार किया है। उन्होंने कहा है कि जल्द ही प्रदेश में विधानसभा सत्र होने वाला है। विधानसभा में बहुमत सिद्ध करेंगे। 

दरअसल, आज मीडिया से चर्चा के दौरान गोपाल भार्गव ने सरकार को चेतावनी देते हुए कहा कि  यदि  सरकार सत्र नहीं बुलाती है तो विपक्ष राज्यपाल को पत्र लिखकर सत्र की मांग करेगा। जिस पर कमलनाथ सरकार में सहकारिता मंत्री डॉ गोविंद सिंह ने पलटवार करते हुए कहा है कि वो पत्र लिखते या नही तब भी हम सत्र बुलाते ही।हम जल्द ही प्रदेश में विधानसभा सत्र बुलाने वाले है। विधानसभा में बहुमत भी सिद्ध करेंगे। सरकर का काम चलना है. लोगो का वेतन देना है, विकास करना है।गोपाल भार्गव के कहने से सरकार नही चलती है। सरकार नियम कानून से चलती है । जिस दिन ये सत्ता में आ जाएंगे उस दिन मान लेंगे नेता है भार्गव।अगर बहुमत साबित करना होता तो बीजेपी पहले ही कर लेती। राज्यपाल ने सबकों मौका दिया था।

वही उन्होंने पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज के बयान एमपी को पश्चिम बंगाल नही बनने देने पर सिंह ने कहा कांग्रेस की सरकार रहते हुए किसी की हत्या नही हुई।अपराधी कोई भी हो उस पर कार्रवाई की जाती है। प्रदेश में सभी जगह सुरक्षा प्रदान की गई है।बीजेपी कार्यकर्ता के हत्या मामले में भी आरोपियों के विरुद्ध कठोर कार्यवाही होगी।सरकार कोई हत्या नही करती, असामाजिक तत्व होने पर ये करते है।साथ ही उन्होंने शिवराज द्वारा हत्या के पीछे विधायक तुलसी सिलावट के गुंडों का हाथ होने पर कहा कि  शिवराज ने 15  सालों में गुंडों पैदा कर रखे है। सरपंचों को देख बीजेपी ने गुंडे बैठा दिए है और अब वही वसूली कर रहे है। सभी पर आचार सहिता समाप्त होने के बाद कार्यवाही होगी ।बीजेपी के अवैध काम-धंधे करने वालो पर भी कार्रवाई की जाएगी।साथ ही उन्होंने कहा कि 15  साल सीएम रहने के बाद उन्हें इस तरह की भाषा का इस्तेमाल नही करना चाहिए।आरएसएस से ट्रेनिंग लेकर जो वे भाषा सीखे है इस पर शर्म आनी चाहिए।

एक्जिट पोल पर बोले

वही उन्होंने एक्जिट पोल के नतीजों को लेकर सिंह ने कहा कि एग्जिट पोल में छत्तीसगढ़ में भी बीजेपी की सरकार बनाये जाने का दावा किया गया था ।मोदी की लहर आम जनता के बीच नजर नही आ रही है। मोदी सरकार बनाने में चुनाव आयोग का योगदान है। गड़बड़ी के लिए सरकार योजना बनने का मौका देना है। वही जब उनसे पूछा गया कि आपकी पार्टी 20  प्लस का मिशन लेकर चल रही है तो गोविंद सिंह ने कहा कि मैं ना जादूगर हूं और ना ही ज्योतिष हूं। मैं ना 20  प्लस लेकर चल रहा हूं और ना ही माइनस का। मैं जनता के निर्णय पर विश्वास करता हूं 23  मई को रिजल्ट आएगा और सब साफ हो जाएगा। जो दावा कर रहे है हो सकता है उन्होंने शिवराज सिंह से पढ़कर आए हो और उन्होंने पढ़ा दिया हो।